1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. irctc indian railway canceled rapti ganga express bihar train in muzaffarpur junction agreed to run it after commotion of passengers skt

IRCTC/Indian Railways: बिहार में दो घंटे पहले रेलवे ने जिस ट्रेन को किया रद्द, यात्रियों के हंगामे के बाद उसे चलाने पर हुआ राजी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
IRCTC/Indian Railways News: सांकेतिक फोटो
IRCTC/Indian Railways News: सांकेतिक फोटो

Bihar Rail News: रेलवे (Indian Railways) ने सोमवार को मुजफ्फरपुर से देहरादून जानेवाली 05001 राप्तीगंगा एक्सप्रेस (rapti ganga express) को बिना सूचना दिये दो घंटे पहले अचानक रद्द कर दिया. रिजर्वेशन करा चुके बड़ी संख्या में यात्री जंक्शन पर आ चुके थे. दोपहर करीब 12.15 बजे एनाउंसमेंट हुआ कि ट्रेन को रद्द कर दिया गया है. इसके साथ ही यात्रियों को मैसेज आने लगे. यह देख यात्रियों को होश उड़ गये. धीरे-धीरे यात्री स्टेशन मास्टर कार्यालय के बाहर जुटने लगे. कुछ यात्री स्टेशन मास्टर कार्यालय में घुस गये और ट्रेन को चलाने की मांग करने लगे. लेकिन, स्टेशन मास्टर व क्षेत्रीय अधिकारी समेत अन्य ने ट्रेन नहीं चलने की बात कही. इस पर माहौल बिगड़ गया. यात्रियों ने स्टेशन मास्टर कार्यालय के अंदर व बाहर जमकर हंगामा किया और रेल प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की.

हंगामे के बाद ट्रेन को चलाने का निर्णय लिया गया

मामला बढ़ता देख आरपीएफ ने यात्रियों को शांत करने का प्रयास किया, लेकिन यात्री अपनी मांग पर अड़े रहे. इस बीच यात्रियों ने रेलवे मंत्री, सोनपुर मंडल के डीआरएम, प्रधानमंत्री समेत अन्य को ट्वीट कर शिकायत इसकी की. इसके बाद परिचालन विभाग के अधिकारियों ने इस संबंध में जोन व मंडल को जानकारी दी. वहां से यात्रियों की भीड़ की तस्वीर मांग की गयी. भीड़ अधिक देखने के बाद नार्दन रेलवे के सीपीटीएम व पूर्व मध्य रेलवे के सीपीटीएम ने इस संबंध में आपस में बात की. घंटेभर मंथन के बाद आपसी सहमति पर ट्रेन को कैंसिल नहीं कर ट्रेन को चलाने का निर्णय लिया गया. इसमें कहा गया कि ट्रेन लक्सर जंक्शन तक जायेगी. तब जाकर यात्रियों ने चैन की सांस ली. इसके बाद ट्रेन चार नंबर प्लेटफॉर्म पर प्लेस की गयी. क्षेत्रीय अधिकारी टीके मिश्रा ने कहा कि ट्रेन को रद्द कर दिया गया था, लेकिन यात्रियों की मांग को देखते हुए ट्रेन को चलाया गया.

परिचालन विभाग के पास दोपहर 12 बजे ट्रेन रद्द करने का आया मैसेज

मुजफ्फरपुर परिचालन विभाग को वाट्सएप पर ट्रेन के रद्द करने का मैसेज दोपहर 12 बजे पहुंचा. पहले से परिचालन विभाग को इसकी सूचना नहीं थी. अचानक मैसेज आने से विभाग में हड़कंप मच गया. ट्रेन को रवाना होने में मात्र दो घंटे ही शेष बचे थे. बताया जा रहा है कि देहरादून में एनआई कार्य को लेकर ट्रेन को रद्द कर दिया गया था. बीच में दो दिन मंडल में अवकाश होने की वजह से सही समय पर मैसेज नहीं आ सका.

कई यात्रियों ने रद्द कराया टिकट

ट्रेन के अचानक रद्द होने की सूचना पर दर्जनों यात्रियों ने अपना टिकट रद्द करा लिया. वे मायूस होकर जंक्शन से चले भी गये, लेकिन इसी बीच उन्हें जानकारी मिली कि ट्रेन चलेगी. ये यात्री फिर जबतक जंक्शन पर पहुंचे, ट्रेन जा चुकी थी. यात्रियों ने बताया कि रेलवे की लापरवाही की वजह से ट्रेन हमारी छूट गयी है. हमलोग सीतामढ़ी हाजीपुर समेत अन्य जगहों से जंक्शन ट्रेन पकड़ने आये थे.

साप्ताहिक ट्रेन होने की वजह से थी यात्रियों की भीड़

देहरादून जाने वाली राप्ती गंगा एक्सप्रेस हफ्ते में एक दिन चलने की वजह से इसमें काफी भीड़ थी. हर क्लास में वेटिंग 200 के पार थी. यात्री उज्ज्वल ने बताया कि ट्रेन को अचानक रद्द करने की सूचना मिलने पर काफी परेशानी हुई. देहरादून में कॉलेज खुल चुका है. वहां परीक्षा होने वाली है. ट्रेन के नहीं जाने से काफी परेशानी होने वाली थी. हथौड़ी निवासी राजकुमार ने कहा कि वे नौ आदमी के साथ यात्रा कर रहे थे. वे पटना से मुजफ्फरपुर आये थे. अचानक रद्द की सूचना पर होश उड़ गये. आने जाने में ही दो हजार से अधिक रुपये लग जाते हैं.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें