30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

चाईबासा कोर्ट में पेश हुए झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता और डॉ अजय कुमार, जानें पूरा मामला

वर्ष 2011 में जुगसलाई थाना क्षेत्र में बिना अनुमति के दूसरी की संपत्ति पर पार्टी का बैनर टांग दिया था. स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कांग्रेस का बैनर व डॉ अजय कुमार ने झारखंड विकास मोर्चा का बैनर टांग दिया था. इसे लेकर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी.

Chaibasa News: संपत्ति विरुपण (स्वरूप में बदलाव) अधिनियम मामले में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, कांग्रेस नेता डॉ. अजय कुमार और अन्य दो लोग शनिवार को चाईबासा में प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी ऋषि कुमार की अदालत में हाजिर हुए. कोर्ट में चारों का बयान दर्ज किया गया. इस मामले में अगली सुनवाई 25 मार्च को होगी.

बताया गया कि वर्ष 2011 में जुगसलाई थाना क्षेत्र में बिना अनुमति के दूसरी की संपत्ति पर पार्टी का बैनर टांग दिया था. स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कांग्रेस का बैनर व डॉ अजय कुमार ने झारखंड विकास मोर्चा का बैनर टांग दिया था. इसे लेकर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी.

Also Read: स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे सरयू राय! बोले- ऐसे मंत्री को पद से हटायें सीएम
जगन्नाथपुर : तालाब निर्माण में अनियमितता, ग्रामीणों ने काम रोका

जगन्नाथपुर प्रखंड अंतर्गत भूमि संरक्षण विभाग से बन रहे तालाब में काफी अनियमितता बरती जा रही है. शिकायत पर जिप सदस्य मानसिंह तिरिया शनिवार को गांव में ग्रामीणों संग बैठक की. इसमें कहा गया कि छोटा महुलडीहा के बांदासाई टोला में भूमि संरक्षण विभाग से तालाब निर्माण किया जा रहा है. तालाब निर्माण में काफी अनियमितता बरती जा रही है. मानसिंह तिरिया ने कार्य स्थल का जायजा लिया.

तालाब निर्माण कार्यस्थल पर कोई साइन बोर्ड नहीं लगाया गया है. ताकि पता चल सके कि किस मापदंड से तालाब निर्माण कराना है. तालाब निर्माण कुल 4 एकड़ 18 डिसमिल क्षेत्रफल में किया जा रहा है. तालाब का क्षेत्रफल के हिसाब से तालाब निर्माण नहीं कराया जा रहा है. तालाब निर्माण में मात्र 4 फीट गहराई है. यह जांच का विषय है. मापदंड के अनुसार तालाब निर्माण का कार्य नहीं होने पर काम को बंद किया गया.

Also Read: मंत्री बन्ना गुप्ता नियोजन नीति पर बोले- फर्जी है 60-40 नाय चलतो कैंपेन, 4.5 लाख में 16 हजार ट्वीट ही ओरिजनल

ग्रामीणों की मांग है कि तालाब का निर्माण मापदंड के अनुसार हो. जब तक विभाग के इंजीनियर उच्च पदाधिकारी जांच पड़ताल करते हैं. तब तक काम बंद रहेगा. इस संबंध में शनिवार को उपायुक्त को एक मांग पत्र सौंपा. मौके पर ब्रजमोहन सोय, राजेश सिंकू, सीताराम सोय, प्यारेलाल गोप, विश्वनाथ गोप, मोनिका कुमारी, रजनी गोप, सनिया गोप, प्रिया गोप आदि उपस्थित थे.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें