30.8 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बिहार में ED-CBI टीम पर हमला कर सकती है लालू-तेजस्वी की पार्टी, सुशील मोदी ने किया बड़ा दावा

सुशील मोदी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में इडी की टीम पर टीएमसी समर्थकों की भीड़ ने जिस तरह का हमला किया, उस पर इंडी गठबंधन के नेताओं ने गहरी चुप्पी साध कर इसका समर्थन किया. यह चुप्पी संकेत है कि राजद अब बिहार में भी इडी और सीबीआइ पर ऐसे हमले करा सकती है.

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने शनिवार को कहा कि लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी प्रसाद यादव की पार्टी राजद अब बिहार में ED और CBI की जांच टीम पर हमले करा सकता है. सुशील मोदी ने यह बात पश्चिम बंगाल में ईडी पर हुए हमले पर इंडी गठबंधन के नेताओं की चुप्पी को लेकर कही. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में राशन घोटाले की जांच करने के लिए टीएमसी नेता के घर पहुंची ईडी की टीम पर शुक्रवार को ममता-समर्थकों की भीड़ ने जिस तरह का जानलेवा हमला किया, उस पर कोलकाता हाइकोर्ट ने चिंता जतायी है. लेकिन इंडी गठबंधन के नेताओं ने गहरी चुप्पी साध कर इसका समर्थन किया. यह चुप्पी संकेत है कि राजद अब बिहार में इडी और सीबीआइ पर ऐसे हमले करा सकती है.

भ्रष्टाचार-आरोपी नेता नहीं बच सकते जांच एजेंसियों से : सुशील मोदी

सुशील मोदी ने कहा कि ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) भ्रष्टाचार के ठोस प्रमाण मिलने के बाद ही किसी के विरुद्ध जांच और पूछताछ जैसी कार्रवाई करता है. टीएमसी, राजद, झामुमो, कांग्रेस या आम आदमी पार्टी के भ्रष्टाचार-आरोपी नेता अपने समर्थकों की भीड़ से हमले करा कर केंद्रीय एजेंसियों की जांच से नहीं बच सकते.

जांच एजेंसियां डरने वाली नहीं : सुशील मोदी

भाजपा नेता ने कहा कि हमलों से जांच एजेंसियां भी डरने वाली नहीं हैं. पश्चिम बंगाल में हमले के दूसरे दिन उसी राशन घोटाला मामले में टीएमसी के दूसरे नेता शंकर आध्या को गिरफ्तार किया गया.

कानून अपना काम करेगा : सुशील

सुशील मोदी ने कहा कि नौकरी के बदले जमीन मामले में आरोपी लालू परिवार के लोग हों या अलग-अलग मामलों में आरोपी झारखंड और दिल्ली के मुख्यमंत्री, कोई भी इडी के समन से कब तक बचे रहेंगे? कानून अपना काम करेगा ही.

करोड़ों-अरबों रुपये लूटने वाले नहीं बचेंगे : सुशील मोदी

सुशील मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने सत्ता को गरीबों और करदाताओं के करोड़ों-अरबों रुपये लूटने का जरिया बनाया, वे चाहे कितने हथकंडे अपना लें, परिणाम भुगतने से नहीं बच पाएंगे – यह नरेंद्र मोदी- सरकार की गारंटी है

सुशील मोदी अपना भविष्य देखें : उप मुख्यमंत्री

वहीं इससे पहले उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए शनिवार को कहा कि हम लोग अपने काम में लगे हैं, सुशील मोदी अपना भविष्य देखें. हम लोग लगातार नौकरी बांट रहे हैं, भाजपा को ना तो विकास और ना ही बिहार की चिंता है. जल्द दूसरे फेज में सफल हुए शिक्षकों को नियुक्ति पत्र मिलेगा, पहले फेज को नियुक्ति पत्र दिया गया है. संविदा पर बहाल शिक्षकों को राज्य कर्मी का दर्जा मिला है. इसको लेकर कोई चर्चा नहीं होती है.

हम अपने काम पर विश्वास रखते है : उप मुख्यमंत्री

सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए तेजस्वी ने कहा कि हम उप मुख्यमंत्री है और वो मुख्यमंत्री है. हम दोनों मिल कर सरकार चला रहे हैं, तो मिलना तो होगा ही ना. इसमें कौन सा मतभेद है. हमारी हमेशा मुलाकात होती है. हम सभी को विकास की चिंता है. बिहार की जनता से नौकरी और रोजगार देने का वादा किया है. उस वादे को पूरा करने की कोशिश लगातार कर रहे हैं. हमें अपने काम पर विश्वास है. राम मंदिर को लेकर पिछले दिनों दिए गए बयान एवं पश्चिम बंगाल में ईडी अधिकारियों पर हमले से जुड़े सवालों पर उन्होंने कुछ भी नहीं कहा.

Also Read: पटना में बैंक मैनेजर के तीन ठिकानों पर ED का छापा, 32 करोड़ के फर्जी लेनदेन के मामले में कार्रवाई, एक गिरफ्तार

क्या हुआ था पश्चिम बंगाल में?

राशन घोटाले की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (इडी) ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल में करीब 15 जगहों पर राजनीति से जुड़े लोगों, व्यवसायियों व अन्य के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की. इस कड़ी में उत्तर 24 परगना के संदेशखाली स्थित सरबेड़िया क्षेत्र निवासी तृणमूल कांग्रेस के नेता, राशन डीलर व व्यवसायी शेख शाहजहां के आवास पर भी इडी अधिकारी एवं सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स (सीएपीएफ) के जवान पहुंचे. यह देख तृणमूल नेता के समर्थक भड़क गये. उन्होंने इडी अधिकारियों एवं सीएपीएफ जवानों पर हमला बोल दिया. उनके वाहनों में तोड़फोड़ की.

Also Read: ED की टीम से साहिबगंज डीसी ने कहा था, ”मैं IPS अफसर रहा हूं, मुझे कानून मत सिखाओ”

इडी के तीन अधिकारी हुए थे घायल

इस हमले में मीडियाकर्मियों को भी नहीं बख्शा गया. उनके कैमरे एवं मोबाइल फोन तोड़ दिये. इडी अधिकारियों एवं जवानों ने वहां से किसी तरह भागकर अपनी जान बचायी. इस हमले में इडी के तीन अधिकारी घायल हो गये थे. घायलों में इडी के सहायक निदेशक राजकुमार राम भी है. अन्य दो अधिकारियों के नाम अंकुर और सोमनाथ दत्ता बताये गये हैं. तीनों अधिकारियों को सॉल्टलेक स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हमले में अन्य कुछ अधिकारियों को हल्की चोट लगी है.

Also Read: बिहार और कोलकाता में इडी की छापेमारी, 3 साइबर अपराधी गिरफ्तार, एक करोड़ के करीब कैश मिले

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें