24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र के चलान कटाने में आवेदकों के छूटे पसीने, लगी रही लंबी कतार

जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र के चलान कटाने में आवेदकों के छूटे पसीने

प्रतिनिधि, असरगंज

प्रखंड कार्यालय में शनिवार को जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने के लिए आवेदकों की लंबी कतार लगी रही. आवेदन इस भीषण गर्मी में ऑनलाइन रसीद कटाने के लिए मारामारी कर रहे थे. मालूम हो कि पिछले शनिवार को ऑनलाइन चालान नहीं काटा गया था. जिसके कारण आवेदकों की भीड़ उमड़ पड़ी. जबकि प्रखंड सांख्यिकी पदाधिकारी दीपक कुमार तारापुर, संग्रामपुर एवं असरगंज के प्रभार में हैं.

बताया जाता है कि असरगंज प्रखंड में मात्र एक दिन शनिवार को ही ऑनलाइन चलान डाटा ऑपरेटर अभिषेक द्वारा काटा जाता है. जिसके कारण आवेदकों की लंबी कतार लग जाती है. दूरदराज से आए लोगों को कड़ी धूप में दिनभर कतार में खड़े होकर चालान कटवाना पड़ता है और भीड़ अत्यधिक रहने के कारण चालान नहीं कटा पाने के कारण बैरंग वापस लौट जाना पड़ता है. चालान कटाने आयी पूनम देवी, सुनीता देवी, पुष्पा देवी, सुजीत कुमार, कृष्ण रविदास, आजाद कुमार, सोनम कुमारी, अंजली कुमारी सहित अन्य ने बताया कि दस रुपये चालान काटने के एवज में बीस रुपये लिया जा रहा है. इतना ही नहीं हम लोगों को बार-बार लौटा दिया जाता है. लाभुकों ने यह भी बताया कि प्रमाण पत्र निर्गत के समय भी राशि का डिमांड किया जाता है. इस संबंध में प्रखंड सांख्यिकी पदाधिकारी दीपक कुमार ने बताया कि ज्यादा पैसा लेने की जानकारी मेरे संज्ञान में नहीं है. विदित हो कि पूर्व में जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र का कार्य ग्राम पंचायत कार्यालय के माध्यम से किया जाता था. लेकिन पिछले कई माह से यह सुविधा प्रखंड कार्यालय से संचालित की जा रही है. जिसके कारण भी आवेदकों की भारी भीड़ उमड़ रही है और समय पर प्रमाण पत्र मिलने में परेशानी हो रही है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें