25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Shravani Mela 2023: श्रीराम ने की थी कांवर यात्रा की शुरुआत, तभी से बनी यह परंपरा

Shravani Mela 2023: झारखंड के देवघर स्थित द्वादश ज्योतिर्लिंगों में एक है बाबाधाम. इसे मनोकामना लिंग भी कहते हैं. कहते हैं कि यहां आकर भक्त जो मांगता है, भोलेनाथ उसे पूरी करते हैं. देवघर में हर साल श्रावणी मेला लगता है, जो एक माह तक चलता है. देश भर से लाखों श्रद्धालु बाबा का जलाभिषेक करने आते हैं. इस साल मलमास की वजह से श्रावण मेला दो माह का है. बाबाधाम की तरह दुमका स्थित बासुकिनाथ मंदिर भी प्रसिद्ध है. देवघर आने वाले श्रद्धालु बासुकिनाथ जरूर जाते हैं. बासुकिनाथ को फौजदारी बाबा भी कहा जाता है. श्रावणी मेला 2023 से जुड़ी हर खबर के लिए बने रहें हमारे (prabhatkhabar.com) के LIVE सेक्शन में..

लाइव अपडेट

डीसी, डीडीसी व एसपी ने दूसरी सोमवारी को बासुकिनाथ में संभाली कमान

बासुकिनाथ में श्रावणी मेला महोत्सव 2023 की दूसरी सोमवारी पर बाबा बासुकिनाथ पर श्रद्धालुओं ने अरघा में जल डाला. डीसी रविशंकर शुक्ला, एसपी अंबर लकड़ा एवं डीडीसी अभिजीत सिन्हा खुद सोमवार को बासुकिनाथ मंदिर पहुंचे. मेला क्षेत्र में घूम-घूमकर कांवरियों की कतार का निरीक्षण किया. जहां भी व्यवस्था में कमी दिखी, उसको दुरुस्त किया. जलाभिषेक करने में महिला-पुरुष कांवरियों को कोई दिक्कत न हो, इसलिए जिले के वरीय पदाधिकारी स्वयं मंदिर प्रांगण में मुस्तैद रहे.

कांवरिया की पिकअप सवारी में एलपी ट्रक ने मारी टक्कर दर्जनों कांवरिया घायल

देवघर से जल चढ़ाकर लौट रहे इचाक प्रखंड के परासी गांव के दर्जनों कांवरिया सड़क दुर्घटना में घायल हो गये. सभी का इलाज बरही एवं सदर अस्पताल हजारीबाग में किया चल रहा है. घायलों में बबन राम की स्थिति नाजुक है. लोकन प्रजापति, बडू समेत अन्य लोग गंभीर रूप से घायल है. परासी से लगभग 18 लोग बोल बम गये थे.

श्रीराम ने की थी कांवर यात्रा की शुरुआत, तभी से बनी यह परंपरा

सावन महीने में कांवर यात्रा ऐतिहासिक है. सुल्तानगंज से पवित्र गंगा का जल भरकर देवघर के बाबा बैद्यनाथ को चढ़ाने से श्रद्धालुओं की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं. मान्यता है कि इस यात्रा की शुरुआत मर्यादा पुरुषोत्तम राम ने की थी. उत्तरवाहिनी सुल्तानगंज से गंगा का जल भरकर पैदल चलकर बाबा बैद्यनाथ की पूजा-अर्चना की थी, तभी से यह परंपरा बनी हुई है. स्कंद पुराण में वर्णित है कि जो नर-नारी कंधे पर कांवर रखकर अपनी यात्रा पूरी करते हैं, उन्हें अश्वमेघ यज्ञ का पुण्य प्राप्त होता है.

पहाड़ी बाबा के जलाभिषेक के लिए भक्तों की उमड़ी भीड़, जानें कब तक खुले रहेंगे पट


आज सावन की दूसरी सोमवारी है. पहाड़ी बाबा के जलाभिषेक के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ी. रविवार आधी रात के बाद से ही बाबा को जल चढ़ाने के लिए भक्त आने लगे थे. भीड़ को देखते हुए आज अरघा सिस्टम से बाबा का जलाभिषेक हो रहा है. सोमवार तड़के 3:30 बजे सरकारी पूजा-अर्चना के बाद पट खोल दिया गया. शाम 7:30 बजे शृंगार पूजा के बाद भक्त दर्शन कर सकेंगे. रात नौ बजे पट बंद कर दिया जायेगा. पहाड़ी बाबा को जलाभिषेक के लिए भक्त मुख्य प्रवेश द्वार के बगल से ऊपर चढ़ेंगे और मुख्य प्रवेश द्वार वाली सीढ़ी से नीचे उतरेंगे.

शिवगंगा इलाके से रंगदारी वसूली में आशीष गैंग के चार सदस्य गिरफ्तार

श्रावणी मेला में शिवगंगा इलाके के अस्थायी दुकानदारों व ई-रिक्शा वालों से रंगदारी वसूली में एसडीपीओ पवन कुमार के नेतृत्व में गठित टीम ने छापेमारी कर आशीष मिश्रा गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया. इनलोगों के पास से छापेमारी टीम ने दो देशी पिस्टल सहित नाइन एमएम की 11 गोली, 7.65 एमएम की नौ गोली, दो मैगजीन, दो चाकू, दो मोबाइल व रंगदारी से वसूल किये गये नगद 26 हजार 980 रुपये बरामद किये.

शिवगंगा में औलोकिक लेजर शो, दिखाया जा रहा बाबा मंदिर व शिवलिंग की स्थापना का इतिहास

देवघर के शिवगंगा सरोवर में श्रद्धालुओं के लिए भक्तिमय मनोरंजन के लिए लेजर शो की शुरुआत की गयी है, जहां बाबा मंदिर से जुड़े इतिहास के साथ-साथ बाबा मंदिर, शिवलिंग की स्थापना और देवघर से जुड़े इतिहास को दर्शाया जा रहा है. इस औलोकिक लेजर शो का प्रसारण श्रद्धालुओं के लिए किया गया है.

तस्वीरें देखने के लिए Click करें

दो श्रावणी मेला स्पेशल ट्रेन आज से

श्रावणी मेला को लेकर रविवार को भी दो मेला स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा की गयी है. मेला के दौरान जसीडीह, देवघर और सुलतानगंज के लिए 17 जुलाई से 30 अगस्त तक दो नयी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया जायेगा. इस आशय की जानकारी देते पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क पदाधिकारी कौशिक मित्रा ने बताया कि गाड़ी संख्या 05574 समस्तीपुर-भागलपुर श्रावणी मेला स्पेशल 17 जुलाई से 30 अगस्त तक रविवार व गुरुवार को छोड़ कर 33 ट्रिप चलेगी. यह समस्तीपुर से भागलपुर के बीच प्रत्येक सोमवार, मंगलवार, बुधवार, शुक्रवार और शनिवार चलेगी. दोपहर 2.30 बजे ट्रेन समस्तीपुर से रवाना होगी. यह शाम 7:50 बजे भागलपुर पहुंचेगी. उसी दिन और 05573 भागलपुर-समस्तीपुर श्रावणी मेला स्पेशल रात 9 बजे भागलपुर से रवाना होकर रात 02:30 बजे समस्तीपुर पहुंचेगी. यह ट्रेन सुलतानगंज बरियारपुर मुंगेर बेगूसराय के रास्ते समस्तीपुर जायेगी. इसके अलावे दूसरी ट्रेन दानापुर से जसीडीह के बीच 17 जुलाई से 29 अगस्त के बीच चलायी जायेगी.

दूसरी सोमवारी पर देवघर में उमड़ा कावरियों का सैलाब

मलमास महीना शुरू होने से पहले सावन की दूसरी सोमवारी आज है. मंगलवार से मलमास शुरू हो जायेगा, इसे देखते हुए देवघर में श्रावणी मेला की दूसरी सोमवारी पर भारी भीड़ उमड़ी है. यूं कहें तो दूसरी सोमवारी पर कावरियों का सैलाब उमड़ पड़ा है. सोमवारी को जलार्पण करने के लिए सुल्तानगंज से पैदल आने वाले कांवरियों का सैलाब रविवार शाम से ही देवघर में उमड़ रहा है. शाम से ही कांवरिया पथ से लेकर शिवगंगा तक कांवरियों की भीड़ बढ़ गयी तथा कांवरियों की कतार धीरे-धीरे रूटलाइन में बढ़ती गयी.

पूरी खबर के लिए Click करें

Shravani Mela 2023: श्रीराम ने की थी कांवर यात्रा की शुरुआत, तभी से बनी यह परंपरा
Shravani mela 2023: श्रीराम ने की थी कांवर यात्रा की शुरुआत, तभी से बनी यह परंपरा 1

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें