1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bengal election bjp tmc khela hobe assam election bihar bjp leaders main role in hindi voters mission bengal upl

Bengal Election: बंगाल और असम में BJP की सरकार बनाने की जिम्मेवारी बिहार के नेताओं के कंधे पर, हिंदी भाषी वोटरों पर नजर

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
भाजपा ने पश्चिम बंगाल और असम के  चुनाव में पूरी ताकत झोंक दी है.
भाजपा ने पश्चिम बंगाल और असम के चुनाव में पूरी ताकत झोंक दी है.
Twitter

Bengal Election: भाजपा ने पश्चिम बंगाल (Bengal Chunav)और असम के विधानसभा चुनाव (Assam Election) में पूरी ताकत झोंक दी है. यहां प्रचार-प्रसार करने के साथ ही चुनावी कार्यों को सुचारु ढंग से संपन्न कराने के लिए बिहार भाजपा (Bihar BJP) इकाई से भी बड़ी संख्या में पार्टी पदाधिकारी और कार्यकर्ता दोनों राज्यों में भेजे गये हैं.

पश्चिम बंगाल के लिए 150 और असम के लिए 50 से ज्यादा कार्यकर्ता गये हुए हैं. पश्चिम बंगाल के उत्तरी भाग में बिहार के कार्यकर्ताओं की खासतौर से तैनाती की गयी है. इसमें नंदीग्राम, दार्जिलिंग, मालदा, मुर्सीदाबाद समेत अन्य जिले शामिल हैं. इन जिलों में बिहार के कार्यकर्ताओं को बड़े स्तर पर जनसंपर्क अभियान और पूरी रणनीति तैयार करने में जुटे हुए हैं.

बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन, प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल, संजय सिंह टाईगर, राधामोहन शर्मा समेत कुछ अन्य प्रदेश पदाधिकारी लगातार दोनों राज्यों में प्रवास करके चुनावी कार्य संभालने में जुटे हुए हैं. इसके अलावा यहां के अन्य प्रमुख लोग भी निरंतर दोनों राज्य में जाकर चुनाव प्रचार में जुटे हैं.

इन्होंने पश्चिम बंगाल और असम के कई विधानसभाओं में जाकर जन सभाएं की हैं. इसमें केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय, सांसद सुशील कुमार मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन शामिल हैं. इसके अलावा आने वाले दिनों में यहां के अन्य कई नेताओं का भी दोनों राज्यों का प्रवास कार्यक्रम निर्धारित है.

Bengal Chunav: कई सीटों पर निर्णायक भूमिका में हिंदी भाषी वोटर

बांग्ला भाषा बहुल राज्य बंगाल में कई ऐसे इलाके हैं, हिंदी भाषा-भाषी अहम भूमिका निभाते हैं. जानकारी के मुताबिक, यहां की कुल आबादी में 1.5 करोड़ हिंदी भाषी हैं. 70-80 विधानसभी सीटें ऐसी हैं जहां ये हिंदी भाषी निर्णायक भूमिका में हैं. कई विधानसभा क्षेत्रों में हिंदी भाषियों की बड़ी जनसंख्या के मद्देनजर राजनीतिक दल इन वोटरों को लुभाने के लिए जुटे हुए हैं.

Posted By: utpal Kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें