26 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

KBC में 5 करोड़ जीतने वाले सुशील का एक और कमाल, BPSC टीचर बन अब सरकारी स्कूल में बच्चों को पढ़ाएंगे

केबीसी में पांच करोड़ जीतने वाले सुशील कुमार अब टीचर बन गए. बीपीएससी टीआरईओ 2.O में वर्ग 11वीं-12 के साइकॉलोजी विषय में विद्यालय अध्यापक पद पर चयन हुआ है. सुशील कुमार मोतिहारी के रहने वाले हैं और उनकी पोस्टिंग गृह जिले में होगी.

वर्ष 2011 यानि 12 साल पहले केबीसी (कौन बनेगा करोड़पति) शो में पांच करोड़ जीत कर सुर्खियां बटोरने वाले बिहार के सुशील कुमार ने अब शिक्षा के क्षेत्र में अपने योगदान का आगाज किया है. अब वो बिहार के बच्चों को सरकारी स्कूल में साइकॉलोजी (मनोविज्ञान) विषय पढ़ाएंगे. सुशील का चयन बीपीएससी शिक्षक नियुक्ति परीक्षा के दूसरे चरण के अंतर्गत वर्ग 11वीं-12 कक्षा के लिए हुआ है. उन्होंने 119 वीं रैंक प्राप्त की है. इसके साथ ही सुशील कुमार का चयन बीपीएससी शिक्षक कक्ष 6 से 8 में भी हुआ है. सोशल साइंस विषय के लिए उनको सलेक्ट किया गया है. जिसमें उनकी रैंक 1692 है. इस बात की जानकारी उन्होंने स्वयं सोशल मीडिया पर दी है.

गृह जिले में होगी पोस्टिंग

मोतिहारी के हनुमानगढ़ निवासी सुशील कुमार ने बताया कि उनकी पोस्टिंग उनके गृह जिले में होगी. उन्होंने 15 दिसंबर को मुजफ्फरपुर के आरडीएस कॉलेज में शिक्षक पात्रता परीक्षा दी, जिसमें वे सफल रहे. शिक्षा के क्षेत्र में अद्वितीय योगदान के लिए चयनित होने पर सुशील कुमार ने कहा कि चयनित होने पर उन्हें काफी संतुष्टि महसूस हो रही है. उन्होंने यह भी कहा कि अभी काउंसलिंग होनी बाकी है और उन्हें जल्द ही अपनी ड्यूटी शुरू करनी है.

केबीसी सीजन 5 में सुशील ने जीती थी पांच करोड़ की राशि

सुशील कुमार साल 2011 में केबीसी सीजन 5 के विजेता बने थे. जहां उन्होंने 5 करोड़ रुपये की रकम जीती थी. जिसके बाद वह सुर्खियों में आ गए और उनकी जिंदगी बदल गई. सभी लोग उन्हें पहचानने लगे. वे जहां भी जाते, लोग उन्हें घेर लेते. वह एक प्रकार का स्थानीय सेलिब्रिटी बन गए थे. इस दौरान वह स्थानीय स्तर पर कई कार्यक्रमों में अतिथि के तौर पर भी शामिल होते रहे. केबीसी में जीतने से पहले, सुशील ने 2007 में पढ़ाई के दौरान मनरेगा में कंप्यूटर ऑपरेटर के रूप में काम किया और पश्चिम चंपारण के चनपटिया ब्लॉक में काम किया.

Also Read: BPSC TRE मल्टीप्ल रिजल्ट की उम्मीद कर रहे अभ्यर्थियों को अतुल प्रसाद ने दी सलाह, काउंसलिंग को लेकर कही ये बात

सुशील के सामने आईं कई चुनौतियां

केबीसी से 5 करोड़ रुपये जीतने के बाद सुशील ने कई बिजनेस भी शुरू किए, लेकिन हर बार उन्हें नुकसान उठाना पड़ा. उनका पढ़ाई से भी मोहभंग हो गया था. धीरे-धीरे उनके जीवन में कई चुनौतियां आईं. उनका अपनी पत्नी से भी मतभेद रहने लगा. इस बीच वह काम के लिए मुंबई भी गए लेकिन वहां भी उनका मन काम में नहीं लगा और वापस लौट आए. लेकिन 2016 में उन्होंने एक बार फिर पढ़ाई पर ध्यान देना शुरू किया और अब उन्होंने बीपीएससी की परीक्षा पास कर ली है और टीचर बन गए हैं.

Also Read: BPSC ने जारी किया माध्यमिक के सामाजिक विज्ञान और 11वीं-12वीं के छह विषयों का रिजल्ट, 16931 अभ्यर्थी सफल

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें