25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सड़क लुटेरा गिरोह का खुलासा, चार शातिर अपराधी हुए गिरफ्तार

जिले की पुलिस ने सड़क लुटेरा गिरोह का खुलासा करते हुए चार अपराधियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अपराधियों के पास से दो कट्टा, पांच कारतूस, पूर्व में लूटी गयी दो बाइकें, 42 हजार रुपये नकद, एक मोबाइल फोन, एक एटीएम कार्ड बरामद हुआ है.

रोह/नवादा. जिले की पुलिस ने सड़क लुटेरा गिरोह का खुलासा करते हुए चार अपराधियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अपराधियों के पास से दो कट्टा, पांच कारतूस, पूर्व में लूटी गयी दो बाइकें, 42 हजार रुपये नकद, एक मोबाइल फोन, एक एटीएम कार्ड बरामद हुआ है. इस बाबत पुलिस अधीक्षक कार्तिकेय के शर्मा ने पुलिस कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि विगत 16 व 19 अप्रैल को रोह थाना इलाके में सड़क लूट की दो घटनाएं हुई थीं. दोनों मामलों की अलग-अलग प्राथमिक कांड संख्या 117/24 और कांड संख्या 121/2024 की दर्ज कर मामले की जांच शुरू की गयी थी. अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए रोह थानाध्यक्ष बसंत कुमार के नेतृत्व में एसआइटी का गठन किया गया. इस बीच, 21 अप्रैल को कुम्हारावां-मरूई पथ पर कुछ अपराधियों के इकट्ठा होने और बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बनाने की सूचना मिली. सूचना के आधार पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए चार शातिर अपराधियों को गिरफ्तार किया, जिनकी पहचान रोह थाना क्षेत्र के काजीचक मरूई निवासी रवींद्र यादव के 19 वर्षीय बेटे चंदन कुमार, राम अवतार यादव के 20 वर्षीय बेटे मनीष कुमार, मनोज यादव के 18 वर्षीय बेटे केजीएन कुमार, और देवनंदन यादव के 18 वर्षीय बेटे नीरज कुमार रूप में हुई है. वहीं, पुलिस को भनक मिलते तीन अन्य अपराधी फरार हो गये. जिनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

इन घटनाओं को दिया है अंजाम

बताया जाता है कि 16 अप्रैल को नेमदारगंज थाना इलाके के भनैल गांव के विक्की पासवान अपने साला दीपक के साथ तिलक समारोह में शामिल होकर घर लौट रहे थे. कुम्हरावां एफसीआइ गोदाम के पास अपराधियों ने मारपीट कर एक बाइक, दो मोबाइल और कुछ नकद रुपये की लूट की थी. इसी प्रकार 19 अप्रैल 2024 को कुम्हारावां-मरूई गांव के पास बरात जा रहे गया जिले के वजीरगंज थाना इलाके के भागौसा गांव के दयानंद कुमार से मोटरसाइकिल, एटीएम और नगद रुपए की लूट की गयी थी. पीड़ितों की सूचना पर एफआइआर दर्ज कर मामले की जांच की जा रही थी. गिरफ्तार अपराधियों ने पिछले वर्ष 6 नवंबर 2023 को रोह थाना इलाके में ही सीएसपी संचालक मरूई के रंजीत ठाकुर से 1.35 लाख रुपये नगद लूट की घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकारी है. इस प्रकार पूर्व के कुल तीन मामलों के अलावा आर्म्स की बरामदगी के मामले में एक अलग से प्राथमिक इन अपराधियों के खिलाफ दर्ज की गयी है. आवश्यक पूछताछ के बाद सभी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें