25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

पेटरवार में तालाब में डूबने से दो सगे भाइयों समेत तीन बच्चों की मौत

बुधवार की दोपहर खाना खाकर खेलने के लिए निकले थे आरिफ, तालिब व विवेक, गुरुवार की सुबह तालाब से निकाला गया शव, परिजनों ने थाने में कराई थी गुमशुदगी की शिकायत

पेटरवार. पेटरवार प्रखंड अंतर्गत सदमाकला पंचायत के सदमाकला ग्राम निवासी गुलाम रसूल के दो पुत्र आरिफ हुसैन (10 वर्ष) व तालिब हुसैन (8 वर्ष) और इसी पंचायत के पोरदाग ग्राम निवासी रीतवरण महतो के इकलौते पुत्र विवेक कुमार महतो (10 वर्ष) की माैत तालाब में डूबने से हो गयी. गुरुवार की सुबह ब्लॉक कॉलोनी स्थित अमृत सरोवर तालाब से पेटरवार पुलिस की मौजूदगी में ग्रामीणों ने तीनों शव को निकाला. पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए तेनुघाट अनुमंडलीय अस्पताल भेज दिया. बताया जाता है कि बुधवार की दोपहर करीब दो बजे तीनों बच्चे अपने-अपने घरों से खाना खाकर खेलने के लिए निकले थे. जो खेलते हुए प्रखंड कार्यालय के पीछे बने एक अमृत सरोवर तालाब में गये.

तीन बच्चों के डूबने की घटना से सदमाकला और पोरदाग गांव में मातम पसर गया. गुलाम रसूल के दो पुत्र आरिफ हुसैन व तालिब हुसैन के अलावा पोरदाग निवासी रीतवरण महतो के इकलौते पुत्र विवेक कुमार महतो की माैत तालाब में डूबने से हो गयी. बताया जाता है कि तालाब के मध्य में 8-10 फीट की गहराई तक पानी है. जहां पर बच्चे चप्पल खोल कर पानी में उतरे और डूब गये. इस तालाब पर जन साधारण की आवाजाही कम होती है. इस कारण किसी ने नहीं देखा. शाम तक बच्चे घर नहीं आये तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की, पर देर रात तक बच्चों का कोई पता नहीं चल पाया. अंत में परिजनों ने तो पेटरवार थाना में गुमशुदगी की जानकारी दी. गुरुवार की सुबह उधर से गुजर रहे लोगों ने तालाब के पास बच्चों की चप्पल देखी. थोड़ी ही देर में यह बात पेटरवार व आसपास के गांवों में आग की तरह फैल गयी. परिजन व ग्रामीण तालाब के पास पहुंचे. पेटरवार पुलिस को सूचना दी गयी. आशंका जतायी गयी कि बच्चे नहाने के लिए पानी में उतरे होंगे, जो डूब गये. इसके बाद स्थानीय युवक पानी में उतरे, तो पहले आरिफ व तालिब का शव पुलिस की उपस्थिति में निकला गया. इसके कुछ देर बाद युवकों ने पुन: तलाश की, तो विवेक का शव भी ऊपर आ गया. घटनास्थल पर हजारों ग्रामीणों की भीड़ लग गयी. पेटरवार पुलिस ने तीनाें शव को कब्जे में ले लिया. सभी समुदाय के लोगों के बीच मातम छा गया और चर्चा का विषय बना रहा.

परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

आरिफ व विवेक उत्क्रमित मध्य विद्यालय ब्लॉक कॉलोनी का छात्र थे जो क्रमशः तृतीय व चतुर्थ में पढ़ाई करते थे. जबकि तालिब सदमाकला के आंगनबाड़ी केंद्र का छात्र था. विवेक के पिता सब्जी का व्यवसाय कर अपना परिवार चलाते हैं, जबकि आरिफ व तालिब के पिता कश्मीर में काम करते हैं. शव देखते ही परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया. मौके पर अंचल अधिकारी अशोक राम, थाना प्रभारी कृष्ण कुमार कुशवाहा, जिप सदस्य प्रहलाद महतो, सदमाकला पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि लालदेव महतो व बुंडू के मुखिया प्रतिनिधि रितेश सिन्हा, पंसस प्रतिनिधि निरंजन महतो सहित हजारों महिला-पुरुष ग्रामीण उपस्थित थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें