1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. chaibasa
  5. jharkhand naxal news naxalite organization cpi maoist major shock 10 naxalites arrested from chaibasa naxalites involved in ied bomb blast sparked many secrets grj

Jharkhand Naxal News : नक्सली संगठन भाकपा माओवादी को बड़ा झटका, चाईबासा से 10 नक्सली गिरफ्तार, IED बम विस्फोट में शामिल नक्सलियों ने उगले कई राज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand Naxal News :जानकारी देते कोल्हान रेंज के डीआईजी राजीव रंजन सिंह एवं गिरफ्तार नक्सली
Jharkhand Naxal News :जानकारी देते कोल्हान रेंज के डीआईजी राजीव रंजन सिंह एवं गिरफ्तार नक्सली
प्रभात खबर

Jharkhand Naxal News, West Singhbhum News, चाईबासा न्यूज : झारखंड के पश्चिम सिंहभूम जिले के टोकलो थानांतर्गत लांजी गांव में नक्सली हमले के हफ्तेभर बाद ही पुलिस ने क्लेमोर डायरेक्शनल बम विस्फोट मामले में भाकपा माओवादी के केंद्रीय कमेटी के सदस्य पीतमराम मांझी उर्फ अनल दा उर्फ तूफान व जोनल कमेटी सदस्य महाराज प्रमाणिक उर्फ राज प्रमाणिक दस्ते की बी टीम के 10 सदस्यों को गिफ्तार कर लिया है. साथ ही इनके पास से 25 हजार 150 रूपये, दो बाइक, 9 मोबाइल व एक स्लीपिंग बैग भी बरामद किया गया है. कोल्हान रेंज के डीआईजी राजीव रंजन सिंह ने शनिवार को आयोजित प्रेस वार्ता में ये जानकारी दी. मौके पर पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा भी मौजूद थे.

गिरफ्तार आरोपियों में रामराई हांसदा, नेल्सन कंडीर, विल्सन सामड़, सीताराम राम सामड़, रोशन बोदरा उर्फ चोंडे बोदरा, सोरटो माहली, सोमनाथ भूमिज, अशोक कुमार महतो, मंगल मुंडा व महादेव मुंडा शामिल हैं. मंगल मुंडा व महादेव सिंह मुंडा रांची के तमाड़ जिले के रहने वाले हैं, जबकि अन्य आठ युवक टोकलो थाना क्षेत्र के निवासी हैं. गौरतलब है कि 4 मार्च को लांजी पहाड़ पर पुलिस बलों के चढ़ने के बाद नक्सलियों ने डायरेक्शनल क्लेमोर बम विस्फोट कर दिया था, जिसमें झारखंड जगुआर के तीन जवान शहीद हो गये थे, वहीं दो जवान घायल भी हुये थे.

डीआईजी ने बताया कि 4 मार्च को भाकपा माओवादी संगठन की बी टीम के इन सदस्यों ने लांजी पहाड़ पर क्लेमोर पाइप बम से हमला कर दिया था, जिससे झारखंड जगुआर के तीन जवान शहीद व दो घायल हो गए थे. डीआईजी ने बताया कि नक्सलियों द्वारा किए गए हमले में शामिल अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक के द्वारा टीम गठित कर टीम द्वारा सीआरपीएफ 60 बटालियन,197 बटालियन, जिला बल व तकनिकी सहायता एवं आसूचना संकलन कर छापामारी कर सबसे पहले लांजी गांव निवासी 27 वर्षीय रामराई हांसदा को गिरफ्तार किया गया. गिफ्तारी के बाद रामराई हांसदा से तकनीकी व वैज्ञानिक तरीके से पूछताछ करने पर बताया कि भाकपा माओवादी के अनल दा उर्फ पतिराम मांझी व महाराज प्रमाणिक उर्फ राज प्रमाणिक के कहने पर वह अपने सहयोगियों के साथ पाइप वाला आईईडी बम को लांजी जाने वाले रास्ते में जाकर लगा दिया था.

दूसरे दिन सुबह में सभी लोग पुलिस के आने का इंतजार करने लगे थे. वह और उसके अन्य सहयोगी पेड़ पर चढ़कर पुलिस बल की सूचना ले रहे थे तथा इनके अन्य सहयोगी बैट्री लेकर इनके इशारे का इंतजार कर रहे थे. सुरक्षाबलों को आते देखकर उसने इशारा किया किया. इसके बाद रामराई हांसदा के अन्य सहयोगियों ने आईईडी विस्फोट कर दिया. विस्फोट करने के बाद उक्त सभी लोग जंगल-पहाड़ी क्षेत्र का लाभ उठाकर भाग निकले थे. डीआईजी ने बताया कि रामराई हांसदा के स्वीकारोक्ति बयान के आधार पर इस षडयंत्र में शामिल भाकपा माओवादी के सक्रिय सदस्य 21 वर्षीय नेल्सन कंडीर विल्सन सामड़, सीता राम सामड़, रोशन बोदरा उर्फ चोंडे बोदरा, सोरटो माहली, सोमनाथ भूमिज व अशोक कुमार महतो को गिरफ्तार किया गया.

डीआइजी ने बताया कि गिरफ्तार रामराई हांसदा व नेल्सन कंडीर के खिलाफ टोकलो थाना में नक्सली घटना में शामिल रहने के कुल 5 मामले दर्ज हैं. गिरफ्तार रामराई हांसदा व अन्य नक्सलियों की बी टीम में शामिल रहे हैं. इनका काम नक्सलियों को लॉजिस्टिक सपोर्ट, पुलिस की रेकी करना व ट्रिगर दबाना था. वहीं नेलशन कंडीर पर भी तमाड़ और अड़की में 16 मामले दर्ज हैं. उन्होंने बताया कि माओवादी दस्ता खुद घटना न कर बी टीम के सदस्यों से घटना करवा रहे हैं.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें