1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. cbse 10th result 2021 class 10 result assessment copy evaluation formulas jharkhand bihar up board exam result prt

CBSE Latest Updates: सीबीएसई 10वीं का 20 जून तक आ सकता है रिजल्ट, ऐसा है मूल्यांकन का फॉर्मूला, जानिए कैसे मिलेगा छात्रों को नंबर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
CBSE 10th results
CBSE 10th results
cbse
  • सीबीएसई 10वीं बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट

  • 20 जून तक आ सकते हैं परिणाम

  • कुछ ही शिक्षक करेंगे मूल्यांकन काम

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) 10वीं बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट 20 जून तक घोषित कर सकता है. लेकिन इस बार सीबीएसई के रिजल्ट तैयार करने में स्कूल के सभी शिक्षकों को ड्यूटी पर नहीं लगाया जाएगा. एक कमेटी बनाकर उसमें कुछ ही शिक्षकों को शामिल किया जाएगा. बात करें पटना की तो, पटना जोन में 10वीं बोर्ड का रिजल्ट के मूल्यांकन काम में सभी शिक्षकों को नहीं लगाया जाएगा. करीब 7 हजार 7 सौ के करीब शिक्षक मिलकर मूल्यांकन का काम करेंगे.

इधर, झारखंड में 10वीं के रिजल्ट तैयार करने के लिए स्कूल को 5 सदस्यीय शिक्षकों की कमेटी का गठन करना है़. इस कमेटी में विद्यार्थियों की ओर से चुने गये पांच मुख्य विषय के शिक्षक शामिल होंगे. खुद प्राचार्य चेयरपर्सन रहेंगे. इसके अलावा दो दूसरे स्कूल के शिक्षक और दो सीबीएसइ के प्रतिनिधि भी रहेंगे. दूसरे स्कूल और सीबीएसई प्रतिनिधि को पारदर्शी मूल्यांकन के लिए जोड़ा जायेगा.

इधऱ यूपी में भी जून तक परीक्षा परिणाम जारी कर दिए जाएंगे. यूपी में हर विषय में आंतरिक मूल्यांकन के 20 अंक और शैक्षणिक सत्र के दौरान हुए टेस्ट में मिले अंकों के आधार पर 80 अंक दिए जाएंगे. सभी स्कूल आठ-सदस्यीय रिजल्ट समिती का गठन करेंगे. इसमें विद्यालयों को यह सुनिश्चित करना होगा कि 10वीं बोर्ड की परीक्षा में विद्यार्थी को दिए गए अंक पिछले प्रदर्शन के अनुरूप ही हों. मूल्यांकन में सभी विद्यालयों को पारदर्शिता और ईमानदारी रखने के विशेष निर्देश दिए गए हैं.

गौरतलब है कि, पूरे देश में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है. ऐसे में स्कूल कॉलेजों को बंद कर दिया गया है. परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई है. जांच कार्य में भी पूरे शिक्षकों को नहीं लगाया जा रहा है. इससे पहले सीबीएसई कॉपियों के मूल्यांकण कार्य में सभी शिक्षकों को लगाती थी. लेकिन, इस बार कोविड महामारी के कारण बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी गई है. अब सिर्फ विषयवार असेसमेंट करना है. ऐसे में पूरे शिक्षकों की चयन न करके कुछ ही शिक्षकों का चयन किया जाएगा.

इस तरह होगा निष्पक्ष मूल्यांकनः सीबीएसई मूल्यांकन की प्रक्रिया को निष्पक्ष बनाने के लिए स्कूलों से एक रिजल्ट कमेटी बनाने का निर्देश जारी किया है. जिसमें स्कूल के प्रिंसिपल के साथ कुल सात सदस्य होंगे. इन सात सदस्यों में मैथ, सोशल साइंस, साइंस और भाषाओं के शिक्षक शामिल होंगे. इसके अलावा पड़ोसी स्कूल के भी दो शिक्षकों को शामिल किया जाएगा.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें