1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bpsc paper leak impact now cbse changed security rules for 10th and 12th exam news skt

BPSC पेपर लीक के बाद एग्जाम को लेकर CBSE सतर्क, बिहार में कड़ी निगरानी के बीच होगी 10वीं व 12वीं परीक्षा

बीपीएससी पेपर लीक कांड के बाद अब बिहार में सीबीएसई ने दसवीं और बारहवीं की परीक्षा को लेकर सख्ती बढ़ा दी है. अब आब्जर्वर की संख्या बोर्ड ने बढ़ा दी है. वहीं सेंटर और प्रश्न-पत्र पर भी पहरा कड़ा किया गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सांकेतिक तस्वीर.
सांकेतिक तस्वीर.
PTI Photo

बिहार में बीपीएससी की परीक्षा का पेपर लीक हो जाने के बाद अब अन्य परीक्षाओं को लेकर सख्ती बढ़ने लगी है. सीबीएसई ने दसवीं और बारहवीं की परीक्षा को लेकर अब चौकसी तेज कर दी है. बोर्ड ने आब्जर्वर की संख्या बढ़ा दी है. वहीं प्रश्नपत्रों की सुरक्षा को अब और कड़ा कर दिया गया है.

ऑब्जर्वर की जिम्मेदारी में बदलाव

सीबीएसई की 10वीं और 12वीं के टर्म-2 परीक्षा में आब्जर्वर की संख्या अब बढ़ा दी गयी है. एक ऑब्जर्वर को अब पहले की तुलना में कम भार दिया गया है. पहले जहां एक ऑब्जर्वर को पांच से छह स्कूल की जिम्मेदारी सौंपी गयी थी वहीं अब उनके कंधे पर केवल दो से तीन ही स्कूल की जिम्मेदारी होगी. परीक्षा के दौरान किसी भी तरह की गड़बड़ी नहीं होने के लिए उन्हें विशेष निर्देश भी दिये गये हैं.

300 ऑब्जर्वर की निगरानी में परीक्षा केंद्र

इस बार बिहार में 800 परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं. 300 ऑब्जर्वर की निगरानी में इन केंद्रों पर परीक्षा का आयोजन कराया जाएगा. फ्लाइंग स्क्वॉयड हर दिन केंद्रों पर जाकर जायजा लेगी. परीक्षा केंद्र से बाहर 100 मीटर तक धारा 144 लागू रहेगा. परीक्षा हॉल में 18 छात्रों पर दो वीक्षक लगाये गये हैं. उधर बेहद कड़ी सुरक्षा व निगरानी के बीच ही प्रश्न-पत्र लाये और खोले जाएंगे.

सीलबंद प्रश्नपत्र की निगरानी कड़ी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, प्रश्न पत्र लाने में अब सेंटर सुपरिटेंडेंट के साथ ही ऑब्जर्वर को भी जाना होगा. सीलबंद प्रश्नपत्र की फोटो बोर्ड को भेजी जाएगी. ऑब्जर्वर को भी ये करना होगा. बता दें कि हाल में ही बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं प्रारंभिक परीक्षा का प्रश्न-पत्र लीक हो गया. सोशल मीडिया पर प्रश्न-पत्र वायरल होने के बाद परीक्षा रद्द की गयी. वहीं आरा के वीर कुंवर सिंह कॉलेज के सेंटर पर भारी गड़बड़ी पाई गयी. जिसमें ईओयू ने कॉलेज के प्राचार्य, एक बीडीओ, सेंटर सुपरिटेंडेंट समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें