पटना : 15 तक हटेगी पटरी, छठ बाद अतिक्रमण पर होगी कार्रवाई

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
आर ब्लॉक-दीघा रेलखंड का मामला
पटना : आर ब्लॉक-दीघा रेलखंड से पटरी हटाने का काम तेजी से चल रहा है. रेलवे प्रशासन जेसीबी और बड़ी मशीन लगाकर रेलवे पटरी हटाने के साथ बीच ट्रैक में जमीन की मार्किंग भी की जा रही है, ताकि पटरी हटने के बाद भी जमीन की नापी करने में समस्या नहीं हो. फिलहाल स्थिति ऐसी है कि पटरी हटाने का काम लगभग 75 फीसदी तक पूरा कर लिया गया है. इसमें ट्रैक हटाने के साथ मिट्टी काट कर जमीन का भी बराबर किया जा रहा है. जानकारी के अनुसार 15 नवंबर तक ट्रैक हटाने का काम पूरा कर लिया जायेगा. इसके बाद सड़क निर्माण विभाग जमीन पर अपना काम शुरू कर देगा.
रेलवे ट्रैक से अस्थायी अतिक्रमण हटाने का काम पूरा कर लिया गया है, लेकिन अभी तक स्थायी अतिक्रमण हटाने का काम अभी तक शुरू नहीं किया जा सका. जानकारी के अनुसार इस ट्रैक के किनारे 50 के लगभग मकानों के स्थायी अतिक्रमण है. इसके अलावा बड़ा मसला ट्रैक के किनारे बने स्थायी मंदिरों का है. कुल 15 बड़े मंदिर व इसके अलावा कई छोटे मंदिरों को हटाने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की है. प्रशासन की ओर से अतिक्रमण करने वाले घरों को हटाने का समय दिया गया है. कई घर अपने अवैध बाउंड्री को तोड़ कर हटाने का काम भी कर रहे है. वहीं दूसरी तरफ प्रशासन की तैयारी है कि छठ बाद इस पर कार्रवाई की जाये.
इधर प्रशासन की बैठक का असर नहीं
इधर ट्रैक के किनारे बने मंदिरों से हटाने के लिए प्रशासन ने दुर्गापूजा से पहले मंदिर प्रबंधनों के साथ बैठक की गयी थी. इसमें अपने स्तर से मंदिर के प्रतिमाओं को स्थानांतरित करने करने की पहल की गयी थी, लेकिन प्रशासन की बैठक के बाद भी मंदिर प्रबंधनों पर कोई असर नहीं पड़ा. एक माह के बाद भी उन पर कोई असर नहीं पड़ा. अभी तक प्रतिमाओं को कहीं स्थानांतरित नहीं किया गया है. सीओ सदर प्रदीप कुमार सिन्हा ने बताया कि दो-तीन मंदिरों के जगह का चयन कर लिया गया है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें