32.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बिहार के सभी जिलों में खुलेंगे मेडिकल कॉलेज, जमीन तलाशने के लिए होगी विशेष टीम

तेजस्वी यादव ने कहा कि अस्पतालों के निर्माण में जमीन एक बड़ी समस्या है. विशेषकर निचले स्वास्थ्य संस्थानों में अब भी दर्जनों ऐसे हैं जो सामुदायिक भवन या किराये के मकान में चल रहे हैं. इस समस्या को दूर करने के लिए स्वास्थ्य विभाग एक स्पेशल डेडिकेटेड टीम बनायेगा.

बिहार विधान परिषद में मंगलवार को दिलीप कुमार सिंह के ध्यानाकर्षण का जवाब देते हुए स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज खोले जायेंगे. उन्होंने कहा कि 23 जिलों में अभी 24 मेडिकल कॉलेज हैं. इनमें से नौ संचालित हैं, जबकि 15 का निर्माण कार्य चल रहा है. मंत्री की इस घोषणा से 15 जिलों में नये मेडिकल कॉलेज खोलने का रास्ता प्रशस्त हो गया है.

सभी जिलों में खोले जायेंगे मेडिकल कॉलेज

प्रश्नकर्ता का कहना था कि औरंगाबाद से होकर तीन नेशनल हाइवे गुजरता है. परिवहन विभाग के अनुसार हर साल 300 से अधिक लोगों की मौत हो रही है. ऐसे में मेडिकल कॉलेज का होना जरूरी है. अगर कॉलेज खोलने में देरी हो, तो कम -से -कम ट्रॉमा सेंटर खोला जाना चाहिए. इस पर उन्होंने ने कहा कि जिलों में अभी सदर अस्पताल कार्यरत हैं , जहां दुर्घटना वाले मरीजों का इलाज होता है. पड़ोस में गया में मेडिकल कॉलेज भी है, लेकिन सरकार इस योजना पर काम कर रही है कि जिस जिले में मेडिकल कॉलेज नहीं हैं, वहां नये खोले जाएं. भविष्य में इस योजना पर काम किया जायेगा.

अस्पतालों के लिए जमीन खोजने को होगी विशेष टीम

विधान परिषद में मंगलवार को महेश्वर सिंह के तारांकित प्रश्न का जवाब देते हुए स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि अस्पतालों के निर्माण में जमीन एक बड़ी समस्या है. विशेषकर निचले स्वास्थ्य संस्थानों में अब भी दर्जनों ऐसे हैं जो सामुदायिक भवन या किराये के मकान में चल रहे हैं. इस समस्या को दूर करने के लिए स्वास्थ्य विभाग एक स्पेशल डेडिकेटेड टीम बनायेगा. पथ निर्माण विभाग के तर्ज पर स्वास्थ्य विभाग में यह टीम बनाने पर विचार हो रहा है, जो अस्पतालों के लिए जमीन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए जिलों से समन्वय कायम करेगी.

Also Read: लालू परिवार चोरी और सीनाजोरी में भरोसा रखता है, सुशील मोदी ने कहा- मुखिया का चुनाव लड़ने लायक भी नहीं रहे लालू
दूसरे राज्यों में कोरोना से मौत होने पर नहीं मिलेगा अनुदान

दिलीप कुमार सिंह के तारांकित सवाल के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री ने साफ किया कि दूसरे राज्यों में कोरोना से मौत होने पर अनुदान नहीं दिया जाना है. इस स्थिति में केंद्र सरकार की ओर से मिलने वाली राशि 50 हजार संबंधित राज्य की ओर से दिया जाना है. समीर कुमार सिंह के सवाल का जवाब देते हुए मंत्री ने कहा एमडी में चयन होने पर समस्तीपुर के चिकित्सक डॉ प्रमोद कुमार को विरमित नहीं किये गये मामले में जांच होगी. दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी. अशोक कुमार के सवाल का जवाब देते हुए मंत्री ने कहा कि पटना-रांची के बीच घाटी में दुर्घटना होने पर उपचार कराने में हो रही परेशानी को देखते हुए सरकार रजौली में ट्रॉमा सेंटर का निर्माण करायेगी. इस दिशा में कार्रवाई जारी है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें