23.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Road Accident in Gaya: बिहार में कोहरे का कहर, सड़क हादसे में छह छात्र जख्मी…

Road Accident in Gaya: बिहार के गया जिले के इमामगंज में कोहरे के चलते बस ने टोटो के बीच टक्कर हो गई. इस टक्कर में 6 लोग जख्मी हो गए हैं. यह घटना इमामगंज थाना क्षेत्र के डुमरिया- पटना स्टेट हाईवे 69 के स्थित बगिया गांव के पास की है.

बिहार में कोहरे के कारण सड़क हादसे की घटनायें बढ़ गई है. मौसम विभाग का कहना है कि अभी बिहार में तीन दिन तक और कोहरे का कहर बना रहेगा. कोहरे के कारण बिहार के गया जिला में हुए सड़क हादसे में छह लोगों के जख्मी होने की सूचना है. घटना के संबंध में स्थानीय लोगों ने बताया कि बिहार के गया जिले के इमामगंज में कोहरे के चलते बस ने टोटो के बीच टक्कर हो गई. इस टक्कर में 6 लोग जख्मी हो गए हैं. यह घटना इमामगंज थाना क्षेत्र के डुमरिया- पटना स्टेट हाईवे 69 के स्थित बगिया गांव के पास हुई.

जख्मी कोचिंग के लिए जा रही थी

आस पास के लोगों ने बताया कि जख्मी सभी छात्र कोचिंग के लिए जा रही थी. इसी क्रम में बगिया गांव के पास यह टक्कर हुई. टक्कर इतनी जोरदार था कि टोटो का परखचे निकल गए. घटनास्थल के आस पास में उपस्थित लोग इस घटना के बाद सभी को फटाफट इलाज के लिए पास में स्थित स्वास्थ्य केंद्र लेकर गए. जहां पर इनका प्राथमिक उपचार करने के बाद गया मेडिकल कॉलेज और अस्पताल भेज दिया गया.

सभी जख्मी की हुई पहचान

बताया जा रहा कि जख्मी सभी की स्थिति गंभीर है. जख्मी की पहचान मैरा गांव निवासी सुरुचि कुमारी, मैरा गांव निवासी काजल कुमारी, बड़का कराशन गांव कीअंजली कुमारी, अदवत गांव निवासी नाजिया खातून, मैगरा थाना क्षेत्र के चोनहा गांव निवासी मो. अफरोज खान के रुप में हुई है.

Also Read: Bihar Politics: इंडिया गठबंधन का संयोजक बनने से नीतीश का इंकार, पढ़िए मल्लिकार्जुन खरगे को लेकर क्या है अपडेट
औरंगाबाद में कोचिंग से लौट रहे छात्र को अज्ञात वाहन ने रौंदा

बिहार के औरंगाबाद जिला के कासमा थाना क्षेत्र के पांडेय कर्मा गांव स्थित पेट्रोल पंप के समीप अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक 12 वर्षीय छात्र की मौत हो गयी. मृतक की पहचान गया जिले के गुरुआ थाना क्षेत्र के फुलवरिया निवासी उपेंद्र रविदास के पुत्र नीतीश कुमार के रूप मे हुई है. शनिवार की दोपहर सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के दौरान मृतक के पिता उपेंद्र रविदास ने बताया कि नीतीश बचपन से ही कासमा थाना क्षेत्र के पांडेय कर्मा गांव में अपने बुआ के घर रहकर पढ़ाई करता था. पढ़ाई के साथ-साथ वह बुआ के कामकाज में भी हाथ बटाता था.

कोचिंग करने कासमा बाजार गया था

शुक्रवार की शाम कोचिंग करने कासमा बाजार गया था. वापस लौटने के दौरान पांडेय कर्मा गांव स्थित पेट्रोल पंप के समीप अज्ञात वाहन ने उसे रौंद दिया, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गयी. इधर, जानकारी मिली कि घटना के कुछ ही क्षण बाद आसपास के लोगों की भीड़ लग गयी. कुछ देर के लिए स्थानीय लोगों ने सड़क जाम भी किया था. हालांकि, नीतीश को जिंदा समझकर अस्पताल भी पहुंचाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. वैसे कुछ लोगों की सूचना पर बदहवास परिजन पहुंचे और नीतीश का शव देखते ही चीत्कार उठे.

कुछ ग्रामीणों ने बिलखते परिजनों को होनी का हवाला देते हुए ढांढ़स बंधाया,जिसके बाद कासमा थाना की पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद भेज दिया. थानाध्यक्ष मनेष कुमार ने बताया कि दुर्घटना में एक छात्र की मौत हुई है. पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है. बड़ी बात यह है कि नये वर्ष के पहले माह के 13 दिनों में लगभग आधे दर्जन लोगों की मौत हो चुकी है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें