1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. kaimur
  5. coronavirus in bihar if you give the wrong contact number the isolation center will be sent in kaimur

सावधान...गलत कॉन्टैक्ट नंबर देंगे तो भेज दिये जायेंगे आइसोलेशन सेंटर

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
ट्वीटर

भभुआ : जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मरीज व करोना से हो रही मौत पर लगाम लगाने के लिए जिला प्रशासन कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहता है. कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण पर रोक लगाने के लिए जिला पदाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी द्वारा लगातार अधिकारियों के साथ बैठक की जा रही है व पूरी तरह से ध्यान रखने के लिए कहा जा रहा है. सोमवार को भी समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में जिला पदाधिकारी ने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. बैठक के दौरान मामला सामने आया कि जिले में 41 कोरोना मरीज होम आइसोलेशन में रह रहे हैं. लेकिन, आइसोलेशन में रह रहे मरीजों द्वारा जो फाॅर्म जमा किया गया है, उसमें गलत नंबर अंकित किया गया है. इसके चलते कंट्रोल रूम व स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों को कोरोना मरीज की स्वास्थ्य के बारे में जानकारी नहीं मिल रही है. इस पर डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी भड़क गये व सिविल सर्जन को आदेश दिया कि गलत नंबर देने वाले मरीजों को तत्काल होम आइसोलेशन से हटा कर उन्हें भूपेश गुप्ता इंटर कॉलेज में बनाये गये आइसोलेशन सेंटर व ट्रीटमेंट सेंटर में रखा जाये. साथ ही डीएम ने गलत नंबर देने वाले को चिह्नित करते हुए उन्हें से जवाब तलब करने व संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर महामारी एक्ट के तहत उन पर कार्रवाई की बात कही. डीएम ने कहा कि अब कोई भी कोरोना मरीज मिलता है, तो जिला प्रशासन द्वारा भूपेश गुप्ता इंटर कॉलेज पर बनाये गये आइसोलेशन व ट्रीटमेंट सेंटर पर कोविड-19 का स्वास्थ्य जांच की जायेगी. स्वास्थ्य जांच के उपरांत यह निर्णय लिया जायेगा कि मरीज की स्वास्थ्य की स्थिति कैसी है. स्वास्थ्य की स्थिति पर व उसके आवासन पर गहन विचार करते हुए उसे मरीज को होम आइसोलेशन की सुविधा दी जायेगी.

जिलास्तरीय रैपिड रिस्पांस टीम का गठन

जिले में बढ़ते लगातार मरीजों को ध्यान में रखते हुए इससे हो रही उत्पन्न तमाम समस्याओं को निष्पादन करने के लिए डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी द्वारा जिला रैपिड रिस्पांस टीम का गठन किया. साथ ही डीएम ने कहा कि इस टीम द्वारा प्रत्येक सप्ताह तीन दिन यानी सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को एक बैठक आयोजित होगी. बैठक के दौरान जिले में कोविड-19 से जुड़े तमाम मामलों पर गहन विचार-विमर्श होगा व समीक्षा होगी. समीक्षा के दौरान आयी समस्याओं पर तत्काल निर्णय लिया जायेगा. बैठक में डीडीसी केपी गुप्ता, डीआरडीए अजय तिवारी, जिला आपूर्ति पदाधिकारी प्रभात कुमार झा, एसडीएम जनमेजय शुक्ला, वरीय उप समाहर्ता प्रमोद कुमार सहित जिले के कई वरीय अधिकारी मौजूद थे.

जिला अस्पताल को मिलेगी तीन वेंटिलेटर मशीन

भभुआ नगर. कोविड-19 की रोकथाम को लेकर सरकार गंभीर है. लोगों को अस्पताल में बेहतर से बेहतर सुविधा मिले, इसको लेकर नयी-नयी योजना बना रही है. इसी कड़ी में कोराना संक्रमण में हो रही वृद्धि के कारण मरीजों को सहायता मुहैया कराने के मद्देनजर राज्य के सभी अस्पतालों व मेडिकल कॉलेज में पर्याप्त वेंटिलेटर लगाने का निर्णय लिया गया है. इससे कोरोना मरीजों को अस्पताल में इलाज के दौरान परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा. राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने इसको लेकर पत्र जारी किया है व इसे सुनिश्चित कराने की जिम्मेदारी बीएमएसआइसीएल के निदेशक को सौंपी है. पत्र के मुताबिक भारत सरकार से प्राप्त 264 वेंटिलेटर्स को आवश्यकता अनुसार राज्य के सभी अस्पतालों व मेडिकल कॉलेज में वितरण कराने को कहा गया है. इनमें जिला को तीन वेंटिलेटर मशीनों की आपूर्ति करनी है. वेंटिलेटर सांस संबंधित मरीजों के लिए बेहद जरूरी है. इसके सहारे गंभीर से गंभीर सांस से संबंधित मरीजों को बचाया जा सकता है. इस संबंध में बीएमएसआइसीएल से जल्द समन्वय स्थापित कर जिला अस्पताल में वेंटिलेटर मशीनों को लगाये जाने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी जायेगी. कोरोना के संक्रमितों के लिए यह काफी उपयोगी सिद्ध हो सकेगा.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें