15.1 C
Ranchi
Friday, February 23, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeधर्मबिहार: मकर संक्रांति पर तिलकुट से सजा बाजार, गंगा घाटों पर सुरक्षा के खास इंतजाम, इन चीजों की...

बिहार: मकर संक्रांति पर तिलकुट से सजा बाजार, गंगा घाटों पर सुरक्षा के खास इंतजाम, इन चीजों की बढ़ी डिमांड

Makar Sankranti 2024: मकर संकांति को लेकर बाजार तिलकुट से सज गए है. तिलकुट खरीदने के लिए लोगों की भीड़ है. लोग खरीदारी कर रहे हैं. वहीं, गंगा घाटों पर सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए है.

Makar Sankranti 2024: बिहार में मकर संक्रांति के त्योहार को लेकर बाजार तिलकुट से सज चुका है. लोग जमकर तिलकुट की खरीदारी कर रहे हैं. दूसरी ओर गंगा घाटों पर सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए है. तिलकुट को मकर संक्रांति के मौके पर खास तौर पर तैयार किया जाता है. वहीं, आम लोग भी इसी त्योहार के दौरान इस चीज को काफी पसंद करते हैं. दुकानदार गुड़, चीनी से लेकर खाए के तिलकुट को बेच रहे है. बाजारों में सबसे अधिक गुड़ के तिलकुट की डिमांड होती है. वहीं, यह दुकानदारों के पास उपलब्ध भी है. चूड़ा- दही के साथ लोग तिलकुट खाते है. फिलहाल, बाजार तिलकुट की खूशबू से महक रहा है. राज्य में तिलकुट की मांग अधिक होती है. यहां इस त्योहार को भी धूमधाम से मनाया जाता है.

बाजारों में तिल के लड्डू की बढ़ी डिमांड

तिलकुट के साथ- साथ बाजारों में तिल के लड्डू की डिमांड भी बढ़ चुकी है. रेवड़ी और चुड़ा व गुड़ की डमकर बिक्री हो रही है. गया के कारीगर राज्य के अलग- अलग हिस्से में तिलकुट बनाते है. वहीं, गया का तिलकुट पूरे विश्व भर में मशहूर है. मकर संक्रांति को लेकर भागलपुर के कतरनी चूरा की भी जमकर बिक्री हो रही है. बादाम तिलकुट के साथ ही शुगर फ्री तिलकुट की बाजार में मांग बढ़ गई है. लोग शुगर फ्री तिलकुट का भी जमकर सेवन कर रहे हैं. इसका कारण है कि कई लोगों को मधुनेह की समस्या है. इस कारण बाजार में इसकी मांग में भी इजाफा हुआ है.भागलपुर जिले के कतरनी चूड़ा की भी लोग खूब मांग कर रहे हैं. बाहर से यहां कई कारीगर पहुंचे है. इन्हें काफी फायदा हो रहा है.

Also Read: पटना साहिब में प्रकाश पर्व को लेकर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, ट्रैफिक में बदलाव, जानिए पर्यटन विभाग की तैयारी
विदेशों में भी मशहूर है तिलकुट

तिलकुट की सोंधी खुशबू बाजारों में महक रही है. 15 जनवरी को लोग मकर संक्रांति मनाएंगे. इस पर्व के आने से बाजारों में तिलकुट की दुकानें गुलजार है. अभी से ही लोग तिलकुट व तिल से बने अन्य सामान खरीद रहे हैं. हालांकि, पिछले साल के मुकाबले तिल के दाम में इजाफा हुआ है. लेकिन, बावजूद इसके जमकर तुलकुट की बिक्री हो रही है. 500 – 600 रुपए किलो में भी ग्राहक तिलकुट खरीद रहे हैं. कई लोग अपने विदेशों में रहने वाले रिश्तेदारों को भी तिलकुट भेजते है. गया की तिलकुट विदेश में भी खूब प्रचलित है. दूसरी ओर गंगा घाटों पर भी मकर संक्रांति को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे. यहां सुरक्षा को लेकर 60 मजिस्ट्रेट व 200 पुलिस बल प्रतिनियुक्त किए गए है.

Also Read: बिहार: ठंड का ट्रेन व विमान की उड़ान पर पड़ा असर, 15 घंटे लेट से आई राजधानी, जानिए अन्य ट्रेनों का हाल
गंगा नदी में नाव के परिचालन पर लगी रोक

मालूम हो कि कई लोग मकर संक्रांति पर गंगा स्नान करते हैं. ऐसे में यहां लोगों की भीड़ उमड़ेगी. वहीं, 15 जनवरी मुख्य रुप से मकर संक्रांति का त्योहार मनाया जा रहा है. इस दौरान गंगा स्नान करनेवाले श्रद्धालुओं की भीड़ को लेकर गंगा घाटों पर सुरक्षा के लिए मजिस्ट्रेट व पुलिस बल की तैनाती की गई है. बड़े घाटों पर एनडीआरएफ के जवान भी तैनात रहेंगे. पटना में 30 घाटों पर गंगा स्नान को लेकर जिला प्रशासन की नजर बनी रहेगी. घाटों पर सुरक्षा को लेकर 60 मजिस्ट्रेट व 200 पुलिस पदाधिकारी प्रतिनियुक्त किये गये हैं. सिटी मजिस्ट्रेट ने इस मामले में जानकारी साझा की है. इन्होंने बताया है कि कैंलेंडर के अनुसार 15 जनवरी को मकर संक्रांति है. मकर संक्रांति के दिन गंगा स्नान करनेवाले श्रद्धालुओं की काफी भीड़ घाटों पर होती है. उन्होंने जानकारी दी है कि बड़े-बड़े घाटों पर एनडीआरएफ के जवान रहेंगे. इसके लिए छह टीमें लगायी गयी है. साथ ही घाटों पर 60 मजिस्ट्रेट व 200 पुलिस पदाधिकारी रहेंगे. रविवार से गंगा नदी में दो दिनों तक नाव का परिचालन पर रोक लगायी गयी है. लोगों की सुरक्षा को लेकर यह फैसला लिया गया है.

Also Read: बिहार के मुंगेर में गंगा पुल पर बनेगा दूसरा रेल पुल, DPR हुआ तैयार, जानिए कब से शुरू होगा निर्माण कार्य..

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें