1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar flood 2021 latest news of badh in champaran purnea gopalganj flood news today skt

Bihar Flood: बिहार में फिर गहराया बाढ़ का संकट, कटाव से नदी में समाये दर्जनों घर, नदियों में उफान से तबाही

बिहार में बाढ़ से एकबार फिर हालात बिगड़ गये हैं. गंडक और कोसी समेत कई नदियों में उफान जारी है. जिसकी जद में आने से पश्चिम चंपारण, मधुबनी और पूर्णिया समेत कई अन्य जिले भी प्रभावित हो चुके हैं. कई गांव जलमग्न हो चुके हैं जिसके कारण सैंकड़ों परिवार सड़क पर आ चुके हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बिहार में बाढ़ से बिगड़े हालात
बिहार में बाढ़ से बिगड़े हालात
प्रभात खबर

बिहार में बाढ़ (Bihar Flood 2021) से एकबार फिर हालात बिगड़ गये हैं. गंडक और कोसी समेत कई नदियों में उफान जारी है. जिसकी जद में आने से पश्चिम चंपारण, मधुबनी और पूर्णिया समेत कई अन्य जिले भी प्रभावित हो चुके हैं. कई गांव जलमग्न हो चुके हैं जिसके कारण सैंकड़ों परिवार सड़क पर आ चुके हैं.

चंपारण के बगहा में बाढ़ ने तबाही मचायी

चंपारण के बगहा में बाढ़ ने तबाही मचायी हुई है. गंडक नदी के कटाव के जद में आने से कांटी टोला गांव के दर्जनों घर विलीन हो चुके हैं. पिछले तीन दिनों से लगातार कटाव जारी है.जिसके कारण करीब एक दर्जन घर नदी में विलीन हो गये. पश्चिम चंपारण के कई प्रखंडों के दर्जनभर गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है. कई गावों में पानी तेजी से प्रवेश कर रहा है. जिसके बाद लोग घर छोड़कर सुरक्षित जगह की ओर निकलने लगे हैं.

गोपालगंज जिले के निचले इलाके में तबाही

नेपाल में बारिश के कारण वाल्मीकिनगर बराज से गंडक नदी में पानी का डिस्चार्ज घटने के बाद फिर बढ़ने लगा है. नेपाल के कई क्षेत्रों में बारिश होने के कारण गंडक नदी गोपालगंज जिले के निचले इलाके में तबाही मचा रही है. वाल्मीकिनगर बराज से शुक्रवार की सुबह छह बजे 4.04 लाख क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज पहुंचने के बाद लेवल घटने लगा था. रविवार की सुबह छह बजे 2.48 लाख क्यूसेक पर पहुंचने के बाद फिर से बढ़ते हुए शाम छह बजे तक 3.20 लाख क्यूसेक पर पहुंच गया. नदी खतरे के निशान से पिछले 24 घंटे में 12 सेमी घटकर 1.72 से 1.60 मीटर ऊपर पहुंच गयी. जिले के 43 गांव दोबारा जलमग्न हो चुके हैं. बाढ़ की चपेट में आये गांवों में अभी लगभग 15 हजार की आबादी फंसी हुई है.

पूर्णिया के बिगड़े हालात 

पूर्णिया जिले के कइ गांव बाढ़ और कटाव के कारण खतरे में हैं. नदी में कटाव की बढ़ती तेजी से लोगों को संकट में डाल दिया है. महानंदा नदी का कटाव तेज हो गया है. जिसके कारण नदी किनारे बसे गांव के लोग अब पलायन करने लगे हैं. बायसी प्रखंड क्षेत्र के कई इलाके कनकई, परमान और महानंदा नदी में उफान के कारण प्रभावित हो चुके हैं. निचले इलाके में बाढ़ का पानी घुस चुका है. अमौर प्रखंड के सैंकड़ो गांव बाढ़ की चपेट में आ गये हैं. जलजमाव के कारण लोगों को भोजन-पानी पर भी आफत आ गयी है.

मधुबनी में कमला व कोसी नदी के उफान से तबाही

मधुबनी में कमला नदी के जलस्तर में तो कमी आयी है लेकिन अभी भी यह खतरे के निशान से उपर ही बह रही है. बाढ़ का पानी तेजी से गांव में फैल रहा है. जिससे लोगों में दशहत का माहौल है. मधेपुर प्रखंड में कोसी के उफान से तबाही मची हुई है. बाढ़ का पानी कई गांव में प्रवेश कर चुका है. भूतही और गेहुंमा नदी में भी जबरदस्त उफान है. लोग घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर जा रहे हैं.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें