1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar election 2020 chirag paswan comment on amit shah statment over nda ljp rift said i honour nitish kumar but protest his policy

Bihar Election 2020: अमित शाह ने दी सफाई तो चिराग पासवान भी बोले- 'नीतीश मिलें तो पैर छू लूंगा, लेकिन...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पिता के दसकर्म पर बोले चिराग- सीएम नीतीश मिलेंगे तो उनके पांव छुएंगे, लेकिन इस बार मुख्यमंत्री नहीं बनने देंगे
पिता के दसकर्म पर बोले चिराग- सीएम नीतीश मिलेंगे तो उनके पांव छुएंगे, लेकिन इस बार मुख्यमंत्री नहीं बनने देंगे
Prabhat Kahabr

Bihar Election 2020, Chirag Paswan News: बिहार में छाए सियासी बयार में बीते दो-चार दिनों से भाजपा नेता लोजपा के उपर हमलवार हैं लेकिन चिराग पासवान अपनी ही बात पर अडिग हैं. अमित शाह के बयान देने के बाद भी चिराग ने कहा कि 10 नवंबर को भाजपा-लोजपा की ही सरकार बनेगी. इतना ही नहीं उन्होंने लोजपा को वोटकटवा कहने वाले नेताओं को नसीहत दी. बिहार चुनाव 2020 लाइव न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए बने रहें हमारे साथ.

कहा कि लोजपा (LJP) को वोटकटवा कहना पिता और पार्टी के संस्थापक रामविलास पासवान का अपमान है. कहा कि कल जो लोग पापा के साथ संसद मे साथ बैठते थे या दिल्ली पटना में साथ होते थे वही लोग आज उनकी बनायी पार्टी का अपमान कर रहे हैं.

एबीपी न्यूज चैनल से बात करते हुए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा नीतीश कुमार (Nitish kumar) से लोजपा को कोई दिक्कत नहीं है. उनका पूरा सम्मान करता हूं. आज भी अगर वो मुझसे मिलेंगे तो हम उनका पांव छुएंगे. चिराग ने कहा कि मेरा विरोध उनके नीतियों से है. सात निश्चय से हैं.

चिराग ने कहा कि बीजेपी महागठबंधन धर्म निभा रही है. इसके लिए मुख्यमंत्री को रोज बीजेपी नेताओं का हाथ जोड़कर धन्यवाद करना चाहिए कि इतने कठिन दौर में भी बीजेपी ने उनका साथ नहीं छोड़ा. केवल इतना ही नहीं रोज इस बात का प्रमाण भी देते हैं कि वो चिराग के विरोध में हैं. लेकिन इससे मुझे फर्क नहीं पड़ता, क्योंकि मैं नकारात्मक राजनीति नहीं करता. मैं एक सकारात्मक विजन के साथ आगे बढ़ रहा हूं.

इस बार का चुनाव ऐतिहासिक चुनाव होगा

चिराग ने कहा कि 21 तारीख से चुनाव प्रचार की शुरुआत होगी क्योंकि अभी पैतृक गांव पर श्राद्ध का कुछ काम बाकी है. कहा कि इस बार का चुनाव एक ऐतिहासिक चुनाव होगा. आने वाले दशकों तक इस चुनाव को उदाहरण के तौर पर देखा जाएगा. चुनाव रोचक जरूर है, लेकिन इसके परिणाम को लेकर मैं क्लियर हूं. मौजूदा मुख्यमंत्री 10 नवंबर के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे इसको लेकर मैं निश्चिंत हूं. प्रदेश में भाजपा-लोजपा की डबल इंजन सरकार बनेगी.

सीएम क्यों नहीं बनेंगे नीतीश

बीजेपी की ओर से लगातार नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री उम्मीदवार बताए जाने के संबंध में उन्होंने कहा कि सीएम बनने के लिए संख्या भी आनी चाहिए. बिहार की जनता के मन में मौजूदा मुख्यमंत्री के प्रति नाराजगी है. जब संख्या ही नहीं आएगी तो कैसे मुख्यमंत्री बनेंगे? सुशील मोदी कह रहे हैं कि संख्या कितनी भी कम हो सीएम नीतीश कुमार ही बनेंगे. लेकिन जब खाता ही नहीं खुलेगा तो फिर कैसे. जदयू इस बार दहाई का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाएगी.

भाजपा को हर सीट पर समर्थन

जमुई से भाजपा उम्मीदवार श्रेयशी सिंह के समर्थन में वोट मांगने की अपील के संबंध में कहा कि केवल 5 सीटों को छोड़कर मैं सभी सीटों पर भाजपा प्रत्याशी का समर्थन कर रहा हूँ और पार्टी कार्यकर्ता भी उनका साथ देंगे. बताया कि जिन पांच सीटों पर मैंने भाजपा के खिलाफ उम्मीदवार उतारे हैं वो मेरी मजबूरी है क्यूंकि वहां से पार्टी के वरिष्ठ नेता पहले ही तैयारी कर चुके थे और दो तो हमारा सीटिंग सीट है. श्रेयशी मेरी बहन है, इसलिए उससे शुरुआत की है. बाकी लोगों के लिए भी अब ट्वीट करूंगा.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें