25.1 C
Ranchi
Wednesday, February 28, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

ईडी ने नौकरी के बदले जमीन मामले में की कार्रवाई, राबड़ी देवी व मीसा भारती के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल

Land For Job Case: ईडी की ओर से नौकरी के बदले जमीन मामले में कार्रवाई की गई है. बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और सांसद मीसा भारती के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल हुआ है.

Land For Job Case: ईडी ने ‘नौकरी के बदले जमीन’ मामले में आरोप पत्र दाखिल किया है. लैंड फॉर जॉब से संबंधित धन शोधन मामले में ईडी की ओर से मंगलवार को कार्रवाई की गई है. बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, उनकी बेटी व सांसद मीसा भारती के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल हुआ है. दरअसल, एक अधिकारी की ओर से यह जानकारी साझा की गई है. नौकरी के बदले जमीन के कथित घोटाले मामले में ईडी ने सात लोगों को आरोपी बनाया है. दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट में प्रवर्तन निदेशालय की ओर से चार्जशीट दायर की गई है. इसमें राबड़ी देवी और मीसा भारती के अलावा हिमा यादव, अमित कत्याल और हृदयानंद चौधरी का नाम शामिल है. वहीं, इस चार्जशीट पर 16 जनवरी को सुनवाई होने की बात सामने आ रही है. जानकारी के अनुसार इस मामले में सीबीआई के द्वारा भी पहले चार्जशीट दायर की गई थी.

तेजस्वी यादव नहीं हो सके थे पेश

वहीं, इससे पहले नोकरी के बदले जमीन के मामले में बिहार के मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पेश नहीं हुए थे. लालू यादव सरकार में रेल मंत्री थे. उस दौरान लैंड फॉर जॉब घोटाले की बात सामने आई थी. वहीं, उपमुख्यमंत्री को पहले भी पूछताछ के लिए बुलाया गया था. 22 दिसंबर को इन्हें बुलाया गया था. इसके बाद पांच जनवरी को भी इन्हें बुलाया गया था. लेकिन, व्यस्त होने के कारण डिप्टी सीएम का दिल्ली जाने का कार्यक्रम नहीं बन पाया. 22 दिसंबर को लालू यादव को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया था. लेकिन, राजद सुप्रीमो भी ईडी के समक्ष पेश नहीं हो सके थे.

Also Read: Bihar Politics: जदयू की दो टूक, 16 सीटिंग सीट पर कोई समझौता नहीं, बची सीटें आपस में बांट लें
जानिए लैंड फॉर जॉब का क्या है मामला..

लालू यादव यूपीए वन की सरकार में रेलमंत्री थे. साल 2004 और 2009 तक में भारतीय रेलवे के अलग- अलग जोन में कई लोगों की नियुक्ति हुई थी. इसमें आरोप है कि इन्होंने लालू यादव और उनके परिवार के सदस्यों को अपनी जमीन दी थी. ईडी की ओर से इसमें दावा किया गया था कि अमित कात्याल इस कंपनी के निर्देशक थे. इसमें जमीन को हस्तांतरित किया गया था. आरोप है कि अमित कात्याल ने कंपनी में जमीन ली थी.

Also Read: Bihar Politics: शिक्षा मंत्री ने ‘मंदिर’ पर फिर दिए विवादित बयान, एनडीए का पलटवार, जदयू ने भी जतायी नाराजगी

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें