27.9 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बिहार के इतने लाख युवा पहली बार डालेंगे वोट, मतदाताओं की संख्या 7.50 करोड़ के पार, वोटर लिस्ट जारी

बिहार के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा सोमवार को अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन कर दिया गया. जिसके मुताबिक, राज्य के कुल 243 विधानसभा क्षेत्रों में मतदाताओं की कुल संख्या 7 करोड़ 64 लाख 33 हजार 329 है.

लोकसभा चुनाव 2024 की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. राजनीतिक दलों के साथ-साथ चुनाव आयोग ने भी इसे लेकर तैयारी शुरू कर दी है. बिहार के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा सोमवार को अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन कर दिया गया. जिसके अनुसार, राज्य के कुल 243 विधानसभा क्षेत्रों में मतदाताओं की कुल संख्या 7 करोड़ 64 लाख 33 हजार 329 है. पिछले साल की तुलना में इस सूची में मतदाताओं की संख्या 12 लाख 9 हजार 347 बढ़ गई है. इस बार मतदाताओं का लिंगानुपात भी बढ़ा है. पिछले साल जहां प्रति हजार पुरुष मतदाताओं पर 907 महिला मतदाता थीं, वहीं अब यह आंकड़ा 909 महिला मतदाताओं का हो गया है.

कितने पुरुष और महिला मतदाता

बिहार के कुल 7,64,33,329 मतदाताओं में से पुरुष मतदाताओं की संख्या 4 करोड़ 29 हजार 136 है. वहीं महिला मतदाताओं की संख्या 3 करोड़ 64 लाख 1 हजार 309 है. थर्ड जेंडर निर्वाचकों की संख्या 2 हजार 290 है. इस नए वोटर लिस्ट में युवा मतदाताओं की संख्या में भी भारी बढ़ोतरी देखी गई है.

Undefined
बिहार के इतने लाख युवा पहली बार डालेंगे वोट, मतदाताओं की संख्या 7. 50 करोड़ के पार, वोटर लिस्ट जारी 3

इतने युवा मतदाता जुड़े

18 से 19 वर्ष के 7 लाख 79 हजार 360 युवा मतदाता को सूची में जोड़ा गया है, जो पहली बार लोकसभा में वोट कर अपने देश की तकदीर को लिखेंगे. इसके अलावा 20-29 वर्ष के 14 लाख 60 हजार 841 मतदाता का नाम भी इस लिस्ट में जुड़ा है. कई मतदाताओं का नाम लिस्ट से हटाया भी गया है.

Undefined
बिहार के इतने लाख युवा पहली बार डालेंगे वोट, मतदाताओं की संख्या 7. 50 करोड़ के पार, वोटर लिस्ट जारी 4

ऐसे जुड़वा सकते हैं अपना नाम

बता दें कि वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने के लिए ऑफलाइन व ऑनलाइन दोनों विक्लप दिए गए हैं. ऑनलाइन नाम जुड़वाने के लिए Voter.eci.gov.in या वोटर हेल्पलाइन एप के माध्यम से की जा सकती है. वहीं, ऑफलाइन आवेदन के लिए आपको निर्वाचन कार्यालय में जाना होगा. इसके अलावा किसी व्यक्ति का यदि नाम जुड़वाने से छूट गया है तो फाॅर्म भरके वो अपना नाम जुड़वा सकते हैं.

फरवरी में बिहार आ सकती है निर्वाचन आयोग की टीम

इधर, निर्वाचन आयोग ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर बिहार में ईवीएम की जांच पूरी कर ली गई है. मतदान केंद्रों के मरम्मत का कार्य भी शुरू हो गया है. वहीं, ऐसे संकेत भी मिल रहे हैं कि भारत निर्वाचन आयोग की टीम बिहार में फरवरी में आ सकती है. बिहार आने के बाद वह यहां की पूरी चुनावी और प्रशासनिक तैयारियों की समीक्षा करेगी. समीक्षा के आधार पर बिहार की 40 सीटों के चरणवार मतदान का कार्यक्रम निर्धारित किया जायेगा.

Also Read: Video : बिहार में लोकसभा चुनाव की तैयारियां तेज, ईवीएम-वीवीपैट की जांच में जुटा प्रशासन

अब जानिए पिछले चुनाव में कब जारी हुआ था कार्यक्रम

पिछले लोकसभा चुनाव को देखा जाये तो चुनावी कार्यक्रम 10 मार्च, 2019 को जारी कर दिया गया था. इसके साथ ही राज्य में आदर्श आचार संहिता लागू हो गयी थी. पिछले लोकसभा चुनाव से तुलना करें, तो इसके लिए महज 60 दिन का समय शेष रह गया है. भारत निर्वाचन आयोग का राज्यों का दौरा आरंभ हो गया है. पिछले लोकसभा चुनाव में 10 मार्च से आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद से 18 मार्च से पहले चरण का नामांकन पत्र दाखिल होने लगा था और पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल, 2019 को संपन्न हो गया था.

2019 में सात चरणों में हुआ था चुनाव

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा राज्य की 40 सीटों के चरणवार मतदान का कार्यक्रम अभी निर्धारित किया जाना है. पिछले लोकसभा चुनाव (2019) में बिहार की 40 लोकसभा सीटों का चुनाव सात चरणों में कराया गया था. पहले चरण में दक्षिण बिहार की चार लोकसभा सीटों से मतदान आरंभ हुआ था. बिहार में दूसरे चरण में पांच, तीसरे चरण में पांच, चौथे चरण में पांच, पांचवें चरण में पांच, छठे चरण में आठ और सातवे चरण में आठ लोकसभा क्षेत्रों में मतदान कराया गया था.

Also Read: लोकसभा चुनाव के पहले झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन को दिल्ली हाईकोर्ट से लगा बड़ा झटका

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें