1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. education minister of jharkhand in home quarantine for four days after hrd minister met health minister banna gupta in cabinet meeting mth

चार दिन तक किसी से नहीं मिलेंगे झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बोकारो में शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो के भंडारीदह आवासीय कॉलोनी स्थित आवास के बाहर पसरा सन्नाटा.
बोकारो में शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो के भंडारीदह आवासीय कॉलोनी स्थित आवास के बाहर पसरा सन्नाटा.
Prabhat Khabar

बेरमो/रांची (राकेश वर्मा) : झारखंड (Jharkhand) के शिक्षा मंत्री (Education Minister) जगरनाथ महतो (Jagarnath Mahto) चार दिन तक किसी से नहीं मिलेंगे. उन्होंने खुद को एक कमरे में लोगों से अलग-थलग कर लिया है. इस दौरान किसी आगंतुक से भी भेंट नहीं करेंगे. बुधवार (18 अगस्त, 2020) को उनके घर के बाहर सन्नाटा पसरा रहा. अन्य दिनों की तरह कोई चहल-पहल नहीं दिखी. आम दिनों में बोकारो (Bokaro) स्थित उनके घर के बाहर मिलने वालों के साथ-साथ उनके समर्थकों की अच्छी-खासी भीड़ रहती थी.

दरअसल, शिक्षा मंत्री ने बोकारो स्थित अपने घर में चार दिन के लिए खुद को होम कोरेंटिन करने का फैसला किया है. मंगलवार (18 अगस्त, 2020) को वह कैबिनेट की बैठक में शामिल हुए थे. इस बैठक में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता भी मौजूद थे. मंगलवार की शाम को मालूम हुआ कि स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता कोरोना से संक्रमित हैं. इसके बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत कई मंत्रियों ने खुद को कोरेंटिन कर लिया.

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने भी चार दिन होम कोरेंटिन में रहने का फैसला किया. उन्होंने बताया कि मंगलवार को कैबिनेट की बैठक में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता भी मौजूद थे. हालांकि, कैबिनेट की मीटिंग के दौरान सोशल डिस्टैंसिंग का पूरा-पूरा पालन किया गया. इसलिए उन्होंने फिलहाल चार दिन कोरेंटिन में रहने का फैसला किया है. आगे डॉक्टर जैसी सलाह देंगे, उसी के अनुरूप काम करेंगे.

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि भंडारीदह आवासीय कॉलोनी स्थित अपने आवास में एहतियात के तौर पर वह अगले चार-पांच दिनों तक अपने एक घर में रहेंगे. यहां वह किसी से भी मुलाकात नहीं करेंगे. परिवार के लोगों से भी अलग ही रहेंगे. उन्होंने कहा कि पूरी सावधानी के साथ वह कैबिनेट में गये थे, लेकिन चूंकि स्वास्थ्य मंत्री संक्रमित पाये गये हैं, वह एहतियातन लोगों से अलग ही रहेंगे.

जैसे ही बन्ना गुप्ता के कोरोना से संक्रमित होने की खबर आयी, कैबिनेट में शामिल हुए सभी मंत्रियों ने खुद को कोरेंटिन करने का फैसला किया. वहीं, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की ट्वीटर पर जानकारी देते हुए कहा कि जो लोग भी उनके संपर्क में पिछले दिनों आये हैं, वे अपनी कोरोना जांच जरूर करवा लें. साथ ही खुद को कोरेंटिन कर लें, ताकि और लोगों को परेशानी न हो.

उधर, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन तीसरी बार होम कोरेंटिन में चले गये. इसके पहले पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर के कोरोना से संक्रमित होने के बाद और बाद में मुख्यमंत्री कार्यालय एवं आवास में कुछ कर्मचारियों के कोरोना से संक्रमित होने के बाद उन्होंने खुद को होम कोरेंटिन किया था. दोनों ही बार मुख्यमंत्री ने अपने परिवार के साथ-साथ आवास के सभी कर्मचारियों की कोरोना जांच करायी थी.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और उनकी पत्नी कल्पना सोरेन की अब तक दो बार कोरोना की जांच हुई है, दोनों ही बार इनकी रिपोर्ट निगेटिव आयी है. हालांकि, मुख्यमंत्री कार्यालय और आवास में 50 से अधिक लोगों में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है. मुख्यमंत्री आवास और झारखंड सरकार के सचिवालय को दो-दो बार सैनिटाइज कराया जा चुका है.

उल्लेखनीय है कि झारखंड में कोरोना के मामले 25 हजार से अधिक हो गये हैं. अब तक 25,333 लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं, जिनमें 15,709 लोग ठीक हो चुके हैं. 9,355 लोग अब भी इस वैश्विक महामारी की चपेट में हैं, जबकि 269 लोग इस संक्रमण की चपेट में आने के बाद अपनी जान गंवा चुके हैं. 18 अगस्त को राज्य में 13 लोगों की कोरोना से मौत हुई, जबकि 340 लोग स्वस्थ होकर अपने घर गये. एक दिन में सबसे ज्यादा 1,266 लोगों में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि इसी दिन हुई.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें