1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar politics upendra kushwaha became cm nitish kumar younger brother again after 8 years rlsp jdu merger nitish kumar bihar news upl

Bihar Politics: 8 साल बाद फिर से सीएम नीतीश के छोटे भाई बने उपेंद्र कुशवाहा, RLSP का JDU में विलय का ऐलान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
राष्ट्रीय परिषद की बैठक के बाद प्रेस वार्ता करते हुए कुशवाहा
राष्ट्रीय परिषद की बैठक के बाद प्रेस वार्ता करते हुए कुशवाहा
prabhat khabar

Bihar Politics: बिहार की सियासत में चला आ रहा लंबा इंतजार रविवार को खत्म हो गया. रालोसपा (RLSP) के जदयू (JDU) में विलय (RLSP JDU Merger) का आधिकारिक ऐलान हो गया. इससे पहले रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish kumar) को अपना बड़ा भाई बताया. राष्ट्रीय परिषद की बैठक के बाद प्रेस वार्ता करते हुए कुशवाहा ने कहा कि हमारे पास सामाजिक और राजनीतिक संघर्ष के लिए इसके अलावा और कोई विकल्प नहीं बचा था.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही मेरा भविष्य तय करेंगे कि आगे मेरा क्यो रोल रहेगा. वो मुझे और कार्यकर्ताओं को जो भी काम देंगे उसे करेंगे. कहा कि मेरे बड़े भाई नीतीश पहले से ही मजबूत है. मेरे इस फैसले से बिहार और मजबूत हुआ. विधानसभा चुनाव में जनता ने फैसला जो दिया वह समान विचार के लोंगों के एक मंच पर आने के लिए है. कुशवाहा ने कहा कि कहा कि 2 दिनों तक हुई बैठक में पार्टी के सभी नेताओं ने मुझे फैसले के लिए अधिकृत किया था.

काफी सोच समझ कर मैंने यह तय किया है कि जनता दल यूनाइटेड के साथ अपनी पार्टी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी का विलय कर दिया जाए. इससे ना केवल हमारा संघर्ष मजबूत होगा बल्कि बिहार की राजनीति में हम और ज्यादा सशक्त बनेंगे.

कुशवाहा ने कहा कि राष्ट्र और राज्य के हित में बिहार में समान विचारधारा वाले लोगों को एक साथ आना चाहिए. यह वर्तमान राजनीतिक स्थिति की मांग है. इसलिए, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने नीतीश कुमार के नेतृत्व में जद (यू) के साथ विलय का फैसला किया है. अब हम उनके साथ खड़े हैं.

पत्रकारों के सवाल पर कुशवाहा ने कहा कि बिहार का जनादेश कहता है कि समान विचारधारा वाले लोग एक साथ आएं. अभी वो और रालसोपा कार्यकर्ता जदयू कार्यालय जा रहे हैं. मिलन कार्यक्रम में वो जदयू की सदस्यता ग्रहण करेंगे. जदयू कार्यालय में भी वरिष्ठ नेता जुटने लगे हैं.

Posted By: Utpal Kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें