1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. bihar vegetable online for farmers in muzaffarpur news know pvc kisan news and registration of online sabji delivery system skt

बिहार में अब एक क्लिक पर बिक जायेंगी किसानों की सब्जियां, ऑनलाइन होगा व्यवसाय, करना होगा ये काम...

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
प्रतिकात्मक तस्वीर
प्रतिकात्मक तस्वीर
social media

नवीन कुमार अंशु,मुजफ्फरपुर: जिले में सब्जी का भी ऑनलाइन व्यवसाय होगा. इसके लिए सहकारिता विभाग ने नयी योजना बनायी है. सब्जी का उत्पादन और किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए विभाग ने सभी प्रखंडों में प्राथमिक सब्जी उत्पादक सहकारी समिति (पीवीसीएस) का निबंधन किया है. इससे एक क्लिक पर किसान अपनी सब्जी बेच सकेंगे. प्रखंडों में मंडियां बनायी जा रही हैं, जिससे सब्जी का ऑनलाइन सौदा तय होकर समय पर निर्धारित जगह पहुंचाई जायेगी.पीवीसीएस में रजिस्टर्ड किसान सब्जी बेच सकेंगे. बीसीओ बजरंगी राय ने बताया कि इसके लिए किसान को Tarakaari.in पर ऑनलाइन सदस्य बनना होगा. इसके एवज में 100 रुपये सदस्यता शुल्क और 100 रुपये का शेयर लेना होगा.

1635 किसान बन चुके हैं सदस्य

जिले में अब तक 1635 किसान अलग-अलग प्रखंडों में ऑनलाइन सदस्य बन चुके हैं. इनमें औराई में 185, बंदरा में 55, मोतीपुर में 39, बोचहां में 50, मुरौल में 113, गायघाट में 46, कांटी में 398, कटरा में 143, कुढ़नी में 80, मड़वन में 40, मीनापुर में 81, मुशहरी में 79, पारू में 53, साहेबगंज में 72, सकरा में 61, सरैया में 140 सदस्य शामिल हैं.

प्रखंडों में बनेगा सब्जी कलेक्शन सेंटर

प्रखंड में कई जगहों पर सब्जी कॉलेक्शन सेंटर बनाये जाएंगे. यहां किसान आसानी से अपनी सब्जियों को पहुंचा देंगे. किसान को वहां एक प्राप्ति रसीद मिलेगी. चार से पांच बाजार से सब्जियों की कीमत पता की जायेगी. इसके बाद औसत दाम तय कर किसानों की सब्जी की कीमत तय होगी. 24 से 48 घंटे में उनके खाते में राशि का भुगतान हो जायेगा.

10 हजार वर्ग फीट में पीवीसीएस की होगी स्थापना

पीवीसीएस आठ प्रखंडों में शुरू हुई है. कुढ़नी, औराई, बंदरा, मुरौल, सकरा, साहेबगंज, कांटी, कटरा में योजना चालू हो गयी है. यहां लीज पर जमीन ली गयी है. विभाग की ओर से मैनेजर की प्रतिनियुक्ति भी की गयी है. अन्य प्रखंडों में जमीन की खोज चल रही है. 10 हजार वर्गफीट में पीवीसीएस की स्थापना होगी. परिसर में सब्जियों की छंटनी, ग्रेडिंग व पैकेजिंग की भी व्यवस्था होगी.

ऑनलाइन सब्जी का कारोबार कर सकते हैं किसान

सहकारिता विभाग प्रखंड स्तर पर मंडी स्थापित कर रहा है. आठ प्रखंडों में यह शुरू हो गया है. इसमें किसान ऑनलाइन सब्जी का कारोबार कर सकते हैं.

डॉ ललन कुमार शर्मा, डीसीओ

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें