1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. patliputra university students demonstrait for many demands in patna bihar news

पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी में छात्रों का हंगामा, परीक्षा नियंत्रक को हटाने सहित कई मांगो को लेकर प्रदर्शन

पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी में आज छात्रों ने जमकर बवाल एवं तोड़फोड़ किया है. हंगामा कर रहे छात्रों की मांग है कि उनके सेमेस्टर को जल्द से जल्द पूरा किया जाए.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रदर्शन करते छात्र
प्रदर्शन करते छात्र
social media

पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी में आज छात्रों ने जमकर बवाल एवं तोड़फोड़ किया है. हंगामा कर रहे छात्रों की मांग है कि उनके सेमेस्टर को जल्द से जल्द पूरा किया जाए. छात्रों का आरोप है की यूनिवर्सिटी में समय पूर्वक एग्जाम नहीं हो पाता है और ना ही सही से पढ़ाई कराई जाती है. जिस कारण से छात्रों को पढ़ाई में परेशानी का सामना करना पड़ता है.

पैसे की धांधली का आरोप 

साथ ही छात्रों का यह भी कहना है की यहां पैसे की धांधली की जाती है. छात्रों का कहना है कि कभी स्कूटनी तो कभी फार्म भरने के नाम पर पैसे की उगाही की जाती है. छात्रों का आरोप है कि यूनिवर्सिटी प्रशासन द्वारा करोड़ों रुपए का गबन किया गया है. छात्र ने सेशन लेट होने पर भी नाराजगी जताई है.

कॉलेज प्रशासन के खिलाफ जमकर नारे बाजी

बात दें की छात्रों ने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ जमकर नारे बाजी करते हुए अपनी मांगो को भी सामने रखा. छात्रों ने परीक्षा नियंत्रक को हटाने की मांग को लेकर जमकर तोड़-फोड़ किया. इतना ही नहीं छात्रों ने आंदोलन करने की भी चेतावनी दी है. छात्रों ने नारे बाजी करते हुए पाटलीपुत्र यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर से उनकी स्थिति की भी मांग कर रहे हैं.

यूनिवर्सिटी के अंदर भी हंगामा

प्रदर्शन के दौरान पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी के अंदर भी छात्रों ने हंगामा किया साथ ही तोड़फोड़ भी की है. छात्रों का यूनिवर्सिटी प्रसाशन पर आरोप है कि कॉलेज में अच्छे से पढ़ाई नहीं करवाई जाती है. छात्रों की मांग है कि इन सभी खामियों को दूर किया जाए और यूनिवर्सिटी में पढ़ाई का बेहतर माहौल बनाया जाए.

एग्जाम कंट्रोलर के इस्तीफे की मांग

छात्रों ने एग्जाम कंट्रोलर के इस्तीफे की भी मांग की है. छात्रों ने मांग की कि एक्जाम कंट्रोलर को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त किया जाएं. हंगामा कर रहे छात्रों ने कहा कि अगर परीक्षा नियंत्रक को बर्खाश्त नहीं किया जाता है, यह आंदोलन व्यापक रूप लेगा. जरुरत पड़ी तो कुलपति के साथ कुलाधिपति का भी घेराव किया जाएगा. लेकिन इस एक्जाम कंट्रोलर को विवि से हटाए बिना यह आंदोलन खत्म नहीं होगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें