1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. munger
  5. prison death in munger jail as health of prisoner of quarantine ward in munger jail became an issue skt

बिहार के इस जेल में लगातार हो रहे कैदियों की मौत से मचा हड़कंप, कोरेंटिन वार्ड में बंद कैदियों की लगातार बिगड़ रही सेहत

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
google

मुंगेर मंडल कारा में कैदियों के तबीयत बिगड़ने का सिलसिला लगातार जारी है. खासकर कोरेंटिन वार्ड में बंद कैदियों की तबीयत बिगड़ रही है. पांच दिनों के अंदर जहां दो कैदियों की मौत हो चुकी है. वहीं बुधवार की रात तबीयत खराब होने पर एक कैदी को बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर किया गया. जबकि एक अन्य बीमार कैदी का इलाज मुंगेर सदर अस्पताल में चल रहा है. कैदियों के बीमार और उसके बाद हो रही मौत के कारण जेल प्रशासन और वहां के अस्पताल प्रशासन की व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं.

कोरेंटिन सेल के मरीज की स्थिति नाजुक

बताया जाता है कि कोरेंटिन सेल के वार्ड नंबर सात में बंद जमुई जिला के चकाई निवासी सहदेव भुलना की तबीयत बुधवार की देर रात खराब हो गयी. एक बारगी उसे चक्कर आया और उसकी आवाज बंद हो गयी. जेल में प्रतिनियुक्त महिला चिकित्सक द्वारा उसका इलाज किया गया, लेकिन उसकी स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ और आनन-फानन में उसे रात में ही मुंगेर सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां चिकित्सकों की देखरेख में उसका इलाज चल रहा था. लेकिन गुरुवार की अहले सुबह उसके मुंह से सफेद झाग निकलने लगा और उसकी तबीयत काफी बिगड़ने लगी. इसके कारण चिकित्सकों ने उसे बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर कर दिया. वरीय अधिकारियों के मौखिक आदेश पर उसे भागलपुर इलाज के लिए भेज दिया गया. विदित हो कि सहदेव भुलना को हत्या के एक मामले मे चकाई पुलिस ने गिरफ्तार किया था, जिसे कोरेंटिन में न्यायिक आदेश पर 27 दिसंबर को मुंगेर जेल प्रशासन को सुपुर्द किया गया. और 16 दिनों के लिए कोरेंटिन सेल में रखा गया था. समाचार लिखे जाने तक मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल भागलपुर मे उसका इलाज चल रहा है. लेकिन स्थिति नाजुक बनी हुई है.

कैदी अशोक का मुंगेर सदर अस्पताल में चल रहा इलाज

गुरुवार की सुबह मुंगेर जेल में बंद मुफस्सिल थाना क्षेत्र के नौवागढ़ी निवासी विभिषण मंडल का 20 वर्षीय पुत्र अशोक कुमार बीमार हो गया. उसके नाक से अचानक खून गिरने लगा. मंडल कारा स्थित अस्पताल में तैनात चिकित्सक ने उसका इलाज किया, लेकिन बाद में उसे बेहतर इलाज के लिए मुंगेर सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया. जहां कैदी वार्ड में चिकित्सक की निगरानी में उसका इलाज किया जा रहा है. हालांकि उसकी स्थिति में कुछ हद तक सुधार है. विदित हो कि अशोक कुमार उर्फ सिंटू दो माह पूर्व ही उत्पाद मामले में गिरफ्तार होकर जेल आया था.

कहते हैं जेल अधीक्षक

जेल अधीक्षक जलज कुमार ने बताया कि बुधवार की शाम को अचानक एक कैदी गश खा कर गिर गया. जिसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. बाद में उसे भागलपुर रेफर कर दिया गया. इसी बीच गुरुवार को एक और कैदी को नाक से ब्लड आने पर उसे भी सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. इस संबंध में मुख्यालय व स्वास्थ्य विभाग को जानकारी दी गयी है. इसके साथ ही कैदी व जेल के सभी कर्मी को विशेष तौर पर सतर्क रहने का निर्देश दिया गया है.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें