1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. rajiv pratap rudy replied rajesh ranjan alias pappu yadav arrested in bihar ambulance case avh

'अगर अपराधी मंदिर में बैठ जाए तो संत नहीं हो जाएगा', Pappu Yadav की गिरफ्तारी पर पहली बार बोले राजीव प्रताप रुडी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
राजीव प्रताप रूडी
राजीव प्रताप रूडी
फेसबुक

पप्पू यादव की गिरफ्तारी के बाद आज पहली बार सारण के एमपी राजीव प्रताप रूडी ने चुप्पी तोड़ी है. विगत कई दिनों से एम्बुलेंस प्रकरण समाचार माध्यमों में चल रहा था. इस संदर्भ में मंगलवार को राजीव प्रताप रुडी ने सिलसिलेवार इस सप्ताह में आये तमाम सवालों के जवाब दिये और पप्पू यादव के अपराधों की फेहरिस्त गिनाये. आज वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में पूर्व केंद्रीय मंत्री और सारण सांसद राजीव प्रताप रुडी ने पप्पू यादव के संदर्भ में कहा कि मंदिर में बैठा हर अपराधी संत नहीं होता.

उन्होंने कहा कि यह सर्वविदित है कि राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव का राजनीति में पदार्पण अपराध जगत से हुआ जबकि रुडी पंजाब विश्वविद्यालय में छात्र राजनीति के पश्चात देश सेवा के लिए राजनीति की मुख्य धारा में शामिल हुए. इंश्योरेंस समाप्त होने, चालक के बीमार होने या छोड़कर चले जाने के कारण सामुदायिक केंद्र पर खड़े एम्बुलेंसों का विवरण पूर्व केंद्रीय मंत्री रुडी ने दिया और यह बताया कि यह किस कारण से खड़े थे. सांसद रुडी ने संचालित सभी एम्बुलेंसो की संचालन व्यवस्था का लाइव विडियो भी दिखाया.

सांसद रुडी ने सांसद कंट्रोल रूम से जीपीएस से ट्रैकिंग करते हुए सभी एम्बुलेंसों को दिखाया. साथ ही वर्ष 2019 में खरीदे गये सभी एंबुलेंस आज तक कितने किलोमीटर चले है उसका डाटा भी स्क्रिन पर दिखाया और कहा कि हमारे मित्र ने ये सवाल उठाया था कि इतने सारे एम्बुलेंस कैसे और क्यों चलाये जा रहे है, कहां रखे गये हैं. इसको लेकर उन्होंने लोगों के मन में भ्रम संशय और जाने-अनजाने दुर्भावना भी पैदा किया. उन्होंने कहा कि यह सब कहने से पहले उन्हें इसे देख लेना चाहिए था. मुझे ये नहीं पता था कि किस हैसियत से पूर्व सांसद पूरे बिहार के स्वास्थ्य के इंस्पेक्टर बन गये है और उनको एक अधिकार प्राप्त हुआ है कि वो जगह-जगह निरीक्षण करके वो व्हिसलब्लोअर का काम करें.

वर्चुअल प्रेस वार्ता में सांसद रुडी ने पप्पू यादव द्वारा वर्ष 2014 में चुनाव आयोग को दिये गये शपथ पत्र को भी दिखाया जिसमें 32 आपराधिक मामलों का उल्लेख था. उन्होंने कहा कि कितने आपराधिक मामले दर्ज हैं और कितने आपराधिक मामले ट्रायल में है इसका उल्लेख पप्पू यादव ने स्वयं अपने शपथ पत्रों में किया है. यह मैं नहीं कह रहा, उन्होंने स्वयं इस बात को अपने शपथ पत्र में कबूल किया है.

इसके साथ ही सांसद ने इसके अतिरिक्त भी कुल 17 अन्य आपराधिक मामलों की जानकारी दी जिसे इन्होंने चुनाव आयोग को दिये अपने शपथ पत्र में छिपाया है. सांसद रुडी यह कहते हुए कि आज की पीढ़ी जो इनके संदर्भ में नहीं जानती उनके लिए पुरूलिया कांड के मुख्य आरोपी किम डेवी का एक विडियो भी दिखाया जिसमें उसने उसे भगाने वाले सांसद का नाम लिया था.

पप्पू यादव का पलटवार- वहीं रूडी के बयान पर पप्पू यादव ने पलटवार किया है. पप्पू यादव ने ट्वीट कर लिखा, 'रूडी जी भुसकोल विद्यार्थी का बस्ता मोट भ्रष्टाचारी नेता के बहाने में खोट. हमने एम्बुलेंस चोरी का उद्भेदन किया तो ड्राइवर नहीं होने का बहाना. अब कह रहे है गाड़ी का फिटनेस बीमा फेल था अभी तो शुरुआत हुई है अभी आपका बहुत काला चिट्ठा निकलने वाला है. घबराएं नहीं!'

Posted By: Avinish Kumar Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें