26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

देवघर : ड्रग्स, लड़की और दोस्ती, ये तीनों बनीं सिविल इंजीनियरिंग छात्र आर्यन की मौत की वजह

देवघर के नगर थानांतर्गत नंदन पहाड़ के पीछे फिल्टरेशन तालाब में शनिवार, 13 अप्रैल को सिविल इंजियरिंग के छात्र आर्यन मरांडी (24 वर्ष) का शव पुलिस को बरामद हुआ है. आर्यन चाईबासा में सिविल इंजीनियरिंग का छात्र था.

देवघर, आशीष कुंदन : देवघर में सिविल इंजीनियरिंग छात्र आर्यन मरांडी के मौत की गुत्थी सुलझ गई है. इस हत्याकांड में शामिल एक युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है. ज्ञात हो कि 13 अप्रैल को नंदन पहाड़ के पीछे फिलट्रेशन तालाब में आर्यन मरांडी का शव बरामद हुआ था.

क्या है पूरा मामला

आर्यन मरांडी 10 अप्रैल को अपने घर से दोस्तों के साथ निकला था. उसके बाद दोस्तों के साथ मिलकर ड्रग्स पीया. उसके बाद नशे में पैसे के लेनदेन व लड़की से बात करने को लेकर दोस्तों के बीच हाथापाई हुई. उसी क्रम में चोट लगी तो सिविल इंजीनियरिंग के छात्र आर्यन मरांडी (24 वर्ष) बेहोश होकर गिर पड़ा तो उसे खींचकर सभी ने मिलकर तालाब के पानी में फेंक दिया था.

13 अप्रैल का हुआ शव बरामद

बाद में नगर थाने की पुलिस ने 13 अप्रैल को नगर थानांतर्गत नंदन पहाड़ के पीछे फिल्टरेशन तालाब से आर्यन का शव बरामद किया था. इस मामले में पुलिस ने आर्यन के दोस्त सिंघवा निवासी अभिषेक कुमार उर्फ निक्कू को गिरफ्तार किया है. यह जानकारी नगर थाने में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसडीपीओ ऋत्विक श्रीवास्तव ने दी है.

Also Read : साहिबगंज कोर्ट में कार्यरत एपीपी के पुत्र का शव देवघर के नंदन पहाड़ तालाब से बरामद, हत्या की आशंका

आखिर क्या हुआ था 10 अप्रैल की रात

10 अप्रैल को भी आर्यन व अभिषेक ने शाम करीब 7:30 बजे से साथ में ड्रग्स पीना शुरू किया. ड्रग्स खत्म होने के बाद रात करीब 10 बजे दोनों ड्रग्स खरीदने बरमसिया गए. वहां भी ड्रग्स विक्रेता के साथ आर्यन की झंझट हुई थी. उसके बाद अभिषेक के घर की पीछे आकर दोनों ने साथ में ड्रग्स पीया और सोशल साइट की युवती दोस्त से आर्यन ने बात की. वहां से दोनों नंदन पहाड़ फिल्ट्रेशन तालाब पहुंचे. तालाब के पास पूर्व से ही उनलोगों के अन्य दोस्त इंतजार कर रहे थे. वहां भी सभी दोस्तों के साथ उन दोनों ने ड्रग्स पीया. नशे में सोशल साइट की युवती मित्र से अभिषेक ने बात करना चाहा, जिस पर झंझट शुरू हुई. पैसे के लेनदेन व लड़की से बात करने को लेकर दोस्तों के बीच हाथापाई हुई. उसी क्रम में चोट लगी तो सिविल इंजीनियरिंग के छात्र आर्यन मरांडी बेहोश होकर गिर पड़ा. इसके बाद दोस्तों ने मिलकर उसे खींचा और तालाब के पानी में फेंक दिया था.

क्या कहा पुलिस ने

एसडीपीओ ने बताया कि गिरफ्तार अभिषेक उर्फ निक्कू कांड का मुख्य आरोपित है. उसके अलावे अन्य युवक भी मामले में शामिल हैं. पुलिस उन सबकी तालाश में जुटी है. आपको बता दें कि आर्यन का शव बरामद होने के बाद उसकी मां प्रेमलता टुडू ने नगर थाने प्राथमिकी दर्ज कराई थी. उन्होंने आरोप लगाया कि उनके बेटे को साजिश के तहत हत्या कर साक्ष्य छिपाने की नीयत से तालाब में ठिकाने लगाया गया था. पुलिस ने मामले की छानबीन की और पता चला कि आर्यन की दोस्ती अभिषेक उर्फ निक्कू के साथ थी. काफी समय से दोनों साथ मिलकर ड्रग्स पीते थे. साथ में कई लोग से आर्यन के द्वारा ड्रग्स के लिए पैसे की मांग की गई थी.

Also Read : देवघर के नंदन पहाड़ तालाब में मिला इंजीनियरिंग के छात्र का शव, परिजनों ने जतायी हत्या की आशंका

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें