25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

वोकेशनल कोर्स में नामांकन को लेकर इस साल बढ़ी एमयू की परेशानी

यूजीसी द्वारा अब वोकेशनल कोर्स बीबीए, बीसीए तथा बायोटेक की पढ़ाई के लिये एआईसीटीई दिल्ली से मान्यता को अनिवार्य कर दिया गया है

मुंगेर . यूजीसी द्वारा अब वोकेशनल कोर्स बीबीए, बीसीए तथा बायोटेक की पढ़ाई के लिये एआईसीटीई दिल्ली से मान्यता को अनिवार्य कर दिया गया है. वहीं एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त करने के लिये कॉलेजों को आवेदन करने का समय भी दिया गया था. लेकिन एमयू के कई कॉलेजों द्वारा इसके लिये आवेदन नहीं किया है. ऐसे में इस साल एमयू के कॉलेजों में वोकेशनल कोर्स में नामांकन को लेकर विश्वविद्यालय के साथ छात्र-छात्राओं की परेशानी भी बढ़ेगी. बता दें कि एमयू द्वारा जनवरी माह में ही वोकेशनल कोर्स की पढ़ाई करने वाले अपने सात कॉलेजों तथा वोकेशनल कोर्स आरंभ करने को इच्छुक कॉलेजों को एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त करने को लेकर आवेदन करने को कहा गया था. लेकिन एमयू के कई कॉलेजों द्वारा 17 मई के निर्धारित समय तक इसके लिये आवेदन नहीं किया गया है. बता दें कि एआईसीटीई से मान्यता को लेकर केवल दो अंगीभूत कॉलेज आरडी कॉलेज, शेखपुरा तथा एसकेआर कॉलेज, बरबीधा द्वारा बीबीए तथा बीसीए के लिये मान्यता हासिल की गयी है. जबकि संबद्ध कॉलेजों में एसके कॉलेज, लोहंडा, श्रीमति गंगा देवी मेमोरियल कॉलेज तथा डॉ अरविंद कुमार विमला कॉलेज द्वारा ही मान्यता प्राप्त किया गया है. ऐसे में पूर्व से संचालित एमयू के कई कॉलेजों द्वारा वोकेशनल कोर्स के लिये एआईसीटीई से मान्यता नहीं लिया गया है. जिसके कारण अब एमयू मुख्यालय सहित अन्य कॉलेजों में वोकेशनल कोर्स में नामांकन को इच्छुक विद्यार्थियों को इस साल निराश होना पड़ेगा. एमयू के कुलसचिव कर्नल विजय कुमार ठाकुर ने बताया कि जिन कॉलेजों द्वारा एआईसीटीई से मान्यता को लेकर आवेदन किया गया है. वैसे कॉलेजों को मान्यता मिल गयी है. विश्वविद्यालय द्वारा जल्द ही इन कॉलेजों में नामांकन की प्रक्रिया आंरभ की जायेगी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें