25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

BPSC TRE 2: शिक्षक नियुक्ति परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करा चुके अभ्यर्थी हो रहे परेशान, BPSC से कर रहे ये मांग

बिहार शिक्षक नियुक्ति परीक्षा के अभ्यर्थी बीपीएससी से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में सुधार की मांग कर रहे हैं. यह वो अभ्यर्थी हैं जिन्होंने अपना रजिस्ट्रेशन एसटीइटी 2019 के तीन विषयों का संशोधित रिजल्ट आने से पहले किया था.

BPSC Teacher Recruitment Exam 2.0 : बिहार लोक सेवा द्वारा दूसरे चरण के शिक्षक नियुक्ति परीक्षा के लिए पांच नवंबर से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू कर दी गयी थी. लेकिन इस रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के दौरान बड़ी संख्या में एक समस्या सामने आई है. ऐसे में अभ्यर्थी बीपीएससी से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में सुधार की मांग कर रहे हैं. इसके साथ ही शुक्रवार को दूसरे चरण की शिक्षक नियुक्ति के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो गई है. पहले दिन लगभग 14 अभ्यर्थियों ने परीक्षा के लिए आवेदन किया है. वहीं अब 2.3 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है.

क्या है अभ्यर्थियों की परेशानी

रजिस्ट्रेशन को लेकर सामने आई समस्या को लेकर अभ्यर्थियों ने कहा कि एसटीइटी 2019 के तीन विषयों का रिजल्ट संशोधित करके पुन: जारी किया गया है. फिजिक्स का रिजल्ट नौ नवंबर को जारी किया गया है. इसके साथ ही एसटीइटी 2023 में सफल स्टूडेंट्स को रजिस्ट्रेशन के लिए बीएसइबी यूनिक आइडी से आवेदन करने को कहा गया है जो काफी लेट कहा गया. पांच से नौ नवंबर तक करीब डेढ़ लाख रजिस्ट्रेशन हो गये थे, जिसमें से करीब 50 हजार अभ्यर्थी एसटीइटी 2019 और 2023 से संबंधित हैं, जिनका रजिस्ट्रेशन बीपीएससी के नए नोटिफिकेशन के अनुसार गलत हो गया है.

बीपीएससी से रजिस्ट्रेशन में सुधार की मांग

अभ्यर्थियों ने कहा कि रजिस्ट्रेशन रद्द करने के बाद रिफंड भी नहीं मिल रहा है. इससे परेशानी हो रही है. कम-से-कम एक अभ्यर्थियों को आवेदन में 1500 से या 2250 रुपये से अधिक लग रहे हैं. रजिस्ट्रेशन रद्द करके पुन: रजिस्ट्रेशन करने से आर्थिक असर पड़ेगा. इसके कारण अलग-अलग संगठनों ने बीपीएससी से रजिस्ट्रेशन में सुधार की मांग की है.

Also Read: Job News: बिहार सरकार का बड़ा फैसला, अब हर साल होगी अगस्त में शिक्षक नियुक्ति परीक्षा

यूनिक आइडी दर्ज करने का नोटिस किया गया था जारी

बता दें कि गुरुवार को बीपीएससी परीक्षा नियंत्रक ने नोटिस जारी कर कहा था कि ऑनलाइन आवेदन पत्र में माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीइटी) 2023 के रिजल्ट कार्ड नंबर के स्थान पर बीएसइबी यूनिक आइडी नंबर एवं निर्गत तिथि के स्थान पर परीक्षाफल प्रकाशन की तिथि अंकित करेंगे. ऑनलाइन आवेदन पत्र में मध्य विद्यालय एवं प्रारंभिक शिक्षक (प्रशिक्षित) के लिए सीटीइटी उत्तीर्ण उम्मीदवार प्रमाण पत्र, अंक पत्र के अंकित सीरियल नंबर एवं निर्गत तिथि अंकित करेंगे.

Also Read: केके पाठक की नवनियुक्त शिक्षकों को दो टूक, गांव के स्कूल में नहीं करनी नौकरी, तो दे दें इस्तीफा

परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू

इधर, दूसरे चरण के शिक्षक भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू हो गयी. पहले दिन 14 हजार अभ्यर्थियों ने फॉर्म भरा है. वहीं, पिछड़ा वर्ग और अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के अन्तर्गत कुल 916 पदों के लिए पहले दिन 1300 फॉर्म भरे गये है. वहीं, अब तक फॉर्म भरने के लिए कुल 2.34 लाख अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है. वहीं, 1.70 अभ्यर्थियों ने शुल्क जमा कर दिया है.

Also Read: BPSC TRE 2: बिहार के ये डिग्रीधारी शिक्षक बहाली में नहीं कर पा रहे आवेदन, केके पाठक तक पहुंचा मामला

इतने पदों पर होनी है भर्ती

कुल 69,706 पदों पर शिक्षकों की भर्ती होगी. साथ ही पिछड़ा वर्ग और अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के अन्तर्गत कुल 916 पदों पर अध्यापकों की भर्ती होगी. दोनों मिला कर कुल 70,622 शिक्षकों की नियुक्ति होनी है. इसके लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पहले से ही जारी है. रजिस्ट्रेशन 14 नवंबर तक होगा. वहीं, आवेदन 25 नवंबर तक कर सकते हैं.

नहीं बढ़ाई जाएगी आवेदन की तिथि

बीपीएससी ने कहा है कि इसके बाद आवेदन की तिथि नहीं बढ़ायी जायेगी. बीपीएससी के अधिकारी ने कहा कि रजिस्ट्रेशन में बेसिक जानकारी मांगी गयी है. वहीं, आवेदन में सभी डॉक्यूमेंट का स्कैन कॉपी के साथ अन्य जानकारी भरनी होगी. परीक्षा सात से 10 दिसंबर तक होगी. रिजल्ट इसी वर्ष के अंतर तक जारी कर दिया जायेगा

Also Read: बिहार शिक्षक भर्ती: BPSC ने पांच और शिक्षक अभ्यर्थियों से मांगा स्पष्टीकरण, भेजा कारण बताओ नोटिस, जानिए वजह

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें