1. home Hindi News
  2. state
  3. gujarat
  4. man beaten to death for use of loudspeaker at temple in gujarats mehsana six arrested vwt

गुजरात के मेहसाणा में लाउडस्पीकर विवाद में पिटाई से व्यक्ति की मौत, छह में से पांच आरोपी गिरफ्तार

लंघनाज थाने के सब-इंस्पेक्टर एसबी चावड़ा ने शुक्रवार को बताया कि पुलिस ने तीन मई को जिले के मुदार्दा गांव में हुई घटना के सिलसिले में छह आरोपियों में से पांच को गिरफ्तार कर लिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हत्या के आरोप में पांच गिरफ्तार
हत्या के आरोप में पांच गिरफ्तार
फोटो : ट्विटर

अहमदाबाद : भारत में लाउडस्पीकर विवाद गहराने के साथ ही अब इसे लेकर हिंसा के मामले भी बढ़ते दिखाई देने लगे हैं. गुजरात के मेहसाणा से लाउडस्पीकर पर भजन बजाने पर हिंसा का मामला प्रकाश में आया है. मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, गुजरात के मेहसाणा में एक 42 वर्षीय व्यक्ति अपने घर के अंदर बने मंदिर में लाउडस्पीकर पर भजन बजा रहा था. लाउडस्पीकर पर भजन बजाने को लेकर विवाद हो गया. इस विवाद में व्यक्ति जसवंत ठाकोर की जमकर पिटाई कर दी गई, जिससे उनकी मौत हो गई. पुलिस ने व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या करने के आरोप में करीब छह लोगों को गिरफ्तार किया है.

तीन मई को जसवंत ठाकोर की हुई थी पिटाई

लंघनाज थाने के सब-इंस्पेक्टर एसबी चावड़ा ने शुक्रवार को बताया कि पुलिस ने तीन मई को जिले के मुदार्दा गांव में हुई घटना के सिलसिले में छह आरोपियों में से पांच को गिरफ्तार कर लिया है. उन्होंने कहा कि हमने प्राथमिकी में नामजद छह में से पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. ठाकोर परिवार ने अपने घर के अंदर एक छोटा सा मंदिर बना रखा था, जिसमें लगे लाउडस्पीकर को लेकर हुए विवाद के बाद आरोपियों ने कथित रूप से जसवंत ठाकोर और उनके बड़े भाई अजीत पर डंडों से हमला कर दिया.

जसवंत के बड़े भाई ने थाने में दर्ज कराई शिकायत

जसवंत ठाकोर के बड़े भाई अजीत की शिकायत के आधार पर 4 मई को प्राथमिकी दर्ज की गई, जिसमें कहा गया है कि ठाकोर परिवार ने मुदर्दा गांव में अपने घर के परिसर में देवी मेल्दी को समर्पित एक छोटा सा मंदिर बनाया था. शिकायत के अनुसार, 3 मई की शाम को अजित ने मंदिर में दीप जलाकर भक्ति गीत बजाना शुरू किया. एक अन्य ग्रामीण सदाजी ठाकोर लाउडस्पीकर के इस्तेमाल से परेशान होकर उनके घर आए और आपत्ति जताई.

लाउडस्पीकर की आवाज पर लोगों ने शुरू कर दी पिटाई

सब-इंस्पेक्टर चावड़ा ने कहा, ''जब अजीत ने कहा कि लाउडस्पीकर की आवाज पहले से ही कम है, तो सदाजी, जयंती ठाकोर और वीनू ठाकोर सहित पांच अन्य लोग नाराज हो गए और ठाकोर भाइयों को लाठियों से पीटना शुरू कर दिया. घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और भाइयों को एक एंबुलेंस में मेहसाणा के सिविल अस्पताल पहुंचाया. अधिकारी ने कहा कि भाइयों को गंभीर चोटें आईं और बाद में उन्हें अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में रेफर कर दिया गया, जहां डॉक्टरों ने जसवंत को मृत घोषित कर दिया, जबकि अजीत का इलाज चल रहा है.

भाषा इनपुट

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें