24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

कैंपस : इसी साल डीएमआइ को मिल जायेगा अपना कैंपस, दीक्षांत समारोह में 50 स्टूडेंट्स को मिला प्रमाण पत्र

विकास प्रबंधन संस्थान (डीएमआइ) का वार्षिक दीक्षांत समारोह में गुरुवार को दो सत्र के उत्तीर्ण विद्यार्थियों को पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट का प्रमाण पत्र दिया गया. समारोह का आयोजन अधिवेशन भवन में किया गया.

फोटो भी हैसंवाददाता, पटना

विकास प्रबंधन संस्थान (डीएमआइ) का वार्षिक दीक्षांत समारोह में गुरुवार को दो सत्र के उत्तीर्ण विद्यार्थियों को पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट का प्रमाण पत्र दिया गया. समारोह का आयोजन अधिवेशन भवन में किया गया. उत्तीर्ण छात्रों में प्रमाण पत्र प्राप्त करने की उत्सुकता देखते बन रही थी. मुख्य अतिथि भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी जयपुर के अध्यक्ष सह इंस्टिट्यूट ऑफ रूरल मैनेजमेंट आनंद (इरमा) के पूर्व निदेशक डॉ विवेक भंडारी ने छात्रों को प्रमाण पत्र, समारोह की अध्यक्षता कर रहे संस्थान के शासी निकाय के सदस्य सह वित्त व ग्रामीण विकास विभाग के प्रधान सचिव अरविंद कुमार चौधरी ने अंगवस्त्र और निदेशक प्रो देबी प्रसाद मिश्रा ने स्मृति चिह्न प्रदान किया. इससे पहले निदेशक ने मुख्य अतिथि का परिचय सभी फैकल्टी और शासी निकाय के सदस्यों से कराया. इसमें पीजी डिप्लोमा (डेवलपमेंट मैनेजमेंट) उत्तीर्ण सत्र 2021-23 और 2022-2024 के 50 छात्र-छात्राओं को पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट का प्रमाण पत्र प्रदान किया गया. डीएमआइ प्रत्येक वर्ष 18 अप्रैल को दीक्षांत समारोह का आयोजन करता है. इसी दिन चंपारण में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की कोर्ट में पेशी हुई थी. समारोह बापू के संघर्ष को समर्पित है.

इसी साल डीएमआइ को मिल जायेगा अपना कैंपस

समारोह की अध्यक्षता कर रहे संस्थान के शासी निकाय के सदस्य सह वित्त व ग्रामीण विकास विभाग के प्रधान सचिव अरविंद कुमार चौधरी ने कहा कि संस्थान को इसी साल बिहटा में अपना अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त कैंपस मिल जायेगा. निदेशक प्रो देबीप्रसाद मिश्रा ने संस्थान का वार्षिक रिपोर्ट पेश करते हुए कहा कि 2024 में भी संस्थान के सभी विद्यार्थियों का कैंपस प्लेसमेंट हो चुका है.

बापू के लक्ष्यों में ही है समाज का समाधान

मुख्य अतिथि प्रो विवेक भंडारी ने दीक्षांत भाषण में कहा कि विकास की समस्याओं का समाधान राष्ट्र पिता महात्मा गांधी के लक्ष्यों में छिपा है. उपाधि प्राप्त करने वाले छात्रों के कंधे पर बड़ी जिम्मेदारी है. पीडीएम समन्वयक प्रो गौरव मिश्रा ने डिप्लोमा प्राप्त करने वाले छात्रों के स्वर्णिम भविष्य की कामना की. मौके पर आइआइएम कोलकाता के फैकल्टी प्रो विद्यानंद झा, चंद्रगुप्त प्रबंधन संस्थान, पटना के निदेशक प्रो राणा सिंह, उच्च शिक्षा निदेशक प्रो रेखा कुमारी समेत डीएमआइ के सभी फैकल्टी, प्रबंधकों समेत सभी कर्मचारी मौजूद थे.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें