1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar vidhan sabha chunav 2020 first phase election is challanging for hindustan awam morcha jitan ram manjhi led hum candidates including son in law to contest skt

Bihar Election 2020: जीतन राम मांझी के लिए अग्निपरीक्षा होगा पहला फेज, जहां खुद हारे चुनाव वहां दामाद को जिताने की होगी चुनौती

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
जीतन राम मांझी
जीतन राम मांझी
फाइल फोटो

अनुज शर्मा,पटना: बिहार विधानसभा चुनाव 2020 का पहला चरण हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (हम)के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ( Jitan Ram Manjhi) के लिए किसी अग्निपरीक्षा से कम नहीं है़. इस चरण में उनकी प्रतिष्ठा दांव पर लगी है़. चार सीटों में मांझी ही सिटिंग विधायक है़ं. पहले फेज में सात में चार सीटों पर उनके उम्मीदवार है़ं. इनमें भी तीन सीटों पर पिछला चुनाव हार चुकी है़. ऐसे में केवल अपनी ही सीट नहीं जीतनी बल्कि उनके अपनों की हार-जीत भी उनकी सियासी हैसियत को प्रभावित करेगी़.

हम पार्टी को मिली ये 5 सीटें... 

विधानसभा चुनाव 2015 में जदयू के खिलाफ लड़ा हम इस बार उसका ही घटक दल है़. एनडीए से हम को जो सात सीट मिली है़ं उनमें इमामगंज, बाराचट्टी, टेकारी, मखदुमपुर, सिकंदरा, कसबा और कुटुंबा है़ं. इमामगंज, बाराचट्टी, टेकारी और मखदुमपुर में पहले चरण में वोट डाले जायेंगे़. टेकारी समान्य सीट है़ बाकी तीन सीटें सुरक्षित है़ं. इमामगंज से जीतन राम मांझी, बाराचट्टी से समधिन ज्योति देवी, मखदुमपुर से दामाद देवेंद्र कुमार उम्मीदवार है़ं. टेकारी से पूर्व मंत्री अनिल कुमार है़ं. अनिल कुमार 2015 में भी हम की टिकट पर चुनाव लड़े थे़. वह 31813 वोटों से जदयू के अभय कुमार सिन्हा से हार गये थे़.

जीतन राम मांझी के लिए अपने दामाद को जिताना चुनौती

मखदुमपुर से देवेंद्र कुमार मांझी ने एनडीए उम्मीदवार के रूप में बुधवार को नामांकन किया़. पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के दामाद को राजद के सतीश दास चुनौती दे रहे है़ं. पेशे से इंजीनियर देवेंद्र सियासत के नये खिलाड़ी है़ं. इस सुरक्षित सीट पर राजद का बड़ा वोट बैंक है़. पिछले विधानसभा चुनाव में राजद के सूबेदार दास ने जीनत राम मांझी को 48777 वोटों से हराया था़. मांझी के लिए अपने दामाद को जिताना कम चुनौती नहीं है़.

पूर्व सीएम को टक्कर दे रहे पूर्व स्पीकर

जीतन राम मांझी ने बुधवार को गया के इमामगंज से नामांकन दाखिल किया. वह यहां से दूसरी बार चुनाव लड़ रहे हैं. पूर्व मुख्यमंत्री के मुकाबले में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी है़ं. वे जदयू से वर्ष 2000 से 2015 तक विधायक रहे हैं. पिछले चुनाव में मांझी को 79389 वोट मिले थे़. जदयू उम्मीदवार उदय नारायण चौधरी 49981 वोट लाकर दूसरे नंबर पर रहे थे़. इस बार तस्वीर उलटी है़. मांझी जदयू के साथ है़ं और चौधरी विरोध में है़ं. दोनों ही दलित जाति के बड़े चेहरे है़ं. यहां पिछले चुनाव में तीसरे नंबर पर नोटा था़.

समधिन को राजद की समता देवी दे रहीं टक्कर

बाराचट्टी में जीतनराम मांझी की समधिन ज्योति देवी (हम) का मुकाबला राजद की समता देवी से है़. ज्योति देवी 2010 में यहां से जेडीयू की विधायक चुनी गयी थी़ं. 2015 में राजद की समता देवी यहां लोजपा की सुधा देवी को 19126 वोटों से हराकर विधानसभा पहुंची़ं. विजेता को 70909 वोट मिले थे़.

Posted by : Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें