26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

प्रसव कराने आयी महिला की ऑपरेशन के दौरान हुई मौत, लोगों ने किया हंगामा

बीती रात धनहा थाना क्षेत्र के बांसी धनहा मुख्य मार्ग में स्थित आरएस नामक एक निजी अस्पताल में गत दिवस मंगलवार की रात्रि ऑपरेशन के दौरान एक प्रसव कराने आई महिला उषा देवी उम्र 35 वर्ष की मौत हो गई है.

बगहा/मधुबनी. बीती रात धनहा थाना क्षेत्र के बांसी धनहा मुख्य मार्ग में स्थित आरएस नामक एक निजी अस्पताल में गत दिवस मंगलवार की रात्रि ऑपरेशन के दौरान एक प्रसव कराने आई महिला उषा देवी उम्र 35 वर्ष की मौत हो गई है. वहीं महिला की मौत के बाद अस्पताल के डॉक्टर समेत सभी कर्मी फरार हो गए. इधर घटना की खबर सुनते ही स्वजनों समेत स्थानीय लोगों ने अस्पताल को घेर लिया और जमकर हंगामा शुरू कर दिया. घटना की सूचना पर पुलिस बलों के साथ पहुंचे धनहा थानाध्यक्ष धर्मवीर भारती ने आक्रोशित परिजनों तथा स्थानीय लोगों को समझा -बुझाकर शांत कराया. बाबत थानाध्यक्ष धर्मवीर भारती ने बताया कि इस घटना में कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए बगहा अनुमंडलीय अस्पताल भेजा गया है तथा पुलिस इस घटना की जांच में जुट गई है. घटना में मृत महिला की पहचान धनहा थाना क्षेत्र के ग्राम तमकुहा निवासी लाल बहादुर चौहान की 35 वर्षीय पुत्री उषा देवी के रूप में हुई है. जो अपने मायके में रह रही थी. वहीं मृत महिला का पति लालबाबू चौहान लुधियाना पंजाब में मजदूरी का काम करता है. बताया जाता है की नवजात सुरक्षित बताया जा रहा है. मृतक के पिता के आवेदन पर प्राथमिकी हुई दर्ज उन्होंने बताया कि थाना अध्यक्ष भारती ने बताया कि मृतक महिला के पिता द्वारा आवेदन दिया गया है. आवेदन के आलोक में कांड संख्या 129/24 दर्ज कर अग्रेतर कार्यवाही जारी है.आवेदन के अनुसार आवेदन डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाया है. आवेदन करता सीताराम चौहान के अनुसार बीती रात की घटना है. जिसमें स्वजनों द्वारा प्रसव पीड़ित महिला को 11:00 बजे दिन में दर्द के दौरान आरएस हॉस्पिटल लाया गया. जिसमें डॉक्टर द्वारा जांचोंप्रांत यह बताया गया की महिला का प्रसव आज ही होना सुनिश्चित है एडमिट करना पड़ेगा .परंतु दो-तीन घंटा बीत जाने के बाद घर वालों ने जब यह कहा कि आज अगर नहीं हो रहा है तो छोड़िए हम कहीं और दिखाने ले जाएं .तो डॉक्टर ने यह कहते हुए कहा के महाराज आप क्यों घबराए हैं सब कुशल होगा. यहीं पर हो जाएगा .ठीक आधे घंटे बाद महिला कर्मियों ने आकर स्वजनो को बताया कि दर्द कम नहीं हो रहा है. अगर यहां नहीं होता है तो हम लोगों को पडरौना जाने दिया जाए. 25 हजार रुपये में तय हुआ ऑपरेशन इस पर डॉ. मुनीर आलम उर्फ समीर ने बताया कि आप लोग घबराइए नहीं यहीं पर ऑपरेशन से बच्चा पैदा हो जाएगा. इसके बाद ₹25000 की मांग की गई. स्वजनों ने 22 हजार रुपये खोजबीन कर जमा भी कर दिया. जिसके बाद ऑपरेशन हुआ ऑपरेशन के दौरान महिला की हालत बिगड़ती देख धीरे-धीरे जो भी चिकित्सा कर्मी थे हॉस्पिटल के वह एक-एक कर निकलने लगे. इसके काफी देर बाद सज्जनों ने मरीज को देखा तो ऑक्सीजन तो लगा था पर सांस निकल चुका था. इस रूप को देखते हुए स्वजनों ने चीख पुकार के बाद डॉक्टर वहां से पूरा टीम के साथ फरार हो गए. ग्रामीणों ने अस्पताल का किया घेराव व हंगामा इस घटना की सनसनी फ़ैल गई .जिसके बाद अड़ोस- पड़ोस व नजदीक की गांव से कुछ गांव लोग में महिला को देखने व नौजवानों द्वारा अस्पताल पर घेराबंदी शुरू की गई. जिसके उपरांत 112 को सूचित किया गया. जिसके बाद थाना अध्यक्ष को भी बुलाया गया. जिसमें थाना भी को भी मौके से बुलाया गया. जिसके बाद बहुत देर शोर शराबा के बाद थाना अध्यक्ष के मध्यस्थता के बाद शांत किया गया. जिसके बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बगहा भेजा दिया गया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें