29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बिहार में कैसे होगी सीट शेयरिंग, माले ने मांगी पांच सीटें, CPI ने तीन पर ठोका दावा, 17 से कम पर तैयार नहीं JDU

2019 में लोकसभा चुनाव का कार्यक्रम 10 मार्च को जारी कर दिया गया था. पिछले लोकसभा चुनाव से तुलना करें तो इसके लिए महज 60 दिन का समय शेष रह गया है. ऐसे में राजनीतिक दलों ने तैयारी शुरू कर दी है. लेकिन महागठबंधन में सीट शेयरिंग का मामला सुलझता नहीं दिख रहा है. सभी दल अपनी दावेदारी के साथ डटे हुए हैं

लोकसभा चुनाव 2024 की उलटी गिनती शुरू हो चुकी है. लेकिन महागठबंधन में सीट शेयरिंग का मामला सुलझता नहीं दिख रहा है. सीट बंटवारे को लेकर गठबंधन में तीन सप्ताह पहले शुरू हुई बातचीत. लेकिन अब तक सभी दल अपनी दावेदारी के साथ डटे हुए हैं. जदयू के नेता कई बार कह चुके हैं कि उनका 17 सीटों के दावों का आधार भी है. पिछले लोकसभा चुनाव में जदयू 16 सीटों पर जीती थी. वहीं वामपंथी दलों में भी अब सीट बंटवारे को लेकर खलबली मची हुई है. भाकपा माले की पोलित ब्यूरो की तीन सदस्यीय टीम ने इस संबंध में राजद नेता और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से मुलाकात कर अपनी पांच सीटों की मांग को रखा है. भाकपा ने भी प्रेस बयान जारी तीन सीटों पर दावा किया है. माकपा भी चार सीटों पर दावा करने की तैयारी में हैं, इसके लिए पार्टी के राज्य सचिव गुरुवार को तेजस्वी यादव से मुलाकात करेंगे.

माले ने तेजस्वी से मांगी पांच सीटें

भाकपा माले ने लोकसभा चुनाव में अपनी दावेदारी नौ से घटा कर पांच सीटों पर की है. पार्टी ने आरा, पाटलिपुत्रा, सीवान, काराकाट और जहानाबाद लोकसभा सीट पर अपनी उम्मीदवारी पेश की है. इस संबंध में भाकपा माले ने तेजस्वी यादव से मुलाकात कर कहा कि भाजपा के खिलाफ इंडिया गठबंधन को वैचारिक और आंदोलनात्मक धार देने के लिए पार्टी का सीट शेयरिंग में उचित भागीदारी होनी चाहिए.

भाकपा माले ने यह भी कहा कि जदयू नेताओं के गैर जरूरी वक्तव्यों से भ्रम की स्थिति बन रही है. जदयू के नेताओं को ऐसे वक्तव्यों से परहेज करना चाहिए, जिससे इंडिया गठबंधन कमजोर होती दिख रही हो. माले ने राज्य में इंडिया गठबंधन की जल्द से जल्द बैठक की मांग की. कहा कि सामूहिक और पार्टी टू पार्टी बैठक के जरिए सीट शेयरिंग के मसले को जल्द हल कर लिया जाना चाहिए.

बेगूसराय, बांका और मधुबनी में सीपीआइ उतारेगी अपना उम्मीदवार

इधर, भाकपा राज्य सचिव रामनरेश पांडे ने बुधवार को प्रेस बयान जारी कर बताया कि लोकसभा चुनाव में भाकपा राज्य के बेगूसराय, बांका और मधुबनी सीट पर अपना उम्मीदवार उतारेगी. उन्होंने बताया कि पार्टी की राज्य सचिवमंडल की विशेष बैठक के बाद यह निर्णय लिया गया. रामनरेश पांडेय ने कहा कि सचिव मंडल की बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव डी राजा ने हिस्सा लिया और उनके निर्देशन के बाद यह फैसला लिया गया है. इस संबंध में बैठक के बाद डी राजा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव से मुलाकात कर उम्मीदवार उतारने की जानकारी दे दी है.

रामनरेश पांडेय ने कहा है कि पार्टी की राज्य इकाई ने लगभग दर्जन भर सीटों पर चुनाव लड़ने के निर्णय पर दोबारा से विचार किया और तीन सीटों पर उम्मीदवार देने का फैसला लिया. पार्टी ने महागठबंधन के सभी घटक दलों से अपील किया है कि समावेशी दृष्टिकोण अपनाते हुए सम्मानजनक समझौते का मार्ग प्रशस्त करें और भरोसे का माहौल बिना समय गंवाये पैदा करें.

Also Read: लोकसभा चुनाव 2024: देश के जनादेश के लिए बिहार में बिछी सियासी बिसात, जानें क्या होंगे चुनावी मुद्दे

उपमुख्यमंत्री से मिलेंगे माकपा राज्य सचिव, चार सीटों पर करेंगे दावेदारी

माकपा राज्य सचिव ललन चौधरी ने कहा कि गुरुवार को उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से मुलाकात होगी. उन्होंने कहा कि खगड़िया, उजियारपुर, समस्तीपुर और महाराजगंज लोकसभा सीट की मांग करेंगे और लिखित पत्र देंगे. इन सीटों पर उम्मीदवार देने की बात पूर्व में भी पार्टी के राष्ट्रीय नेता से राजद-जदयू से हो चुकी है.

Also Read: लोकसभा चुनाव 2024: बिहार में इन सीटों पर मुकाबला होगा तगड़ा, बदले समीकरण में होगी सीट बचाने की चुनौती

जदयू के 17 सीटों का है आधार : अशोक चौधरी

भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने कहा है कि ‘इंडिया’ गठबंधन में जदयू के 17 सीटों के दावों का आधार भी है. पिछले लोकसभा चुनाव में जदयू 16 सीटों पर जीती थी. कुल 17 सीट पर हमलोग लड़े थे. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास बड़ा वोट बैंक है. एक बड़ा चेहरा हमलोगों के पास है. नीतीश कुमार जिस भी गठबंधन में रहे हैं, उसका पलड़ा भारी रहा है.

एक सवाल के जवाब में अशोक चौधरी ने कहा कि पांच राज्यों में हुए चुनाव में कांग्रेस पार्टी इंडिया गठबंधन के दलों को साथ लेकर प्रचार-प्रसार करने में चूक गई. हम लोगों को उम्मीद थी कि वह अच्छा प्रदर्शन करेगी, पर नहीं हो सका. सीट बंटवारे पर उन्होंने कहा कि जिस पार्टी का देश में बड़ा प्रभाव रहता है, बड़ी जिम्मेदारी होती है, उसे त्याग भी करना पड़ता है.

Also Read: BJP का कोई कार्यकर्ता 2025 में बनेगा बिहार का सीएम, लोकसभा में 40 सीटें जीतेगी NDA, सम्राट चौधरी का बड़ा बयान

इंडिया गठबंधन में सीट का बंटवारा होने पर दी जायेगी जानकारी: ललन सिंह

जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सह मुंगेर के सांसद राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा है कि इंडिया गठबंधन में सीट का बंटवारा होने पर आप लोगों को बता दिया जायेगा. उन्होंने कहा कि पहले से इस बारे में आकलन करने का कोई मतलब नहीं है.

Also Read: Lok Sabha Election 2024: ये भोजपुरी सुपरस्टार लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव, लिस्ट में पवन सिंह का नाम शामिल

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें