1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. sushant singh death case investigating officer who went to mumbai for investigation returned to bihar questioned 12 people including checking bank accounts in 11 days

Sushant Singh death case: जांच के लिए मुंबई गये जांच अधिकारी बिहार लौटे, 11 दिनों में बैंक खातों की जांच समेत 12 लोगों से की पूछताछ

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पटना लौटी बिहार पुलिस टीम
पटना लौटी बिहार पुलिस टीम
ANI

पटना : सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह की प्राथमिकी के बाद जांच करने के लिए मुंबई गयी बिहार पुलिस की टीम गुरुवार को पटना लौट आयी. पिछले 11 दिनों में बिहार पुलिस की टीम ने सुशांत सिंह राजपूत के बैंक खातों की जांच करने के साथ करीब 12 लोगों से पूछताछ की है. मालूम हो कि सुशांत के पिता ने राजधानी पटना के राजीव नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी थी. इसके बाद थाना प्रभारी के नेतृत्व में चार सदस्यीय टीम मामले की जांच के लिए मुंबई गयी थी.

बाद में पटना मध्य के पुलिस अधीक्षक विनय तिवारी अब भी महाराष्ट्र में कोरेंटिन हैं. आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी मुक्त किये जाने को लेकर मुंबई में धरने पर बैठ गये हैं. उनका विरोध जारी है. मुंबई पहुंचने पर बीएमसी ने उन्हें कोरेंटिन कर दिया था. वह पिछले चार दिनों से कोरेंटिन हैं.

बताया जाता है कि सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच सीबीआई को सौंपे जाने के बाद बिहार पुलिस की टीम अपनी पूरी रिपोर्ट अब बिहार सरकार को सौंपेगी. इस रिपोर्ट के आधार पर बिहार सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपना जवाब दाखिल करेगी.

मुंबई में कोटक महिंद्रा बैंक की बांद्रा शाखा पहुंची थी बिहार पुलिस की टीम
मुंबई में कोटक महिंद्रा बैंक की बांद्रा शाखा पहुंची थी बिहार पुलिस की टीम
ANI

मालूम हो कि बिहार पुलिस की टीम को मुंबई पुलिस की टीम से कोई सहयोग नहीं मिला. इसके बावजूद बिहार पुलिस की टीम जांच जारी रखी और पिछले 11 दिनों में करीब 12 लोगों से मामले में बिहार पुलिस की चार सदस्यीय टीम ने पूछताछ की.

उम्मीद जतायी जा रही है कि सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को होनेवाली सुनवाई के दौरान बिहार सरकार आईपीएस अधिकारी को कोरेंटिन किये जाने का मामला उठा सकती है. मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को सुनवाई करते हुए नाराजगी जताते हुए कहा था कि इससे बिहार को अच्छा संदेश नहीं गया है.

बीजेपी नेता ने ट्वीट कर बताया महाराष्ट्र सरकार को बेशर्म, कहा...

सुप्रीम कोर्ट की तल्ख टिप्पणी के बाद भी महाराष्ट्र की शिवसेना और एनसीपी की गठबंधन सरकार इतनी बेशर्म बनी हुई है कि हमारे अधिकारी को अब भी कोरेंटिन किया हुआ है. जो लोग मामले में आरोपित हैं, ये लोग उन्हीं के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट में गये. सीबीआई जांच के खिलाफ गये हैं. इससे आप समझ सकते हैं कि एक तरह से मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार सबूतों को मिटाने और तथ्यों से छेड़छाड़ करने में लगी हुई है. जो अफवाह उड़ रहा है, वह सत्य प्रतीत हो रहा है. महाराष्ट्र के लोगों और बिहार वासियों से यही अपील करूंगा कि जो भी जानकारियां आपके पास हैं, वह बिहार पुलिस और सीबीआई को दें. क्योंकि, हमलोगों को महाराष्ट्र की सरकार और मुंबई पुलिस पर भरोसा नहीं है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें