1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. patna saran and sonpur 4 children drowned in the ganges river divers kept searching for the whole day rdy

पटना, सारण और सोनपुर गंगा नदी में डूबे 4 बच्चे, दिनभर तलाश करते रहे गोताखोर, अब तक नहीं मिले दो बच्चे

बिहार के अलग अलग जगहों पर चार बच्चे डूब गये है. पटना गंगा नदी में नहाने के दौरान दो बच्चे डूब जाने से लापता है. दोनों बच्चों को गोताखोर दिनभर तलाश करते रहे, लेकिन सफलता नहीं मिली. वहीं सरण जिले में 32 घंटे बाद नदी में डूबे आयुष का शव आज मिला.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
गंगा नदी में डूबे 4 बच्चे
गंगा नदी में डूबे 4 बच्चे
फाइल फोटो

पटना. मोकामा गंगा नदी में नहाने के दौरान डूबे दो बच्चे लापता हो गये. यह हादसा मोकामा थाना अंतर्गत कन्हायपुर में रविवार की सुबह नौ बजे हुआ. लापता बच्चों में कन्हायपुर वार्ड एक निवासी विजय कुमार यादव की बेटी सुग्गा कुमारी (8वर्ष) और रामपुकार राय की बेटी रजनी कुमारी उर्फ टुलो (6 वर्ष) शामिल है. अनहोनी की आशंका को लेकर परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. ग्रामीणों ने बताया कि दोनों बच्चे अपनी मां व परिजनों के साथ नहाने गये थे. नहाने के बाद दोनों को तट पर खड़ा कर दिया गया. इधर परिजन नहाने लगे. इसी बीच बच्चे दोबारा गंगा नदी में कूद गये. वहीं गहरे पानी में समां गये. परिजनों की जब तक नजर पड़ी तब तक काफी देर हो चुकी थी. चीख पुकार सुन कर गांव से अन्य लोग दौड़ते भागते गंगा घाट पर पहुंचे. और बच्चों की तलाश में जुट गये.

दिनभर तलाश करते रहे गोताखोर

इधर घटना की सूचना पर अंचल टीम और स्थानीय पुलिस भी गंगा तट पर पहुंची. वहीं गोताखोरों की मदद से बच्चों की तलाश शुरू की. तकरीबन चार घंटे तक खोजबीन के बाद भी नतीजा सिफर रहा. तब जाकर सिमरिया घाट से एसडीआरएफ की टीम को बुलाया गया. एसडीआरएफ ने भी तकरीबन दो घंटे तक गंगा की खाक छानी. लेकिन नतीजा सिफर रहा. शाम हो जाने को लेकर फिलहाल तलाश रोक दी गयी. हालांकि परिजन बच्चों के मिलने की उम्मीद में गंगा किनारे भटकते रहे. थाना अध्यक्ष संजीत कुमार ने जानकारी दी कि लापता बच्चों को ढूंढ़ने में हरसंभव मदद की जायेगी. इस घटना के बाद लापता सुग्गा की मां पूजा देवी और टुलो की मां राधा देवी सदमे में आ गयी. पड़ोस के लोग उसे हिम्मत दे रहे थे.

गंगा नदी में डूबने से किशोर की मौत

सोनपुर. पहलेजा घाट धाम में गंगा नदी में स्नान करने गये एक किशोर की नदी में डूब जाने से मौत हो गयी. मृत किशोर कसमर गांव निवासी मुरारी गुप्ता का पुत्र मोनू कुमार था. यह खबर जैसे ही मोनू कुमार के घर पहुंचा परिवार वालों में कोहराम मच गया. जानकारी के अनुसार छात्र मोनू पहलेजा घाट धाम स्थित बलुआ घाट के समीप स्नान करने अपने दोस्तों के साथ पहुंचा था. पैर फिसल जाने के कारण वह गहरे पानी में चला गया और उसकी डूबने से मौत हो गयी.

32 घंटे बाद मिला नदी में डूबे आयुष का शव

सारण जिले के पानापुर थाना क्षेत्र के सारंगपुर घाट पर शनिवार की दोपहर गंडक नदी में डूबे किशोर का शव घटना के 32 घंटे बाद घटनास्थल से दो किलोमीटर दूर मथुराधाम घाट के सामने मिला. एसडीआरएफ की टीम रविवार की अहले सुबह से ही शव की तलाश में जुटी थी. वही स्थानीय प्रशासन भी शव की तलाश के लिए घाट पर मुस्तैद था. मालूम हो कि शनिवार की दोपहर उभवा सारंगपुर गांव निवासी रामनाथ प्रसाद के भतीजे शंकर साह के 15 वर्षीय पुत्र आयुष कुमार की गंडक नदी में स्नान करने के दौरान डूबने से मौत हो गयी थी.

आयुष अरुणाचल प्रदेश में रहता था, जो शादी समारोह में शामिल होने के लिए शुक्रवार को घर आया था. घटना की जानकारी मिलते ही सीओ रणधीर प्रसाद घटनास्थल पर पहुंचे एवं शव की तलाश के लिए एसडीआरएफ को सूचना दी. शनिवार की रात पहुंची एसडीआरएफ की टीम रविवार की सुबह से ही शव की तलाश में जुटी थी. शव देख परिजन दहाड़ मारकर रोने लगे. परिजनों के चीत्कार से घाट पर उपस्थित हर किसी की आंखे नम हो जा रही थी. वही सीओ रणधीर प्रसाद एवं प्रभारी थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार सारंगपुर घाट पर कैंप किये हुए थे, जबकि तरैया विधायक लगातार दूसरे दिन भी सारंगपुर घाट पहुंच हालात की जानकारी ले रहे थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें