1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. drowning five including two sisters and two brothers died due to drowning in kosi ganga and mahananda ksl

Bihar: कोसी, गंगा और महानंदा में डूबने से दो बहनों और दो भाइयों समेत पांच लोगों की मौत

सुपौल में कोसी, कहलगांव में गंगा और पूर्णिया में महानंदा नदी में डूबने से दो बहनों और दो भाइयों समेत पांच लोगों की मौत हो गयी.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Bihar News: सांकेतिक तस्वीर
Bihar News: सांकेतिक तस्वीर
file pic

Bihar News: सुपौल में कोसी, कहलगांव में गंगा और पूर्णिया में महानंदा नदी में डूबने से दो बहनों और दो भाइयों समेत पांच लोगों की मौत हो गयी. बताया जाता है कि सुपौल में कोसी नदी में नहाने के दौरान दो चचेरे भाइयों की डूबने से मौत हो गयी. वहीं, कहलगांव में गंगा नदी में स्नान करने के दौरान दो सगी बहनें डूब गयीं. जबकि, पूर्णिया में महानंदा नदी में डूबने से 25 वर्षीय मो रीजान की मौत हो गयी.

सुपौल में दो चचेरे भाइयों की डूबने से मौत

सुपौल जिले के सदर थाना क्षेत्र की बसबिट्टी पंचायत के भुराही वार्ड-11 निवासी पिंटू राम का 10 वर्षीय पुत्र करण कुमार और मोती राम का आठ वर्षीय पुत्र मन्नु कुमार महिलाओं के साथ कोसी नदी में पूजा-अर्चना के लिए गया था. वहां स्नान के दौराना करण और मन्नु गहरे पानी में चले गये. आधे घंटे बाद भी जब दोनों बालक का कुछ पता नहीं चला, तो आसपास के लोगों को घटना की जानकारी दी गयी. स्थानीय लोग सहित वहां से गुजर रहे मछुआरे ने घंटों मशक्कत के बाद दोनों बालक के शव को बरामद कर लिया.

मां को ढूंढ़ते हुए नदी किनारे पहुंचे थे बच्चे

करण व मन्नु दोनों चचेरे भाई थे. दोनों की मां घास काटने के लिए कोसी नदी के पार गयी थी. इस वजह से दोनों बालक भी अपनी मां को ढूंढ़ते हुए कोसी नदी के किनारे पहुंच गये. यहां कई महिलाएं रविवार को डोरा पर्व की समाप्ति के लिए कोसी नदी के किनारे पूजा-अर्चना कर रही थी. वहीं, कई सारे बच्चे स्नान भी कर रहे थे. अन्य बच्चों को स्नान करते देख दोनों बच्चे कोसी नदी में नहाने लगे, तभी हादसा हो गया.

मां-बाप का इकलौता पुत्र था करण

मृत बालक करण कुमार पिंटू राम का इकलौता पुत्र था. करण की मां बार-बार दहाड़ मार कर अपने बेटे के शव से लिपट कर कह रही थी ''हौ बाप, आब बेटा केकरा कहबे, बुझ गेलेय घर के चिराग''. घटना को लेकर थानाध्यक्ष मनोज कुमार महतो ने बताया कि पीड़ित परिजन द्वारा दिये गये फर्द बयान के आधार पर शव को कब्जे में लेने के बाद पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया. पुलिस अग्रेतर कार्रवाई में जुट गयी है.

दोनों बहनों को तलाश नहीं सके गोताखोर

कहलगांव शहर के पास राजघाट के बगल में शांति धाम घाट (सीढ़ी घाट) पर रविवार की शाम स्नान करने के दौरान दो सगी बहनें डूब गयीं. साथ आयी मां के रोने-चीखने पर भीड़ जुट गयी. स्थानीय गोताखोरों से दोनों बहनों की तलाश शुरू करायी गयी, लेकिन कहीं पता नहीं चला. सूचना मिलने पर सीओ रामावतार यादव घाट पर पहुंचे. घटना के संबध में बताया जाता है कि खुशबू देवी सात वर्षीया बेटी किरण कुमारी और तीन वर्षीया छोटी के साथ कपड़े धोने और स्नान करने गंगा घाट पर गयी थी.

स्नान करने के दौरान पैर फिसलने से गहरे पानी में चली गयीं बहनें

स्नान करने के दौरान पैर फिसलने से दोनों बहनें गहरे पानी में चली गयीं और डूब गयीं. दोनों बेटियों के डूबने से बदहवास खुशबू देवी का रो-रोकर बुरा हाल था. बच्चियों के पिता रोहित सिंह बाहर काम करते हैं. खुशबू का परिवार मूल रूप से मुंगेर जिले के चांदपुर के रहनेवा हैं. कहलगांव में राजघाट के पास शांति बाबा कॉलोनी में किराये के मकान में रहते हैं.

पूर्णिया में महानंदा में डूबने से युवक की मौत

पूर्णिया के बैसा प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत कंफलिया पंचायत के दक्षिण टोला अभयपुर गांव निवासी 25 वर्षीय मो रीजान की महानंदा नदी में डुबने से मौत हो गई. युवक अपने अन्य साथियों के साथ महानंदा नदी में नहाने के दौरान कुश्ती खेल रहा था. खेलने के दौरान वह गहरे पानी में चला गया, जिससे उसकी मृत्यु हो गयी. वहीं, घटना की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें