1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. railway beware of flirting and rude behavior ksl

Railway: छेड़खानी और अशिष्ट व्यवहार करनेवाले हो जाएं सावधान, मेरी सहेली व मातंगिनी होनेवाली हैं सक्रिय

महिलाओं से छेड़खानी, अशिष्ट व्यवहार और तस्करी करनेवाले सावधान हो जाएं. पूर्वोत्तर रेलवे के मालदा डिवीजन में जल्द ही रेलवे सुरक्षा बल की महिला विंग मेरी सहेली और मातंगिनी सक्रिय होनेवाली है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Railway: सांकेतिक तस्वीर
Railway: सांकेतिक तस्वीर
फाइल फोटो

Railway: महिलाओं से छेड़खानी, अशिष्ट व्यवहार और तस्करी करनेवाले सावधान हो जाएं. पूर्वोत्तर रेलवे के मालदा डिवीजन में जल्द ही रेलवे सुरक्षा बल की महिला विंग मेरी सहेली और मातंगिनी सक्रिय होनेवाली है. जिन स्टेशनों से ट्रेनें खुलेंगी, वहां की टीमें उन ट्रेनों में सक्रिय होंगी.

इस संबंध में पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी एकलव्य चक्रवर्ती ने बताया कि अभी आसनसोल डिवीजन में टीमें सक्रिय हैं. जल्द ही मालदा डिवीजन के स्टेशनों से खुलनेवाली ट्रेनों में मेरी सहेली और मातंगिनी की टीमें सक्रिय होनेवाली हैं. हालांकि, अभी आसनसोल डिवीजन में मातंगिनी और मेरी सहेली की टीम सक्रिय हो गयी हैं.

भागलपुर के आरपीएफ के इंस्पेक्टर रणधीर कुमार ने बताया कि मेरी सहेली और मातंगिनी की टीमें गठित की जा चुकी हैं. ये टीमें खुलनेवाली ट्रेनों में काम कर रही हैं. मालूम हो कि पूर्वोत्तर रेलवे के आसनसोल डिवीजन में मेरी सहेली और मातंगिनी की टीमें सक्रिय होते हुए छेड़खानी, अशिष्ट व्यवहार करनेवालों से सख्ती से निबट रही हैं.

मेरी सहेली और मातंगिनी की टीमें अभी तक एक्सप्रेस ट्रेनों में कार्य कर रही हैं. अब लोकल ट्रेनों में भी इन टीमों को तैनात किया जा रहा है. ये टीमें महिलाओं की तस्करी करनेवालों से भी कड़ाई से निबटेंगी. महिलाओं की तस्करी करनेवालों की सूचना मिलते ही टीमें जहां पीड़िता को बचाती हैं, वहीं तस्करों को गिरफ्तार कर जेल भेजने का काम करती हैं.

अपराध की प्रकृति को लेकर सुरक्षा अधिकारी बताते हैं कि पुरुष यात्री को महिलाओं की तस्वीर लेते, छेड़खानी करते या महिलाओं के पास बैठ कर अशिष्ट व्यवहार करते देखा गया है. ये टीमें धारा 162 के तहत मामला दर्ज करती है. इसमें अधिकतम छह माह की सजा और जुर्माना का प्रावधान है.

मालूम हो कि आसनसोल डिवीजन की लोकल ट्रेनों में मेरी सहेली और मातंगिनी की टीमों ने काम करना शुरू कर दिया है. पूर्व रेलवे के सुरक्षा आयुक्त आईजी परमशिब ने आरपीएफ के काम की तारीफ करते हुए कहा है कि सभी लोकल ट्रेनों में महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए इन बलों का उपयोग किया जाना चाहिए.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें