1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. nalanda
  5. nalanda minor was outraged by the scolding of the mother murdered after kidnapping for not paying ransom

Bihar News: नालंदा में मां की डांट से नाराज होकर निकला था नाबालिग, अपहरण के बाद हत्या

बिहार के नालंदा में डांट से दुखी होकर 19 अप्रैल को घर से भागे एक युवक की अपहरण करके हत्या कर दी गई है. पुलिस को उसका शव शनिवार को जमुई जिले के झाझा और सोनो बॉर्डर के बीच आहार स्थित एक पुलिया के पास से बरामद किया गया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अपहृत बच्चे की हत्या
अपहृत बच्चे की हत्या
प्रतीकात्मक फोटो

बिहार के नालंदा के हिलसा थाना से एक बड़ा मामला सामने आया है. जहां मां की डांट से दुखी होकर 19 अप्रैल को घर से भागे एक युवक की अपहरण करके हत्या कर दी गई है. पुलिस को उसका शव शनिवार को जमुई जिले के झाझा और सोनो बॉर्डर के बीच आहार स्थित एक पुलिया के पास से बरामद किया गया. इस घटना को अंजाम देने वाले 3 अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अपराधियों से पूछताछ कर रही है. नाबालिग के शव को पुलिस ने देर रात हिलसा थाने की पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा गया.

मृतक बच्चे की उम्र महज 14 वर्ष

मृतक की पहचान नालंदा जिले के हिलसा थाना के अंतर्गत बिहारी रोड के निवासी अजय कुमार के बेटे प्रियांशु कुमार के रूप में हुई है. मृतक बच्चे की उम्र महज 14 वर्ष बताई जा रही है. माता पिता से मिली जानकारी के मुताबिक मृतक 7वीं कक्षा का छात्र था. बताया जा रहा है कि वह 19 अप्रैल की सुबह से घर से बाहर था और वापस नहीं आया. कई जगह उसे ढूढ़ने के बाद अगले दिन 20 अप्रैल को परिजनों द्वारा हिलसा थाने में अपहरण की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई.

5 लाख रुपये की फिरौती की मांग

परिजनों ने बताया है कि प्रियांशु के गायब होने के लगभग 10 घंटे बीत जाने के बाद अपराधियों द्वारा फोन किया गया था. जिसमें उन्होंने 5 लाख रुपये की फिरौती की मांग की थी. इसके साथ की कई अलग नंबर से फिरौती के पैसे पहुंचाने के लिए लगातार दबाव बनाया जा रहा था. जिसके बाद परिजनों नें पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई. लगातार फोन बंद होने के कारण पुलिस को लोकेशन ट्रेश करने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था.

मोबाइल नंबर से लोकेशन निकाला गया

मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस लापता आयुष की तलाश में जुट गई. आयुष और उसकी मां के मोबाइल पर हुई नंबर से बात का लोकेशन निकाला गया. इसके आधार पर पुलिस के गिरफ्त में एक शातिर आया और गहन पूछताछ करने पर घटना का खुलासा हुआ कि फिरौती नही देने पर बदमाशों ने आयुष की हत्या कर दिया है.

एक की गिरफ्तारी

थानाध्यक्ष प्रकाश कुमार शरण ने शव मिलने की पुष्टि करते हुए कहा कि एक की गिरफ्तारी भी हुई है. इसकी निशानदेही पर घटना में संलिप्त अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है. इधर, आयुष का शव मिलने की खबर सुनते ही परिवार में कोहराम मच गया है. मृतक 3 भाइयों में दूसरे नंबर पर था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें