1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar hooch tragedy nawada tragedy total 12 suspicious death in nawada bihar after holi liquor ban in bihar upl

Bihar Hooch Tragedy: होली के बाद नवादा में तांडव, अब तक 13 की गयी जान, वायरल वीडियो पर हरकत में प्रशासन

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
होली के उत्साह देखते ही देखते फैला मौत का तांडव, नवादा में अबतक 12 की गयी जान
होली के उत्साह देखते ही देखते फैला मौत का तांडव, नवादा में अबतक 12 की गयी जान
Prabhat khabar

Bihar Hooch Tragedy: होली पर्व का उत्साह अभी ठीक से खत्म भी नहीं हुआ था कि बिहार के नवादा जिले में मौत का तांडव शुरू हो गया. होली पर्व के अगले दिन से लगातार नगर थाना क्षेत्र के खरीदी बिगहा, गोंदापुर व बुधौल गांव में पहले तो नौ लोगों की संदेहास्पद मौत हुई. उसके बाद गुरुवार को भी 4 लोगों (कुल 13) ने दम तोड़ दिया. कई बीमार लोगों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है. लगातार हो रही मौत के पीछे नशा पान को माना जा रहा है.

पहले दिन तक प्रशासन की तरफ से इसे विभिन्न रोगों से मौत होने की बात कही गयी. परंतु गुरुवार को जब चिकित्सकों ने मरीजों के पर्ची पर साफ लिख दिया कि अल्कोहल के सेवन से लोग बीमार हुए व मौतें हुई, तब प्रशासनिक अधिकारी भी दबी जुबान से मौत की बातें स्वीकारने लगे हैं. हालांकि, अभी भी खुल कर बात को सामने नहीं रखी जा रही है. इस घटना से पूरे जिले में दहशत है. सदर अस्पताल में घायलों से बातचीत के दौरान भी यह साफ हो रहा है कि उसने नशा पान किया और बीमार होना शुरू हो गये.

वायरल वीडियो की पहल पर बुधौल गांव से एक मृतक का शव जब्त कर पोस्टर्माटम कराया गया. वहीं, दूसरी ओर पटना में एक मौत होने पर उसके शव को एनएमसीएच में पोस्टमार्टम कराया गया है. प्रशासन किसी भी नतीजे पर आने से पहले पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है. सदर अस्पताल में हुई पोस्टमार्टम के बाद मृतक के विसरा को भी सुरक्षित रख कर विधि विज्ञान प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजा जायेगा, ताकि इस मामले से पूरी तरह पर्दा उठ सके.

Nawada Tragedy: दो लोग गंवा चुके हैं आंखों की रोशनी

जहरीली शराब ने दो लोगों को उसके जिंदगी से सदा के लिए आंखों की रोशनी छीन लिया है. जिसमें खरीदी बिगहा निवासी चमारी चैधरी व बुधौल निवासी विपिन कुमार की आंखों की रोशनी जा चुकी है. विपिन कुमार अभी भी सदर अस्पताल में भर्ती है. जहां सदर एसडीओ ने स्थिति नाजुक देख सिविल सर्जन डाॅ अखिलेश कुमार मोहन को उसे पटना भेज कर बेहतर इलाज कराने को कहा है.

Nawada Tragedy: सदर अस्पताल में बीमारों का चल रहा इलाज

सदर अस्पताल में जहरीली शराब से बीमार हुए लोगों में कई लोगों को प्रशासनिक पहल पर सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जिसमें बुधौल गायत्री नगर के नप सफाई कर्मी महेश रविदास, दीन दयाल मिश्रा, बिहारशरीफ मानपुर थाना क्षेत्र के तेतरामा गांव निवासी कारू चौधरी, बुधौल के शवकुमार मिश्रा व अखिलेश मिस्त्री उर्फ चामो का इलाज चल रहा है. ये लोग खतरे से बाहर बताये जा रहे हैं.

Nawada Tragedy: गांवों में बीमार की तलाश में जुटा प्रशासन

सदर एसडीओ उमेश कुमार भारती, सदर एसडीपीओ उपेंद्र प्रसाद, सदर बीडीओ कुमार शैलेंद्र तथा बीडीओ शिवशंकर राय सहित कई अधिकारी घटना वाले गांवों का दौरा कर लोगों को इलाज कराने के लिए प्रोत्साहित करते रहे.

सदर एसडीओ उमेश कुमार भारती ने बताया कि ध्वनि विस्तारक यंत्र से उन सभी गांवों में जो भी लोग किसी भी कारण से बीमार हैं, उन्हें इलाज कराने का आग्रह किया गया है, ताकि आगे किसी का इलाज के अभाव में मौत नहीं हो सके. वहीं सदर अस्पताल में भी घायलों का पूरी तरह से प्रशासनिक अधिकारी माॅनीटरिंग करने में जुटे हैं. हर संभव इलाज पूरी तरह से कराने का प्रयास किया जा रहा है.

Posted By: Utpal Kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें