29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

पति के दीर्घायु होने के लिए महिलाएं आज करेंगी रखेंगी निर्जला उपवास

पति के दीर्घायु होने के लिए पर्व वट सावित्री पूजा गुरुवार को होगी.

नवादा नगर. जिले में पति के दीर्घायु होने के लिए पर्व वट सावित्री पूजा गुरुवार को होगी. इसको लेकर बुधवार को बाजार खुलते ही सुबह से विभिन्न पूजन सामग्री सहित कपड़े, गहने व अन्य आवश्यक सामानों की खरीददारी के लिए महिलाओं की भीड़ जुट गयी. सुबह से ही दुकानें सज गयी थी. हाथ पंखा, दौरी व गुड्डा गुड़िया, शृंगार तथा फल की दुकानों पर महिलाओं की भीड़ लगी रही. सामान की खरीदारी के लिए पहुंची महिला अनिता सिंह, सिमरन सिंह, ममता कुमारी, सुजाता देवी, अर्पणा देवी, स्वाति सहित अन्य ने बताया कि वे लोग पर्व को ले दो दिन पूर्व से तैयारी में लग जाती हैं. इनलोगो ने कहा कि यह व्रत पति के दीर्घायु के लिए लगभग सभी नव विवाहित महिलाएं तथा सुहागिन महिलाएं करती है. इस दिन महिला व्रत रखकर नया वस्त्र पहन खुद से पकवान बना वट वृक्ष के नीचे फल फूल नये वेद से पूजा अर्चना कर और कथा सुनकर वृक्ष के पास से लौट पति की पूजा करती है. इस दौरान सदा सुहागन रहने की मन्नत मांगती हैं. वहीं, बुधवार को सबसे अधिक कपड़े व फल की दुकान पर भीड़ देखी गयी. महिलाओं की भीड़ से शहर के मेन रोड, सब्जी बाजार में जाम सा नजारा दिखा. लेकिन दोपहर में किसी भी पुलिस या सिपाही को भीड़ को काबू करने के लिए तैनात नहीं देखा गया. पर्व को लेकर फलों के दाम में भी वृद्धि हुई है. प्रतिदिन 80 रुपए बिकने वाला सेब एवं नारंगी पर्व को लेकर 140-160 रुपये प्रति किलो, नवरस आम 70 से 100 रुपए किलो, नारियल 30-40 रुपए पीस, जबकि बांस का पंखा 30-40 रुपए और छोटा डालिया 50-60 और शाम होते ही दुकानदारों के पास पंखे खत्म होने लगे पंखों की खरीदारी को लेकर महिलाओं में आपाधापी देखी गयी. क्या कहते है ज्योतिष: इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत करती हैं. ऐसा माना जाता है कि व्रत का पालन करने से महिलाएं अपने पति के लिए सौभाग्य और समृद्धि लाने में सक्षम होती हैं. वट सावित्री पूजा विवाहित महिलाओं द्वारा की जाती है. इसमें महिलाएं वट यानी बरगद की पूजा करती हैं. वट सावित्री के दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखकर बरगद के पेड़ की विधिवत पूजा-अर्चना करती हैं. प्राचीन कथाओं की मानें तो इस दिन माता सावित्री ने अपने पति सत्यवान के प्राण को यमराज से वापस ले आई थीं. इसलिए इस दिन सुहागिन महिलाएं पति की लंबी आयु और सौभाग्य के लिए व्रत रखती हैं और बरगद के पेड़ की पूजा करती हैं. विद्याधर पांडेय

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें