AK 47 बरामदगी मामले में अनंत सिंह की बाढ़ कोर्ट में हुई पेशी, अब 21 को होगी सुनवाई

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बाढ़ : चर्चित एके 47 बरामदगी मामले में मोकामा विधायक अनंत सिंह को बेउर जेल से शुक्रवार को बाढ़ कोर्ट में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच लाया गया. इसके बाद अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में उनकी पेशी की गयी. विधायक ने कोर्ट रिकॉर्ड में अपना दस्तखत और तारीख अंकित किया. इसके बाद करीब 20 मिनट इजलास में ही बेंच पर बैठ कर उन्होंने अदालती प्रक्रिया पूरी की. फिर वह बेउर जेल बंदी वाहन से वापस लौट गये.

पेशी के दौरान अनंत सिंह के चेहरे पर फिर वही पुरानी रौनक नजर देखने को मिली. अपने समर्थकों को विधायक ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया. कई समर्थकों ने उनके पैर भी छुए. उनकी अगली पेशी 21 सितंबर को होगी. इस दौरान ऑडियो वायरल मामले में भी प्रोडक्शन करा कर रिमांड पर पुलिस द्वारा लेकर तफ्तीश किये जाने की संभावना है. मालूम हो कि 16 अगस्त को नदमा गांव में विधायक के पैतृक घर से एके-47 तथा दो हैंड ग्रेनेड बरामद किया गया था. इसमें विधायक के घर का गिरफ्तार केयरटेकर सुनील राम भी न्यायिक हिरासत के तहत फिलहाल जेल में है.

AK 47 बरामदगी मामले में अनंत सिंह की बाढ़ कोर्ट में हुई पेशी, अब 21 को होगी सुनवाई

विधायक पर यूएपीए, विस्फोटक अधिनियम तथा साजिश की विभिन्न धाराओं के तहत केस बाढ़ थाने में थानाध्यक्ष के बयान पर दर्ज किया गया था. इसकी विवेचना पदाधिकारी सहायक पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह है. मामले में हथियार की एक्सपर्ट जांच रिपोर्ट के साथ अन्य सबूत और गवाहों का बयान केस डायरी में दर्ज किया जा रहा है. तफ्तीश अंतिम चरण में पहुंच चुका है. आरोपपत्र भी शीघ्र ही कोर्ट में दायर किये जाने की प्रक्रिया भी चल रही है.

वहीं, पंडारक के ऑडियो वायरल मामले में एफएसएल रिपोर्ट आने के बाद विधायक अनंत सिंह को पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ करने की भी तैयारी में लगी हुई है. भोला सिंह सहित दो लोगों की हत्या की साजिश रचने के मुकदमे में जेल में बंद छह आरोपितों के विरुद्ध पंडारक पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दिया है. इसमें विधायक अनंत सिंह तथा एक अन्य फरार आरोपित विकास के विरुद्ध जांच चल रही है. ज्ञात हो कि भोला सिंह से दो करोड रुपये के लेनदेन को लेकर अनंत सिंह की अदावत होने का भी सबूत पुलिस को जांच के दौरान मिला है. पुलिस रिमांड के दौरान विधायक के दो समर्थकों ने एके-47 हथियार से पंडारक में गये शूटरों की सुरक्षा को लेकर इस्तेमाल किये जाने की बात स्वीकार की थी. पुलिस ने इस बयान को भी कोर्ट में दाखिल कर दिया है. बहरहाल, पुलिस दोनों मामले में तेजी से जांच प्रक्रिया को अंतिम रूप देने में जुट गयी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें