1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar panchayat election 2021 police strict action for panchayat chunav arms surrender latest updates skt

बिहार पंचायत चुनाव: जमा किये जाएंगे लाइसेंसी हथियार, जिला बदर होंगे उत्पाती हिस्ट्री वाले चेहरे

बिहार पंचायत चुनाव की तैयारी तेज हो गयी है. कुल 11 चरणों में पंचायत चुनाव कराये जाएंगे. जिसकी अधिसूचना भी जारी हो गयी है. पहले चरण का मतदान 24 सितंबर को कराया जायेगा. वहीं प्रशासन ने सख्ती बरतनी भी शुरू कर दी है. पटना डीएम ने लाइसेंसी हथियार जमा कराने की कवायद शुरू कर दी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 प्रतिकात्मक फोटो
प्रतिकात्मक फोटो
social media

बिहार पंचायत चुनाव की तैयारी तेज हो गयी है. कुल 11 चरणों में पंचायत चुनाव कराये जाएंगे. जिसकी अधिसूचना भी जारी हो गयी है. पहले चरण का मतदान 24 सितंबर को कराया जायेगा. वहीं प्रशासन ने सख्ती बरतनी भी शुरू कर दी है. पटना डीएम ने लाइसेंसी हथियार जमा कराने की कवायद शुरू कर दी है. वहीं चुनाव के दौरान उत्पात करने वालों पर भी शिकंजा कसा जाने लगा है.

24 सितंबर से 11 दिसंबर के बीच बिहार में कुल 11 फेज में पंचायत चुनाव कराये जाने हैं. चुनाव के ठीक पहले अपराधिक घटनाओं को भी अंजाम दिया जाने लगा है. मतदान को प्रभावित नहीं होने देने के लिए अब प्रशासन ने सख्ती बढ़ा दी है. पटना के जिलाधिकारी ने शत-प्रतिशत आर्म्स जमा कराने का आदेश दे दिया है. जिले को सेक्टर, जोन और सुपर जोन में बांट दिया जाएगा.

पंचायत चुनाव का बिगुल बजने के साथ ही पटना पुलिस ने भी अपनी तैयारी तेज कर दी है. चुनाव के दौरान उत्पात करने वाले चेहरों को चिन्हित किया जा रहा है. जिसपर शिकंजा कसने की तैयारी हो रही है. पूर्व के चुनावों में या बड़े त्योहारों में बवाल करने वाले चेहरों को भी चिन्हित किया जायेगा. जिन लोगों से शांतिभंग होने की आशंका होगी उन्हें जिलाबदर किया जाएगा. इसी तरह जेल में बंद उन अपराधियों पर क्राइम कंट्रोल एक्ट (सीसीए) के तहत कार्रवाई की जाएगी जिनसे चुनाव प्रभावित हो सकता है. उन्हें जमानत पर बाहर निकलने से रोका जाएगा.

गौरतलब है कि पंचायत चुनाव को लेकर पटना समेत कई जिलों से वारदात सामने आ रहे है. पिछले कुछ दिनों में पंचायत प्रतिनिधियों के रिश्तेदार या फिर पंचायत चुनाव में उम्मीदवारी दर्ज कराने वाले चेहरों के साथ हत्या तक की घटनाएं घट चुकी है. जिसके बाद प्रशासन इस तरफ सख्त कदम उठा रही है.

इस बार पंचायत चुनाव के दौरान संवेदनशील बूथों की कमान बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस बल के हाथ में होगी. विशेष सशस्त्र बल के गठन के बाद उसके लिए किसी चुनाव आयोजन में भाग लेने का मौका मिल रहा है.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें