1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. sultanganj took to the streets to say no to drug and smiling sultanganj resolved to de addiction ksl

Awareness Rally: नशा को 'ना' कहने के लिए सड़कों पर उतरा 'सुलतानगंज', लोगों को जागरूक करने का लिया संकल्प

प्रभात खबर की मुहिम ''नशा को ना'' कहने के लिए बुधवार की सुबह सड़कों पर पूरा 'सुलतानगंज' उतर आया. जागरूकता रैली में लोगों ने दूसरों को जागरूक करने का संकल्प लिया.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Awareness rally: नशामुक्ति के खिलाफ प्रभात खबर की जागरूकता पदयात्रा में शामिल सुलतानगंज वासी.
Awareness rally: नशामुक्ति के खिलाफ प्रभात खबर की जागरूकता पदयात्रा में शामिल सुलतानगंज वासी.
प्रभात खबर

Awareness rally: प्रभात खबर की मुहिम ''नशा को ना'' कहने और ''मुस्कुराता सुलतानगंज'' की चाह रखनेवाले हजारों स्कूली छात्र-छात्राएं, बच्चे, युवा, बूढ़े, बुजुर्ग और महिलाएं बुधवार की सुबह बाबा अजगैबीनाथ मंदिर पहुंचे. नशा के खिलाफ जागरूकता पदयात्रा बाबा अजगैबीनाथ मंदिर से शुरू होकर कृष्णानंद स्टेडियम तक पहुंची. इसमें सुलतानगंज के स्कूलों, कॉलेज के एनसीसी के छात्र-छात्राएं, शहर के विभिन्न संगठनों और संस्थाओं से जुड़े लोगों के अलावा राजनीतिक दलों के लोगों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया.

बाबा अजगैबीनाथ मंदिर से कृष्णानंद स्टेडियम तक पहुंची पदयात्रा

नशे के खिलाफ जागरूकता रैली की शुरुआत अंतरराष्ट्रीय जूना अखाड़ा व अजगैबीनाथ मंदिर के महंत प्रेमानंद गिरि, स्थानीय विधायक प्रो ललित नारायण मंडल ने झंडा दिखा कर की. यह जागरूकता रैली गंगा तट पर स्थित बाबा अजगैबीनाथ मंदिर से चल कर सुलतानगंज मुख्य चौराहा होते हुए शहर का भ्रमण करते हुए रेलवे स्टेशन के नजदीक स्थित कृष्णानंद स्टेडियम तक पहुंची.

तेज धूप में उत्साहित छात्रों के नारों ने लोगों को घरों से निकाला, शहरवासियों ने बरसाये फूल

तेज धूप के बावजूद रैली में शामिल छात्र-छात्राओं का उत्साहित होकर नारे लगाना सभी शहरवासियों को आकर्षित कर रहा था. लोग अपने-अपने घरों से निकलकर दरवाजे, बालकनियों और सड़कों पर चले आये. जागरूकता रैली को पूरे शहर के लोगों का समर्थन मिला. शहरवासियों ने रैली में शामिल लोगों पर फूलों की बारिश की. शहर की विभिन्न संस्थाओं ने रैली में शामिल छात्र-छात्राओं समेत सभी लोगों के लिए जगह-जगह पर शीतल जल और शरबत की व्यवस्था की थी.

जागरूकता रैली में कई स्कूलों और कॉलेजों के छात्र हुए शामिल

पदयात्रा में सुलतानगंज के कृष्णनंद सूर्यमल इंटर विद्यालय, श्रीमती पार्वती देवी मुरारका बालिका उच्च विद्यालय, पारामाउंट स्कूल, नेशनल चिल्ड्रेन एकेडमी, एससीआर उच्च विद्यालय, डीएवी पब्लिक स्कूल, आदर्श मध्य विद्यालय, प्राथमिक विद्यालय कुशवाहा टोला, टेक्नो विजन इंटरनेशनल स्कूल, मुरारका कॉलेज, दिल्ली पब्लिक स्कूल, केएनएसएम इंटर स्कूल के छात्र-छात्राएं शामिल हुए.

जागरूकता रैली को मिला पूरे सुलतानगंज का समर्थन

नशे के खिलाफ जागरूकता पदयात्रा में पूरा सुलतानगंज बुधवार की सुबह सड़कों पर उतर आया. इस जागरूकता रैली में आमलोगों, प्रबुद्ध लोगों, सामाजिक संगठनों, राजनीतिक दलों, शासन-प्रशासन के साथ-साथ स्कूल-कॉलेज के विद्यार्थी शामिल हुए. इनके अलावा नगर विकास एवं आवास विभाग की स्वयं सहायता समूह की महिलाएं, नगर परिषद के कर्मी, जीविका दीदी, जनसंसद, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, लायंस क्लब ऑफ सुल्तानगंज, मारवाड़ी युवा मंच, सजग युवा सुल्तानगंज के लोगों के साथ-साथ दिपांशु डांस क्लासेस के युवा भी शामिल हुए.

तख्ती पर नारे लिख कर छात्र-छात्राओं ने किया जागरूक

प्रभात खबर की नशे के खिलाफ जागरूकता पदयात्रा में शामिल छात्र-छात्राओं ने तख्ती पर नारे लिख कर नशे के खिलाफ जागरूकता का संदेश दिया. छात्र-छात्राओं ने तख्ती पर ''नशा एक अभिशाप है सबको ये समझाएं-देश का भविष्य हैं युवा जीवन इनको बचाएं'', ''नशा छोड़ो, रिश्ता जोड़ो'', ''नशे की सबसे बड़ी मार-बर्बाद करे सुखी संपन्न परिवार'', ''नशे की लत-मौत की खत'', ''कुछ पल का नशा-सारी उम्र की सजा'', ''नशे की आदत-देगी बीमारियों को दावत'', ''नशा नाश का जड़ है भाई-घर-घर में आग लगाई'', ''अब महिलाएं जोश में-आओ शराबी होश में'', ''नशा मुक्ति से आयी खुशहाली-दूर होगी सबकी बदहाली'', ''नशा छोड़ो-खुशियां घर लाओ'', ''नशा छोड़ो-बोतल तोड़ो-घर को जोड़ो'' आदि नारे लिख कर सुलतानगंज को जागरूक किया.

कृष्णानंद स्टेडियम में हुई सभा, नशे के खिलाफ लिया संकल्प

बाबा अजगैबीनाथ मंदिर के पास से चली नशे के खिलाफ जागरूकता पदयात्रा कृष्णानंद स्टेडियम पहुंच कर पूरी हुई. यहां पहुंचने पर युवाओं, महिलाओं, प्रबुद्ध लोगों, सामाजिक संगठनों, राजनीतिक दलों, शासन-प्रशासन के लोगों ने एक व्यक्ति को नशा छुड़वाने का संकल्प लिया. वहीं, स्कूल-कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने एक सदस्य को ''नशे के लिए ना'' कहने यानी नशामुक्ति के लिए लोगों को जागरूक करने का संकल्प लिया.

नशामुक्ति से आयेगी परिवार में खुशहाली, मुस्कुरायेगा सुलतानगंज

वक्ताओं ने अपने विचार रखते हुए कहा कि नशामुक्ति से ही परिवार में सुख, समृद्धि व खुशहाली आयेगी. जागरूकता से ही नशा से किसी को मुक्त कराया जा सकता है. इसमें किसी सरकार, शासन-प्रशासन या कानून बनाने से लाभ नहीं होनेवाला. सामाजिक जागरूकता से ही नशे पर लगाम लगाना संभव हो सकेगा. नशामुक्ति से ही एक खुशहाल परिवार, अच्छा समाज और मुस्कुराता सुलतानगंज संभव है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें