1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. jharkhand news pm modi to inaugurate deoghar aiims in may 2022 target to complete work by april smj

Jharkhand News: देवघर एम्स का मई 2022 में PM मोदी करेंगे उद्घाटन, अप्रैल महीने तक काम पूरा करने का मिला टारगेट

देवघर एम्स का उद्घाटन PM मोदी मई 2022 में करेंगे. इसके लिए अप्रैल, 2022 तक इस हॉस्पिटल का कार्य पूरा कर लेना है. दिल्ली में देवघर एम्स की वित्त स्थायी समिति की बैठक में निर्णय लिया गया. वहीं, गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे के प्रस्ताव पर अधिक से अधिक स्थानीय लोगों को नौकरी देने पर सहमति बनी.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मई 2022 में पीएम मोदी देवघर एम्स का करेंगे उद्घाटन.
मई 2022 में पीएम मोदी देवघर एम्स का करेंगे उद्घाटन.
फाइल फोटो.

Jharkhand News (देवघर) : दिल्ली में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण की अध्यक्षता में देवघर एम्स की वित्त समिति की बैठक हुई. बैठक में मुख्य रूप से समिति के सदस्य गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे व देवघर एम्स के निदेशक डॉ सौरभ वार्ष्णेय शामिल हुए. बैठक में तय हुआ कि अप्रैल 2022 तक देवघर एम्स का 750 बेड का अस्पताल पूरा कर देना है. मई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों देवघर एम्स का उद्घाटन होगा.

सचिव राजेश भूषण ने एम्स का निर्माण करने वाली एजेंसी NBCC के अधिकारियों से कहा कि अप्रैल तक सिविल वर्क पूरा करने के साथ-साथ इक्विपमेंट का सटेअप कर दें. बैठक में समीक्षा के दौरान बताया गया कि देवघर एम्स के 750 बेड के अस्पताल में 70 फीसदी सिविल वर्क पूरा हो चुका है. बिजली व पानी की सुविधा मुहैया नहीं किये जाने से काम बाधित हो रहा है.

MOU के अनुसार, राज्य सरकार को बिजली व पानी मुहैया कराना है. 333 KVA बिजली की आपूर्ति में 11.5 करोड़ रुपये राज्य सरकार को खर्च करना है. बगैर बिजली व पानी की सुविधा किये अस्पताल को हेंडओवर नहीं किया जा सकता है. सचिव ने बैठक में निदेशक को निर्देश दिया कि राज्य सरकार को पत्राचार कर बिजली व पानी की सुविधा मुहैया कराने का आग्रह करें, अगर निर्धारित समय पर यह सुविधा नहीं मुहैया करायी गयी तो केंद्र सरकार बिजली व पानी की सुविधा के लिए राशि खर्च करेगी.

एम्स में स्थानीय को नौकरी देने पर सहमति

बैठक में गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे के प्रस्ताव पर देवघर एम्स में अधिक से अधिक स्थानीय लोगों को नौकरी देने पर सहमति बनी. सचिव ने कहा कि कमेटी के माध्यम से एम्स में स्थानीय लोगों की नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होगी. सचिव ने निदेशक को देवघर एम्स के अधीन खाली पड़ी 16 एकड़ जमीन की घेराबंदी जल्द कराने का निर्देश दिया. स्थानीय प्रशासन जमीन का डिमार्केशन करेगा व एम्स प्रबंधन घेराबंदी करायेगा.

बैठक में देवघर एम्स में कार्यरत केंद्रीय कर्मचारियों को भत्ता की स्वीकृति दी गयी. साथ ही निर्णय लिया गया कि एम्स की जमीन पर केंद्रीय विद्यालय खोला जायेगा. इस साल से बीएससी नर्सिंग की भी पढ़ाई शुरू होगी. इस बैठक में वित्त स्थायी समिति के सदस्य रांची विश्वविद्यालय के पूर्व वीसी रमेश पांडे, केपी सिन्हा समेत अतिरिक्त सचिव व अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

स्थानीय को मिलेगी नौकरी : डॉ निशिकांत दुबे

इस संबंध में गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने कहा कि देवघर एम्स की पहली वित्त स्थायी समिति की बैठक में हर हाल में अप्रैल 2022 में देवघर एम्स का 750 बेड का अस्पताल काम पूरा करने की सहमति बनी गयी है, ताकि मई में पीएम इसका उदघाटन कर सके. राज्य सरकार MOU के अनुसार, बिजली व पानी की सुविधा मुहैया नहीं कराती है, तो केंद्र सरकार इन सुविधाओं राशि खर्च करेगी. एम्स में स्थानीय लोगों को अधिक से अधिक नौकरी देने पर भी सहमति बनी.

NBCC को मिला लक्ष्य : देवघर एम्स डायरेक्टर

वहीं, देवघर एम्स के डायरेक्टर डॉ सौरभ वार्ष्णेय ने कहा कि वित्त स्थायी समिति की बैठक में अप्रैल 2022 में देवघर एम्स का 750 बेड का अस्पताल काम पूरा करने का लक्ष्य NBCC को मिला है. पानी व बिजली की सुविधा के लिए सचिव ने राज्य सरकार को पत्राचार करने का निर्देश दिया है. एम्स की खाली पड़ी जमीन का प्रशासन द्वारा चिह्नित किये जाने के बाद घेराबंदी जल्द करायी जायेगी.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें