25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Bihar: PHED विभाग में चार हजार करोड़ के टेंडर रद्द, मंत्री ने लगाया पूर्व की सरकार पर गंभीर आरोप

Bihar: बिहार में पिछली सरकार के समय निर्गत टेंडर को रद्द करने का सिलसिला जारी है. लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के मंत्री नीरज कुमार बबलू ने अब तक चार हजार करोड़ के टेंडर को रद्द कर दिया है. उन्होंने पूर्व की महागठबंधन सरकार में गड़बड़ी का आरोप लगाया है.

Bihar: पटना. बिहार सरकार ने एक बार फिर पिछली सरकार के समय निर्गत टेंडर को रद्द कर दिया है. लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के मंत्री नीरज कुमार बबलू ने टेंडर को रद्द करने की घोषणा करते हुए पूर्व की महागठबंधन सरकार में गड़बड़ी का आरोप लगाया है. इसके पहले भी मंत्री पीएचईडी विभाग में गड़बड़ी को लेकर टेंडर रद्द कर चुके हैं. इस मामले में मंत्री ने कहा कि एनडीए की सरकार बनने के बाद सभी विभाग पिछली सरकार में हुए कामों की समीक्षा कर रहे हैं. लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग ने जांच के उपरांत अब तक करीब 4 हजार करोड़ का टेंडर रद्द कर दिया गया है. मंत्री ने कहा कि जब हमने पुराने टेंडर को जांच करवाया तो हमने पाया कि कई गांव मोहल्ला नल जल योजना से वंचित है. इसलिए अब उस गांव मोहल्ला को जोड़ेंगे एक घर छूटे ना इस पर विभाग काम करेंगी.

दोबारा निकलेगा टेंडर

मंत्री नीरज कुमार बबलू ने कहा कि इस टेंडर को रद्द करने के बाद अब नए सिरे से टेंडर निकाला जाएगा. मंत्री ने कहा कि 1 महीने के अंदर टेंडर पूरा कर लिया जाएगा और उसके बाद अगस्त महीने से काम शुरू भी कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि विभाग अब पुराने टेंडर को संशोधित करने का काम करेगा. नीरज कुमार बबलू ने कहा कि टेंडर में गड़बड़ी की बात अलग है. पिछले सरकार में क्या हुई है उस पर ज्यादा चर्चा करना नहीं चाहते है. हम मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना नल जल योजना को सुचारू रूप से हर घर तक शुद्ध जल पहुंचने के लिए उस टेंडर को रद्द कर नया टेंडर कर रहे हैं.

अब तक 4000 करोड़ का टेंडर रद्द

मंत्री ने बताया कि विभाग को हाईटेक किया जाएगा. विभाग में सोलर सिस्टम से पानी की टंकी भरना और बंद होने वाला सिस्टम लगाया जाएगा. कई दिनों तक बिजली गुल रहने से लोगों को पानी नहीं मिल पाता है. इसी को देखते हुए हाईटेक किया जा रहा है. इसके साथ ऑटोमेटिक नल लगाया जाएगा जिससे कि पानी की बर्बादी भी नहीं होगी. अभी तक 4000 करोड़ का टेंडर रद्द कर दिया गया है. पिछली सरकार में जो टेंडर हुआ था उसको लेकर शिकायत मिली थी. इस शिकायत पर हम लोगों ने जांच करवाया और जांच के उपरांत टेंडर को रद्द किया गया.

Also Read: Cricket in Bihar: राजगीर क्रिकेट स्टेडियम छह माह में होगा तैयार, इसी साल होंगे अंतरराष्ट्रीय मैच

15 वाटर एटीएम लगेगा

मंत्री नीरज कुमार बबलू ने कहा कि 4000 चापाकल लगाने का लक्ष्य है जिसमें 1500 चापाकल अभी तक लगाया जा चुका है. कुछ दिनों में सभी चापाकल लगा दिया जाएगा. राज्य में कुल 497 वॉटर टैंकर लोग स्वास्थ्य प्रमंडल में उपलब्ध है, जिसमें से आवश्यकता अनुसार 9 जिलों में 83 टैंकर के माध्यम से समस्या ग्रस्त क्षेत्र में ग्रामीणों को जलापूर्ति कराई जा रही है. राज्य में 15 वाटर एटीएम भी आवश्यकता अनुसार उपलब्ध कराई गई है. विभाग में ग्रामीण क्षेत्रों में समस्या को लेकर टोल फ्री नंबर और व्हाट्सएप नंबर जारी किया. टोल फ्री नंबर 1800 123 1121 व्हाट्सएप नंबर 8544 429024 पर सुबह 6:00 बजे से लेकर रात के 8:00 तक शिकायत कर सकते हैं. प्रतिदिन कितने शिकायत आ रहे हैं और निवारण हो रहा है इसका डायरी मेंटन किया जाएगा.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें