1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. tejashwi yadav and tej pratap yadav is angry after security guard and bihar police jawan fight at rabri devi residence said nitish kumar govt bihar lad and order failure upl

राबड़ी आवास पर भिड़े सुरक्षाकर्मी और पुलिस के जवान तो भड़के तेजस्वी-तेजप्रताप, कहा- नीतीश सरकार चाहती क्या है?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
तेजस्वी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस मामले को लेकर नीतीश सरकार (Nitish kumar Govt) से कड़े सवाल दागे.
तेजस्वी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस मामले को लेकर नीतीश सरकार (Nitish kumar Govt) से कड़े सवाल दागे.
Screenshot

राजद (RJD) की महत्वपूर्ण बैठक से पहले राबड़ी आवास पर हुए हंगामे को लेकर तेजप्रताप (Tej Pratap Yadav) और तेजस्वी यादव (Tejashwi yadav) ने नाराजगी जाहिर की है. पार्टी बैठक के बाद तेजस्वी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस मामले को लेकर नीतीश सरकार (Nitish kumar Govt) से कड़े सवाल दागे.

उन्होंने आरोप लगाया कि उनको कार्यकर्ताओं और पार्टी के विधायकों से मिलने से रोका जा रहा है. सचिवालय थाना की पुलिस सिर्फ राबड़ी देवी के आवास के बाहर गश्ती करती रहती है. क्या मेरे आवास के सामने ही अपराध हो रहा है. जिलों में पुलिस क्यों नहीं गश्ती कर रही है. कहा कि जिन लोगों की बात सरकार नहीं सुन रही है तो वह मिलने के लिए मेरे पास आएंगे ही. इसको लेकर भी सरकार को परेशानी हो रही है.

तेजस्वी यादव ने बताया कि उनसे सुरक्षा और आवास पर तैनात सुरक्षाकर्मियों का लिस्ट मांगा गया है. क्या हमारे सुरक्षाकर्मियों से ही मुख्यमंत्री को खतरा है. आखिर नीतीश सरकार चाहती क्या है. बिहार में लॉ एन्ड ऑर्डर की स्थिति खराब है. हर जिले में अपराध बढ़ रहा है.

पुलिस रूपेश के हत्यारों को नहीं पकड़ रही लेकिन उनसे मिलने पहुंचे गरीबों और मजलूमों को जरूर रोक रही है. वहीं तेज प्रताप यादव ने कहा कि राबड़ी देवी के आवास के बाहर जो हंगामा हुआ है, वह निंदनीय है. इस तरह की घटना नहीं होनी चाहिए. उन्होंने मामले की जांच की मांग भी की है.

क्यों हुआ था हंगामा

बता दें कि गुरुवार सुबह राबड़ी देवी के 10 सर्कुलर रोड आवास पर उस वक्त अफरातफरी मच गई जब सुरक्षाकर्मी और सचिवालय थाना के जवान आपस में ही भिड़ गए. काफी देर तक हंगामा होता रहा और गाली-गलौच के साथ ही हाथापायी की भी नौबत आ गई. राबड़ी देवी के पीए ने किसी तरह से दोनों पक्षों को शांत कराया.

इस पूरी घटना के बाद सचिवालय पुलिस का कहना है कि वह यहां से भीड़ हटा रहे थे, जबकि राबड़ी आवास में तैनात सुरक्षाकर्मियों का कहना था कि जो लोग भी तेजस्वी यादव से मिलने आते हैं, उन्हें सचिवालय थाना के जवान जबरन भगा देते हैं.

Posted By: utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें