1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. pm narendra modi going to talk with 73 children of bihar about education and health in patna news

PM नरेंद्र मोदी बिहार के 73 बच्चों से करेंगे बात, शिक्षा एवं स्वास्थ्य के विषय पर होगी चर्चा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार के उन 73 बच्चों से बात करेंगे जिन्होंने कोरोना के कारण अपने मां बाप को खो दिया है. इसके लिए जिलाधिकारियों को तैयारी करने का निर्देश दिया गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
PM नरेंद्र मोदी बिहार के 73 बच्चों से करेंगे बात
PM नरेंद्र मोदी बिहार के 73 बच्चों से करेंगे बात
फाइल फोटो

कोरोना महामारी ने कई परिवार उजाड़ दिए, कितने ही बच्चों ने अपने मां बाप खो दिया है. इन्हीं बच्चों का हाल जानने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन बच्चों से स्वयं बात करेंगे. इस बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री बच्चों से उनकी खैरियत के साथ साथ उनके पढ़ाई लिखाई को लेकर भी चर्चा करेंगे.

बात करने की तारीख अभी तय नहीं 

समाज कल्याण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार अभी तक इन बच्चों को प्रधानमंत्री से बात करने की तारीख के बारे में नहीं बताया गया है. परंतु संभावना है की इसी महीने में प्रधानमंत्री बच्चों से बात करेंगे. कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों के साथ प्रधानमंत्री की बातचीत के लिए समाज कल्याण विभाग के द्वारा सभी जिलाधिकारियों को तैयारी का निर्देश दिया गया है.

73 बच्चों से प्रधानमंत्री करेंगे बातचीत 

जिन जिलों के यह बच्चे हैं उन्हें प्रधानमंत्री से बातचीत के लिए तय तारीख के दिन समाहरणालय परिसर लाया जाएगा जहां जिले के संबंधित डीएम की मौजूदगी में बातचीत होगी. बिहार में 73 ऐसे बच्चे है जो कोरोना काल में अपने मां बाप को खो चुके हैं. इन बच्चों को राज्य सरकार अपनी ओर से प्रति महीने पंद्रह सौ रुपये की राशि देती है.

पिछले साल बाल सहायता योजना की हुई थी शुरुआत 

पिछले साल मई में राज्य सरकार ने इसके लिए बाल सहायता योजना की शुरुआत की थी. वहीं केंद्र सरकार ने भी पिछले वर्ष मई में कोरोना से अनाथ हुए बच्चों के लिए योजना शुरू की थी. पीएम केयर्स फंड से संचालित होने वाली इस योजना के क्रियान्वयन के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय को नोडल महकमा बनाया गया है.

दस लाख रुपये का एक कार्पस फंड

केंद्र सरकार की इस योजना के तहत बच्चों की शिक्षा एवं स्वास्थ्य पर ध्यान दिया जाना है. इससे अलग दस लाख रुपये का एक कार्पस फंड बनाया जाएगा, जिसके तहत बच्चों की उम्र 18 वर्ष हो जाने के बाद 23 वर्ष की उम्र तक मासिक भत्ता दिया जाएगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें