1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. patna crime news bikers used to give shelter to gang members at home police sent builders wife to jail

बाइकर्स गैंग के सदस्यों को घर में देती थी शरण, पुलिस ने बिल्डर की पत्नी को भेजा जेल

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
Social media

पटना: पाटलिपुत्र कॉलोनी के युवक को अगवा करने के मामले में अपने बेटे व बाइकर्स गैंग के सदस्यों को घर में पनाह देना बिल्डर विश्वजीत सिंह की पत्नी मनीषा कुमारी को काफी महंगा पड़ गया है. पुलिस ने जांच में बाधा डालने व पुलिस को गुमराह करने के मामले में बिल्डर की पत्नी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. पुलिस की मानें, तो पाटलिपुत्र के युवक अंकित कुमार को अगवा कर कोतवाली क्षेत्र स्थित महाराजा कॉम्प्लेक्स में बंधक बनाकर पीटने के बाद आरोपित के घर से पिस्टल की मैगजीन बरामद हुई थी.

पूछताछ  में पुलिस से झूठ बोला और गुमराह करने की कोशिश की

इस मामले में जब मनीषा से पूछताछ की गयी, तो उसने पुलिस से झूठ बोला और गुमराह करने की कोशिश की. शुक्रवार को महिला पुलिस के सहयोग से बिल्डर की पत्नी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया, जबकि इस मामले में फरार चल रहे बिल्डर और उसके बेटे मिशेल रंजन की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है.

लग्जरी कार में अगवा किया था बिल्डर के बेटे ने

पुलिस के मुताबिक बिल्डर का बेटा मिशेल रंजन एक बाइकर्स गैंग का करीबी है. उसके घर पर आये दिन बाइकर्स गैंग का जमावड़ा भी लगता था. इस काम में उसकी मां मनीषा भी बाइकर्स गैंग के सदस्यों को अपने घर में शरण देती थी. बीते जनवरी माह में उसने अपने दोस्त बाउंसर व अन्य के साथ पाटलिपुत्र में अंकित नामक युवक को अपनी लग्जरी कार में जबरन बैठा कर उसे अगवा कर लिया था. बाद में उसे महाराजा कामेश्वर कॉम्प्लेक्स में बंधक बना कर पीटा था. सूचना पर पुलिस ने अंकित को मुक्त कराया, जबकि मिशेल फरार हो गया. पूछताछ में पीड़ित ने बताया था कि मिशेल द्वारा उसे पिस्टल के बल पर अगवा किया गया था.

नोटिस भेजने के बाद भी पिस्टल का नहीं दिखाया लाइसेंस

अगवा करने के बाद अंकित के परिजनों ने मिशेल सहित अन्य लोगों के खिलाफ कोतवाली थाने में एफआइआर दर्ज करायी. केस दर्ज कर जब पुलिस ने आरोपित के घर में छापेमारी की, तो उसके घर से तीन खोखे, मैगजीन और पिस्टल साफ करने वाला ब्रश बरामद हुआ. तब मिशेल की मां मनीषा ने पुलिस से कहा था कि मैगजीन उसके पति के लाइसेंसी पिस्टल की है. जांच में यह झूठ पाया गया. पुलिस के मुताबिक उसके पति के पास शस्त्र का कोई लाइसेंस नहीं है. पुलिस के मुताबिक कई बार नोटिस देने के बाद भी मनीषा ने पुलिस को लाइसेंस उपलब्ध नहीं कराया. इस आरोप में उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. पुलिस फरार सभी आरोपितों को जल्द गिरफ्तार करने का दावा कर रही है.

Posted By : Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें